डॉ. रेड्डीज लैब जल्‍द पेश करेगी त्‍वचा के कैंसर समेत इन बीमारियों की 4 नई दवाएं

देश की ड्रग मैन्‍युफैक्‍चरर कंपनी डॉ. रेड्डीज चार नई दवाओं को पेश करने की दिशा में बढ़ रही है.
देश की ड्रग मैन्‍युफैक्‍चरर कंपनी डॉ. रेड्डीज चार नई दवाओं को पेश करने की दिशा में बढ़ रही है.

डॉ. रेड्डीज जैब ने 31 मार्च 2020 को समाप्‍त हुए वित्‍त वर्ष के दौरान 795 करोड़ रुपये की कमाई की है. इससे पिछले वित्‍त वर्ष के दौरान कंपनी को 475 करोड़ रुपये की आय हुई थी यानी वित्‍त वर्ष 2019-20 में कंपनी की कमाई में 67 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 24, 2020, 12:10 AM IST
  • Share this:
हैदराबाद. देश की फार्मास्‍युटिकल्‍स कंपनी डॉ. रेड्डीज लैबोरेटरी (Dr. Reddy's Laboratories) कैंसर के इलाज समेत 4 नई दवाइयों (New Drugs) को पेश करने के अंतिम चरण में पहुंच गई है. वहीं, कुछ दवा अभी शुरुआती चरण में हैं. कंपनी ने बताया कि ये नए उत्‍पाद बाल रोग उपचार (Pediatrics), त्‍वचा रोग (Dermatology) और कैंसर (Oncology) के इलाज से जुड़े हैं.

कंपनी इन बीमारियों के इलाज के लिए बना रही है दवाइयां
डॉ. रेड्डीज ने बताया कि नए उत्‍पादों में शामिल DFD-11(Xeglyze) 6 महीने या उससे ज्‍यादा उम्र के बच्‍चों के सिर में पैदा होने वाली जूं (Head Lice) के इलाज के लिए बनाई जा रही है. वहीं, PPC-06 (Tepilamide Fumarate) 18 साल या उससे ज्‍यादा उम्र के चकत्‍ते वाले सोरायसिस (Plaque Psoriasis) के इलाज के लिए पेश की जाएगी. इसके अलावा Compound E7777 त्‍वचा से संबंधित टी-सेल लिम्‍फोमा (T Cell Lymphoma) यानी त्‍वचा कैंसर के इलाज में कारगर होगी.

ये भी पढ़ें- Cyber Attack की चेतावनी के बाद टेलीकॉम कंपनियों ने बढ़ाई सतर्कता, जानें कैसे करें बचाव
चारों दवाओं का हो चुका है दूसरे चरण का क्‍लीनिक ट्रायल


कंपनी ने बताया कि DFD-29 (Minocycline) को पापुलोपस्टुलर रोसैसिया (Papulopustular Rosacea) के इलाज के लिए बनाया जा रहा है. अभी इन सभी दवाइयों को अनुमति हासिल करने के लिए अध्‍ययन जारी है. कंपनी अमेरिका के फूड एंड ड्रग एडमिनिस्‍ट्रेशन (US FDA) के समक्ष E7777 कंपाउंड के बायोलॉजिकल लाइसेंस के लिए 2021 में आवेदन करेगी. कंपनी ने बताया कि इसके अलावा 31 मार्च 2020 तक हमारे पास 4 ऐसे उत्‍पाद हैं, जिनका दूसरे चरण का क्‍लीनिकल ट्रायल पूरा हो चुका है.

ये भी पढ़ें- CIPLA ने पेश की कोरोना इलाज की सबसे कारगर दवा रेमडेसिवीर, इतनी होगी कीमत

डॉ. रेड्डीज की कमाई में हुई है 67 फीसदी की बढ़ोतरी
डॉ. रेड्डीज ने बताया कि इसके अलावा हमारे पास कई ऐसी दवा हैं, जो अभी शुरुआती चरण में हैं. कंपनी ने कहा कि ये दवाएं अभी बनाए जाने के दूसरे चरण में हैं. कंपनी ने 31 मार्च 2020 को समाप्‍त हुए वित्‍त वर्ष के दौरान अपने उत्‍पादों से 795 करोड़ रुपये का राजस्‍व हासलि किया. इससे पिछले वित्‍त वर्ष के दौरान कंपनी को 475 करोड़ रुपये की आय हुई थी. यानी वित्‍त वर्ष 2019-20 में कंपनी की कमाई में 67 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज