नई ई-कॉमर्स पॉलिसी पर काम कर रही है सरकार, बन सकता है रेगुलेटर

सेल के लिए ई-कामर्स कंपनियों के कर्मचारी तैयारी करते हुए (फोटो- एएफपी)

सेल के लिए ई-कामर्स कंपनियों के कर्मचारी तैयारी करते हुए (फोटो- एएफपी)

वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय के अंतर्गत आने वाले डीपीआईआईटी (DPIIT) के अधिकारी ने कहा कि पॉलिसी बनाते समय जिन अन्य मुद्दों पर ध्यान देने की आवश्यकता है, वे नकली प्रोडक्ट, पैकेजिंग और मूल स्थान से संबंधित हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय (Commerce and Industry Ministry) एक नई ई-कॉमर्स पॉलिसी (E-Commerce) पर काम कर रहा है, जिसमें डेटा और उपभोक्ता अधिकारों से संबंधित कई विशिष्टताएं होंगी. एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी.

वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय के अंतर्गत आने वाले डिपार्टमेंट फॉर प्रमोशन ऑफ इंडस्ट्री एंड इंटरनल ट्रेड यानी डीपीआईआईटी (Department for Promotion of Industry and Internal Trade) के अधिकारी ने कहा कि पॉलिसी बनाते समय जिन अन्य मुद्दों पर ध्यान देने की आवश्यकता है, वे नकली प्रोडक्ट, पैकेजिंग और मूल स्थान से संबंधित हैं.

ये भी पढ़ें- 300 करोड़ से ज्यादा ईमेल और पासवर्ड हुए लीक, देखें कहीं आपके अकाउंट में भी तो हैकर्स ने नहीं लगाई सेंध?

 ई-कॉमर्स क्षेत्र के लिए बन सकता है एक रेगुलेटर
अधिकारी ने कहा कि यदि आवश्यकता महसूस हुई तो ई-कॉमर्स क्षेत्र के लिए एक रेगुलेटर बनाया जा सकता है. उन्होंने कहा, ''एक ई-कॉमर्स कंपनी के माध्यम से बेचे जाने वाले नकली प्रोडक्ट्स के लिए किसे जिम्मेदार होना चाहिए? डेटा एक महत्वपूर्ण मुद्दा है. डेटा से संबंधित मुद्दों पर संसद के समक्ष पेश डेटा विधेयक में संपूर्ण उपाय होंगे. यही कारण है कि हम इसे (ई-कॉमर्स पॉलिसी) को अंतिम रूप देने की हड़बड़ी में नहीं हैं. डेटा विधेयक का अंतिम परिणाम जो भी होगा, वह डेटा के क्षेत्र में काम करने वाली सभी कंपनियों पर लागू होगा.''

ये भी पढ़ें- जिस बैंक में है पेंशन अकाउंट उसी में कराएं फिक्स्ड डिपॉजिट, मिलेगा इस स्कीम का फायदा

अधिकारी ने कहा कि ई-कॉमर्स क्षेत्र केवल एफडीआई के बारे में नहीं है, क्योंकि बड़ी संख्या में ई-कॉमर्स कंपनियां एफडीआई से बाहर हैं. उन्होंने कहा, ''हम निश्चित रूप से पॉलिसी पर काम कर रहे हैं.''



उल्लेखनीय है कि 2019 में सरकार ने राष्ट्रीय ई-वाणिज्य नीति का एक मसौदा जारी किया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज