Home /News /business /

टैक्‍स पेयर के लिये अच्‍छी खबर, अब वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग से होगा टैक्‍स संबंधी मामलों का निपटारा

टैक्‍स पेयर के लिये अच्‍छी खबर, अब वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग से होगा टैक्‍स संबंधी मामलों का निपटारा

e-advance ruling scheme लागू होने से टैक्‍स पेयर को सुनवाई के लिये सीबीडीटी के ऑफिस आने की जरूरत नहीं होगी.

e-advance ruling scheme लागू होने से टैक्‍स पेयर को सुनवाई के लिये सीबीडीटी के ऑफिस आने की जरूरत नहीं होगी.

E-advance ruling scheme लागू होने से टैक्‍स पेयर को सुनवाई के लिये सीबीडीटी के ऑफिस आने की जरूरत नहीं होगी. सुनवाई में वे वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के जरिये हाजिर होकर अपना पक्ष रख सकेंगे. नोटिस भी टैक्‍स पेयर को ई-मेल पर भेजे जायेंगे. इस योजना से एनआरआई करदाओं को काफी सुविधा होगी.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्‍ली. E-advance ruling scheme : टैक्‍स पेयर के लिये एक अच्‍छी खबर है. टैक्स संबंधी मामलों को निपटाने के लिये केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT)  ने e-advance ruling scheme लागू कर दी है. इससे आयकर से जुड़े मामलों की शिकायतों का निपटारा ऑनलाइन हो सकेगा. सुनवाई में भी टैक्‍स पेयर वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के जरिये हाजिर हो सकेंगे. सरकार ने बुधवार को इसकी अधिसूचना जारी कर दी.

    इस सुविधा का ऐसे प्रवासी भारतीयों (NRI) को बहुत लाभ होगा, जिनकी टैक्‍स देनदारियां भारत में भी हैं और टैक्‍स संबंधी मामलों की सुनवाई में शामिल होने के लिये भारत नहीं आ सकते. ऐसे लोग ई-मेल के जरिये सीबीडीटी को आवेदन देंगे और उसी आधार पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग या वीडियो टेलीफोनी से उनके मामले की सुनवाई की जाएगी.

    ये भी पढ़ें :  अगर आपको भी है पैसों की जरुरत तो मिनटों में मिल जाएंगे 8 लाख रुपये, जानें कैसे

    वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से सुनवाई

    केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) ने ई-एडवांस रूलिंग्स योजना को अधिसूचित करते हुए कहा है कि एडवांस रूलिंग्स बोर्ड के सामने सुनवाई video conferencing या वीडियो कॉल के जरिये की जाएगी. नोटिस आदि टैक्‍स पेयर के रजिस्‍टर्ड ई-मेल पर भेजे जायेंगे. इससे टैक्‍स पेयर को अपना पक्ष रखने में सुविधा होगी. इनकम टैक्स कानून में अग्रिम कर निर्णय या एडवांस टैक्स रूलिंग का इंतजाम किया गया है ताकि प्रवासी टैक्सपेयर को स्थिति साफ की जा सके. इसके अलावा कुछ खास तरह के टैक्सपेयर के लिए भी यह व्यवस्था लागू अब लागू होगी.

    ऐसे उठा सकेंगे फायदा

    ई-एडवांस रूलिंग्स योजना के मुताबिक, आवेदक खुद या अपने किसी प्रतिनिधि के माध्‍यम से टैक्‍स के संबंध में उसे दिये गये नोटिस या आदेश का ऑनलाइन जवाब दे सकता है. सुनवाई के लिये उन्‍हें सीबीडीटी के सामने प्रत्‍यक्ष हाजिर होने की आवश्‍यकता नहीं होगी. वे वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग से सुनवाई में हाजिर हो सकेंगे. अभी तक यही नियम था कि टैक्सपेयर को एडवांस रूलिंग के लिए हाजिर होना पड़ता था. इसके अलावा वे ई-मेल से सीबीडीटी के नोटिस का जवाब दे सकेंगे.

    ये भी पढ़ें :  Stock Market में करते हैं निवेश तो इन कंपनियों के शेयर करा सकते हैं बंपर कमाई

    नांगिया एंडरसन इंडिया के चेयरमैन राकेश नांगिया ने PTI-भाषा को बताया कि ईमेल और इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से आवेदन करने की व्यवस्था लागू होने से टैक्स मामलों की सुनवाई में प्रवासी भारतीयों के लिए काफी सहूलियत हो जाएगी. इस नई व्यवस्था में टैक्स पेयर, इनकम टैक्स के अधिकारी और एडवांस रूलिंग के बोर्ड के बीच इलेक्ट्रॉनिक तरीके से होने से समय की बचत होगी और टैक्‍स पेयर को परेशानी भी नहीं होगी.

    Tags: CBDT, Finance ministry, Income tax

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर