होम /न्यूज /व्यवसाय /डॉ रेड्डीज ने की बड़ी डील, स्विट्जरलैंड की कंपनी से कार्डियो दवा सिडमस का 463 करोड़ रुपए में करेगी अधिग्रहण

डॉ रेड्डीज ने की बड़ी डील, स्विट्जरलैंड की कंपनी से कार्डियो दवा सिडमस का 463 करोड़ रुपए में करेगी अधिग्रहण

 1 अप्रैल को जारी एक स्टेटमेंट में डॉ रेड्डीज ने कहा कि सिडमस ब्रांड के तहत बनने वाली दवा दिल के मरीजों के इलाज मे इस्तेमाल होती है.

1 अप्रैल को जारी एक स्टेटमेंट में डॉ रेड्डीज ने कहा कि सिडमस ब्रांड के तहत बनने वाली दवा दिल के मरीजों के इलाज मे इस्तेमाल होती है.

डॉ रेड्डीज ग्लोबल फार्मास्यूटिकल दिग्गज Novartis AG से उसके कार्डियोवास्कुलर ब्रांड सिडमस (Cidmus) का अधिग्रहण करेगी. अ ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली . भारतीय जनेरिक ड्रग मेकर Dr Reddy’s Laboratories ने एक और बड़ी डील की है. डॉ रेड्डीज ग्लोबल फार्मास्यूटिकल दिग्गज Novartis AG से उसके कार्डियोवास्कुलर ब्रांड सिडमस (Cidmus) का अधिग्रहण करेगी. यह डील 463 करोड़ रुपये में हुई है.

अभी एक हफ्ते पहले डॉ रेड्डीज ने इसी कंपनी के साथ एक और सौदा किया था. तब डॉ रेड्डीज ने स्विट्ज़रलैंड स्थित इस ग्लोबल हेल्थ केयर कंपनी के साथ उसकी जानमानी दवाओं के सेल्स और डिस्ट्रीब्यूशन के लिए एक करार किया था. इन दवाओं में वोवरन रेंज, कैल्शियम रेंज और मेथर्जिन जैसे दवाएं शामिल हैं.

कितना बड़ा मार्केट है सिडमस का
फरवरी 2022 में समाप्त 12 महीनों के दौरान भारत में सिडमस (Cidmus) का बाजार 136.4 करोड़ रुपये रहा. 1 अप्रैल को जारी एक स्टेटमेंट में डॉ रेड्डीज ने कहा कि सिडमस ब्रांड के तहत बनने वाली दवा दिल के मरीजों के इलाज मे इस्तेमाल होती है. यह वाल्सार्टन (Valsartan) और सैक्यूबिट्रिल (Sacubitril) का कम्पोजिशन है.

यह भी पढ़ें- महंगा हुआ इलाजः खांसी-बुखार, बीपी-डायबिटीज सहित 800 जरूरी दवाओं के बढ़ गए दाम, यहां चेक करें लिस्ट

दवा की पहुंच छोटे शहरों तक होगी 
डॉ रेड्डीज को Novartis AG के साथ हुए नए एग्रीमेंट के तहत भारत में सिडमस (Cidmus) ट्रेडमार्क का अधिकार मिल जाएगा. डॉ रेड्डीज ने यह भी कहा है कि देश भर में फैले उसके मार्केटिंग नेटवर्क के चलते इस दवा की पहुंच देश भर में होगी. मेट्रो के अलावा भारत के टियर 1 और टियर 2 शहरों तक यह दवा पहुंचेगी. इससे दिल के मरीजों को बड़ी राहत मिलेगी.

डील से कंपनी का कार्डियोवास्कुलर सेगमेंट और मजबूत होगा
डॉ रेड्डीज ने आगे कहा है कि Novartis AG से सिडमस के अधिग्रहण से कंपनी अपने उस लक्ष्य के काफी करीब पहुंच जाएगी. इस डील के बाद यह तय किया गया है कि कंपनी को भारत के फॉर्मास्यूटिकल मार्केट की टॉप 10 कार्डियक प्लेयर बनाया जाएगा. इस अधिग्रहण से क्रोनिक दवाओं के क्षेत्र में कंपनी की पैठ और मजबूत होगी.

सिडमस के अधिग्रहण से कंपनी का कार्डियोवास्कुलर सेगमेंट और मजबूत होगा. बता दें कि इस सेगमेंट में पहले से ही Stamlo,Stamlo Beta, Reclide-XR और Reclimet-XR जैसे ब्रांड शामिल हैं. ये भी बताते चलें कि पिछले कारोबारी दिन यानी शुक्रवार को एनएसई पर डॉ रेड्डीज के शेयर 16 रुपये यानी 0.37 फीसदी गिरकर 4279.45 रुपये पर बंद हुए थे.

Tags: Cardiac Arrest, Deals of the Day, Dr reddys lab, Pharma Companies, Pharma Industry

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें