Home /News /business /

e verify itr 30 day window still open steps for taxpayers to do it online rrmb

31 जुलाई के बाद भरा है ITR तो ई-वेरिफिकेशन को मिलेंगे बस 30 दिन, जल्‍द करें यह काम, ऑनलाइन ऐसे करें वेरिफाई

हर आयकरदाता को आईटीआर फाइल करने के बाद उसे सत्‍यापित करना जरूरी होता है.

हर आयकरदाता को आईटीआर फाइल करने के बाद उसे सत्‍यापित करना जरूरी होता है.

केंद्रीय प्रत्‍यक्ष कर बोर्ड (CBDT) ने आईटीआर वेरिफिकेशन (ITR Verification) करने के नियमों में बदलाव कर दिया है. पहले जहां आयकरदाता ऑनलाइन आईटीआर दाखिल करने के बाद 120 दिनों तक आईटीआर वेरिफाई कर सकते थे, वहीं अब इस काम के लिए उन्‍हें केवल 30 दिन मिलेंगे.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

31 जुलाई तक जिन आयकरदाताओं ने आईटीआर फाइल की है, वो 120 दिन तक आईटीआर वेरिफाई कर सकते हैं.
इसके बाद आईटीआर दाखिल करने वालों को इस बार 30 दिन ही आईटीआर वेरिफिकेशन के लिए मिलेंगे.
आईटीआर को ऑनलाइन पांच तरीकों से वेरिफाई किया जा सकता है.

नई दिल्‍ली. आयकर रिटर्न दाखिल करने की अंतिम तिथि बीत चुकी है. अब आईटीआर जुर्माना चुकाकर दाखिल किया जा सकता है. हर आयकरदाता को आईटीआर फाइल करने के बाद उसे सत्‍यापित करना जरूरी होता है. बिना सत्‍यापित किए आईटीआर अमान्‍य होते हैं. इस बार जो लोग 31 जुलाई के बाद आईटीआर दाखिल करेंगे, उन्‍हें आईटीआर वेरिफिकेशन के लिए कम समय मिलेगा. नया नियम एक अगस्‍त से लागू हो गया है.

केंद्रीय प्रत्‍यक्ष कर बोर्ड (CBDT) ने आईटीआर वेरिफिकेशन (ITR Verification) करने के नियमों में बदलाव कर दिया है. पहले जहां आयकरदाता ऑनलाइन आईटीआर दाखिल करने के बाद 120 दिनों तक आईटीआर वेरिफाई कर सकते थे, वहीं, अब इस काम के लिए केवल 30 दिन मिलेंगे. इसका अर्थ है कि अब आईटीआर दाखिल करने के एक महीने के भीतर ही उसे वेरिफाई करना होगा. सीबीडीटी ने स्‍पष्‍ट किया है कि इस अधिसूचना के प्रभावी होने की तारीख से पहले जो रिटर्न दाखिल हुए हैं, उनको पहले की तरह ही 120 दिन तक वेरिफाई किया जा सकेगा.

क्‍यों जरूरी है आईटीआर को वेरिफाई करना?
इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) भरने की प्रक्रिया में आखिरी चरण उसको वेरिफाई या सत्यापित करना होता है. अगर आयकरदाता आईटीआर को वेरिफाई नहीं करता है तो आईटीआर (ITR) को अमान्य माना जाता है. आईटीआर को ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह से वेरिफाई किया जा सकता है. इनकम टैक्‍स पोर्टल पर दी गई जानकारी के मुताबिक, ITR को वेरिफाई करने के कुल 6 तरीके हैं.

ये भी पढ़ें-  ITR फाइल करने की अंतिम तिथि बी‍ती, अभी तक नहीं भरा रिटर्न तो क्‍या करें? एक्‍सपर्ट से जानिए

कैसे करें आईटीआर का ई-वेरिफिकेशन
आधार के ओटीपी से :  इसके लिए जरूरी है कि आपका आधार आपके मोबाइल से लिंक हो. साथ ही पैन-आधार भी लिंक होना चाहिए. अब आप इनकम टैक्‍स के ई-वेरिफाई पेज पर जाएं और मोबाइल ओटीपी से सत्‍यापन का विकल्‍प चुनें. इसके बार ‘जारी रखें’ विकल्‍प के जरिये आगे बढ़ें और नई स्‍क्रीन पर ‘मैं अपने आधार के जरिये सत्‍यापन के लिए सहमत हूं’ पर क्लिक करें. आपके मोबाइल पर ओटीपी आएगा, जिसे डालकर आप आईटीआर सत्‍यापित कर सकते हैं.

बैंक खाते के जरिये :  इसके लिए पूर्व सत्‍यापित बैंक खाता होना चाहिए. यहां आप इलेक्‍ट्रॉनिक वेरिफिकेशन कोड जेनरेट करके अपना आईटीआर सत्‍यापित कर सकते हैं. यह कोड आपके मेल और मोबाइल पर आएगा.

डीमैट खाते के जरिये :  ई-वेरिफाई पेज पर जाकर डीमैट खाते का विकल्‍प चुनें आगे जारी रखें का बटन दबाते ही आपके पास इलेक्‍ट्रॉनिक वेरिफिकेशन कोड आएगा, जिसे डालकर आईटीआर सत्‍यापन किया जा सकता है.

एटीएम कार्ड के जरिये : बैंक के एटीएम पर जाएं और कार्ड स्‍वाइप कर ‘आईटीआर फाइलिंग के लिए पिन’ का विकल्‍प चुनें. आपके मोबाइल पर इलेक्‍ट्रॉनिक वेरिफिकेशन कोड आएगा. फिर आप इनकम टैक्‍स पोर्टल पर ई वेरिफाई पेज को खोलें और ‘मेरे पास ईसीवी है’ का विकल्‍प चुनकर उसमें इलेक्‍ट्रॉनिक वेरिफिकेशन कोड डालें. आईटीआर सत्‍यापित हो जाएगा.

नेट बैंकिंग के जरिये : ई वेरिफाई पेज पर जाकर नेट बैंकिंग का विकल्‍प चुनें और अपने बैंक का नाम डालकर ‘जारी रखें’ पर क्लिक करें. इसके बाद अपने बैंक के पोर्टल पर जाकर नेट बैंकिंग में लॉग इन करें. ई वेरिफाई का विकल्‍प चुनकर अपना आईटीआर सत्‍यापित कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें-  आईटीआर भरने के लिए क्यों जरूरी है पैन कार्ड का आधार से लिंक होना, नहीं होने पर लगेगा जुर्माना?

ऑफलाइन तरीके से सत्‍यापन
ऑफलाइन भी आयकरदाता अपनी आईटीआर को वेरिफाई कर सकते हैं. अपने आईटीआर-वी फॉर्म को भरकर इनकम टैक्‍स विभाग को स्‍पीड पोस्‍ट करना होगा.  यह बंगलूरू स्थित आयकर विभाग के पते सेंट्रलाइज्‍ड प्रोसेसिंग सेंटर, इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट, बेंगलुरू, 560500, कर्नाटक, पर जाएगा और वहां फॉर्म मिलते ही आपको मोबाइल व ईमेल पर सूचित कर दिया जाएगा. यह ध्‍यान रखें कि अगर आईटीआर 31 जुलाई के बाद भरा हे तो, आईटीआर भरने के 30 दिन के भीतर आपका फॉर्म विभाग को मिल जाना चाहिए.

Tags: Business news in hindi, Income tax, ITR, ITR filing

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर