लाइव टीवी

इन लोगों के लिए बढ़ी इनकम टैक्स रिटर्न भरने की आखिरी तारीख, अब 30 नवंबर तक मौका

News18Hindi
Updated: November 1, 2019, 9:52 AM IST
इन लोगों के लिए बढ़ी इनकम टैक्स रिटर्न भरने की आखिरी तारीख, अब 30 नवंबर तक मौका
आईटीआर नहीं भरने पर तीन महीने से दो साल तक की जेल हो सकती है.

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) ने नए केंद्रशासित प्रदेशों जम्मू कश्मीर और लद्दाख में आयकर रिटर्न (ITR) भरने की समयसीमा को बढ़ाकर 30 नवंबर कर दिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 1, 2019, 9:52 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने नए केंद्रशासित प्रदेशों जम्मू कश्मीर और लद्दाख (Jammu Kashmir and Ladakh) में आयकर रिटर्न (Income Tax Return Filling last date) भरने की समयसीमा को बढ़ाकर 30 नवंबर 2019 कर दिया. आयकर विभाग (Income Tax Department) के लिए नीति बनाने वाले विभाग ने आदेश जारी करके कहा है कि जम्मू - कश्मीर के कई क्षेत्रों में इंटरनेट सेवाएं बाधित होने के चलते CBDT ने केंद्रशासित प्रदेश जम्मू - कश्मीर और लद्दाख में सभी श्रेणियों के करदाताओं को आईटीआर भरने और कर ऑडिट रिपोर्ट जमा करने की समयसीमा को बढ़ाकर 30 नवंबर 2019 करने का फैसला किया है. इनकम टैक्स रिटर्न ऐसे सभी लोगों को भरना जरूरी है जिनकी सालाना इनकम 2,50,000 रुपये से ज्यादा है. अगर इनकम इससे कम है तो भी आप अपनी स्वेच्छा से रिटर्न भर सकते हैं. इसमें कोई दिक्‍कत नहीं है.

आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने पांच अगस्त को अनुच्छेद 370 के कुछ प्रावधानों को समाप्त कर दिया था. जिसके बाद जम्मू - कश्मीर में इंटरनेट सेवाओं पर रोक लगा दी गई थी. सरकार के इस फैसले के बाद 30 अक्टूबर की आधी रात से जम्मू - कश्मीर और लद्दाख दो केंद्रशासित प्रदेश हो गए हैं.

आईटीआर नहीं भरने पर तीन महीने से दो साल तक की जेल हो सकती है. अगर इनकम टैक्स का बकाया 25 लाख रुपये से ज्यादा है तो 7 साल तक की जेल हो सकती है.

ये भी पढ़ें-आज से बदल गए बैंकों में ये जरूरी नियम, नहीं दिया ध्यान तो होगा भारी नुकसान 

इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने के लिए इन दस्तावेजों की पड़ेगी जरूरत
1-पैन
2-आधार
Loading...

3-बैंक अकाउंट का विवरण
4-फॉर्म 16
5-निवेश का ब्योरा



कैसे फाइल करें आईटीआर?
1-आईटीआर के लिए जरूरी सभी दस्तावेजों के साथ लॉग-इन करें
2-अपना निजी ब्योरा भरें
3-अपनी सैलरी का विवरण दर्ज करें
4-डिडक्शन क्लेम करने के लिए विवरण दर्ज करें
5-चुकाए गए टैक्स को दर्ज करें
6-अपने आईटीआर को ई-फाइल करें
7-ई-वेरिफाई करें

ये भी पढ़ें-नवंबर के पहले दिन 76.5 रुपये महंगा हुआ रसोई गैस सिलेंडर, फटाफट यहां चेक करें नई कीमतें 

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की ओर से तय तारीख तक नहीं भरा रिटर्न! अगर तय तारीख तक रिटर्न फाइल नहीं किया तो आपको पेनाल्टी देनी होगी. समयसीमा खत्म होने के बाद 31 दिसंबर तक रिटर्न फाइल करने पर 5,000 रुपये पेनाल्टी भरनी होगी. जबकि दिसंबर के बाद रिटर्न फाइल किया तो 10,000 रुपये जुर्माने के तौर पर वसूले जाएंगे.

ये भी पढ़ें-Bank Holiday List: इस महीने कई दिन बैंक रहेंगे बंद, लिस्ट देखकर प्लान करें काम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Jammu से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 1, 2019, 9:47 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...