• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • गेंदा के फूल की खेती से हर साल कमा सकते हैं 15 लाख रुपये, जानें 1 हेक्‍टेयर में कितना आएगा खर्च

गेंदा के फूल की खेती से हर साल कमा सकते हैं 15 लाख रुपये, जानें 1 हेक्‍टेयर में कितना आएगा खर्च

बागवानी विभाग फूलों की बेमौसम पैदावार लेने में किसानों की मदद करता है.

बागवानी विभाग फूलों की बेमौसम पैदावार लेने में किसानों की मदद करता है.

गेंदे के फूल के रस का इस्‍तेमाल दिल के रोग, कैंसर और स्ट्रोक को रोकने में मददगार साबित होता है. यही नहीं, इस फूल से इत्र और अगरबत्‍ती भी बनाई जाती है. अगर आपके पास एक एकड़ खेती योग्‍य जमीन है तो आप गेंदे के फूल की पैदावार (Marigold Flower Farming) कर हर साल 5-6 लाख रुपये की कमाई (earn money) कर सकते हैं.

  • Share this:

    नई दिल्‍ली. कोरोना संकट के बीच अगर आप भी नौकरी छोड़कर (Job Loss) गांव लौट गए हैं और आपके पास कृषि भूमि है तो हम आपको सजावट के साथ ही दवाई में इस्‍तेमाल होने वाले खास फूल की खेती (Flower Farming) के बारे में बता रहे हैं. इसमें हर साल मामूली लागत लगाकर आप 15 लाख रुपये तक की मोटी कमाई (earn money) कर सकते हैं. इसके लिए आपके पास 1 हेक्‍टेयर जमीन (Agriculture Land) होनी चाहिए. आपने शादी, त्‍योहार समेत ज्‍यादातर शुभ मौकों पर गेंदे के फूलों का इस्‍तेमाल होते हुए देखा होगा. ये फूल सजावट में तो काम आता ही है. इसमें विटामिन सी भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है, जो रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने (Immunity Booster) में मदद करता है. वहीं, इसके रस का इस्‍तेमाल त्‍वचा से जुड़ी कई समस्‍याओं के इलाज में भी काम आता है. वहीं, कई गंभीर रोगों की दवाएं बनाने में भी इसका इस्‍तेमाल होता है. ऐसे में गेंदे के फूल की खेती (Marigold Flower Farming) करना फायदे का सौदा साबित हो सकता है.

    कैंसर और हृदय रोगों में भी होता है गेंदे के रस का इस्‍तेमाल
    गेंदे के फूल के रस का इस्‍तेमाल दिल के रोग, कैंसर और स्ट्रोक को रोकने में मददगार साबित होता है. यही नहीं, इस फूल से इत्र और अगरबत्‍ती भी बनाई जाती है. अगर आपके पास एक एकड़ खेती योग्‍य जमीन है तो आप हर साल 5-6 लाख रुपये की कमाई कर सकते हैं. एक एकड़ खेत में हर हफ्ते 3 क्विंटल तक फूल की पैदावार हो जाती है. खुले बाजार में इसके फूल की कीमत (Marigold Flower Prices) 70 रुपये प्रति किग्रा तक मिल जाती है यानी हर हफ्ते 20 हजार रुपये तक की आमदनी हो सकती है. बता दें कि हर साल गेंदे के फूल की खेती तीन बार की जा सकती है. इसको एक बार लगाने के बाद दो साल तक फूल छांटे जा सकते हैं. सालभर में एक एकड़ खेती में करीब 1 लाख रुपये की लागत (Farming Cost) आती है.

    ये भी पढ़ें- Gold Price: सोने की कीमत 2000 रुपये से ज्‍यादा घटी, चांदी हुई 5739 रुपये सस्‍ती, जानें आगे कैसा रहेगा ट्रेंड

    एक हेक्टेयर खेत में पड़ती है 1 किलो तक बीज की जरूरत
    एक हेक्टेयर खेत में गेंदे की खेती के लिए 1 किलो तक बीज की जरूरत पड़ती है. इस बीच से गेंदे के फूल की नर्सरी तैयार की जाती है. इसके बाद गेंदे का पौधा 4 पत्तियों का होने पर रोपाई की जाती है. करीब 35-40 दिन में गेंदे में कली आने लगती है. अच्‍छी पैदावार के लिए बीच की पहली कली को करीब 2 इंच नीचे से तोड़ देना अच्‍छा माना जाता है. इससे गेंदे में एकसाथ कई कलियां आती हैं. बता दें कि पहले सर्दियों के मौसम में गेंदे के फूल की पैदावार लेना मुश्किल होता था, लेकिन अब बागवानी विभाग बेमौसम पैदावार (All-Weather Farming) लेने में किसानों की मदद करता है.

    ये भी पढ़ें- अब Amazon पर कर सकेंगे Cryptocurrency में भुगतान! ई-कॉमर्स कंपनी जल्‍द देगी इसकी मंजूरी

    सर्दियों में पाले और मवेशियों से बचाने की होती है जरूरत
    गेंदे के फूल को पाले और मवेशियों से बचाना पड़ता है. गेंदा फूल की प्रमुख किस्में बोलेरो, ब्राउन स्काउट, गोल्डन, बटरस्कॉच, स्टार ऑफ इंडिया, येलो क्राउन, रेड हेट, बटरवाल और गोल्डन जेम हैं. इनके बीज कोलकाता में आसानी से मिल जाते हैं. कुछ किसान एक साल साल में गेंदे की चार फसलें तक ले रहे हैं. ऐसे किसान साल में चार बार बीज डालते हैं. आमतौर पर गेंदे के पौधे रोपाई के 40 दिन के भीतर फूल देना शुरू कर देते हैं. इन फूलों को अच्छी तरह विकसित होने के बाद ही पौधे से तोड़ना चाहिए. जानकारों का कहना है कि गेंदे के फूलों को सुबह या शाम के समय ही तोड़ना चाहिए.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज