Cryptocurrency की दुनिया में धमाकेदार एंट्री! लॉन्च होते ही इस Coin ने दिया 1000% से ज्यादा रिटर्न, जानें क्या है खास?

दुबई में होने की वजह से यह क्रिप्टोकरेंसी टिकाऊ रह सकता है क्योंकि दिरहम भी डॉलर के मुकाबले स्टेबल रहता है.

दुबई में होने की वजह से यह क्रिप्टोकरेंसी टिकाऊ रह सकता है क्योंकि दिरहम भी डॉलर के मुकाबले स्टेबल रहता है.

क्रिप्टोकरेंसी के लिए UAE सबसे सुरक्षित माना जाता है. यहां तक कि भारत के एक Covid-19 रिलीफ फंड -इंडिया कोविड रिलीफ फंड ने हाल ही में दुबई में एक कंपनी बनाई है जिसका मकसद डोनेशन के तौर पर मिले क्रिप्टोकरेंसी को एक्सचेंज करना है.

  • Share this:

नई दिल्ली. क्रिप्टोकरेंसीज (Cryptocurrency) की दुनिया में एक और धमाकेदार एंट्री हुई है. दुबई ने अपना पहला क्रिप्टोकरेंसी दुबई क्वाइन ( DubaiCoin यानी DBIX) लॉन्च कर दिया है. यह करेंसी पब्लिक ब्लॉकचेन पर बेस्ड कुछ चुनिंदा एक्सचेंजों पर ट्रेड कर रही है. इसकी मूल कीमत 0.17 डॉलर थी लेकिन Crypto.com के मुताबिक 24 घंटे में इसकी कीमत बढ़कर 1.13 डॉलर पहुंच गई. यानी लोग खुद अपनी DBIX जेनरेट कर सकते हैं.


अरेबियनचेन टेक्नोलॉजी ने किया है लॉन्च

Crypto.com के मुताबिक, पिछले 24 घंटों के दौरान DubaiCoin की कीतम 1000 फीसदी से ज्यादा बढ़ चुकी है. 27 मई शाम 4 बजे DubaiCoin 1.13 डॉलर पर ट्रेड कर रहा था जो अपने ओरिजनल कीमत 0.17 फीसदी से बहुत ऊपर है. यह क्वाइन UAE की कंपनी अरेबियनचेन टेक्नोलॉजी ने लॉन्च किया है. अरब देशों का यह पहला क्वाइन है जो पब्लिक ब्लॉकचेन पर आधारित है.

ये भी पढ़ें- अच्छी खबर: अब आप Bitcoin समेत अन्य क्रिप्टोकरेंसी में FD की तरह कर सकेंगे निवेश, होगी मोटी कमाई, जानिए कैसे?
जानें क्या कहा कंपनी ने?

कंपनी की तरफ से जारी प्रेस रिलीज के मुताबिक, "DubaiCoin का इस्तेमाल बहुत जल्द ऑनलाइन और ऑफलाइन गुड्स और सर्विस के पेमेंट में किया जा सकेगा. इससे इस बात का साफ संकेत मिलता है कि कंपनी इस क्वाइन का इस्तेमाल ट्रेडिशनल बैंक बैक्ड करेंसी की जगह करना चाहती है. नई डिजिटल करेंसी के सर्कुलेशन पर शहर और ऑथराइज्ड ब्रोकर्स का कंट्रोल होगा."

क्रिप्टोकरेंसी के लिए UAE सबसे सुरक्षित



क्रिप्टोकरेंसी के लिए UAE सबसे सुरक्षित माना जाता है. यहां तक कि भारत के एक Covid-19 रिलीफ फंड -इंडिया कोविड रिलीफ फंड ने हाल ही में दुबई में एक कंपनी बनाई है जिसका मकसद डोनेशन के तौर पर मिले क्रिप्टोकरेंसी को एक्सचेंज करना है. हालांकि DubaiCoin दूसरी क्रिप्टोकरेंसी से थोड़ी अलग होगी.

ये भी पढ़ें- दिल्ली, मुंबई और अहमदाबाद के ये तीन युवा क्रिप्टोकरेंसी से बन गए अरबपति, पहले करते थे साधारण नौकरी..पढ़ें कैसे?

DubaiCoin पब्लिक ब्लॉक चेन पर आधारित

DubaiCoin पब्लिक ब्लॉक चेन पर आधारित है लिहाजा यह साफ नहीं है कि अरब चेन इसकी कीमतों को रेगुलेट करेगा या नहीं. यह क्वाइन दिरहम के साथ सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी (CBDC) के तौर पर अपनी पहचान बना सकता है.दुबई में होने की वजह से यह क्रिप्टोकरेंसी टिकाऊ रह सकता है क्योंकि दिरहम भी डॉलर के मुकाबले स्टेबल रहता है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज