होम /न्यूज /व्यवसाय /सिर्फ 5 हजार रुपए में शुरू करें ये बिजनेस, हर महीने होगी लाखों की कमाई...!

सिर्फ 5 हजार रुपए में शुरू करें ये बिजनेस, हर महीने होगी लाखों की कमाई...!

कन्यादान पर मिलेंगे 27 लाख रुपए!

कन्यादान पर मिलेंगे 27 लाख रुपए!

आज हम आपको सोलन के विकास के बारे में बताते हैं, जिन्होंने सिर्फ 5 हजार रुपए लगाकर मशरूम की खेती शुरू की और आज वह हर मही ...अधिक पढ़ें

    नई दिल्ली: क्या आप भी कोई बिजनेस शुरू करने का प्लान बना रहे हैं...? तो आप मशरूम फार्मिंग के जरिए मोटी कमाई कर सकते हैं. आज हम आपको सोलन के विकास के बारे में बताते हैं, जिन्होंने सिर्फ 5 हजार रुपए लगाकर मशरूम की खेती शुरू की और आज वह हर महीने लाखों रुपए की कमाई कर रहे हैं. आइए आपको बताते हैं कि आप भी कैसे अपने घर के कमरे में ये बिजनेस शुरू करके मोटी कमाई कर सकते हैं.

    हर दिन उगा रहे 3 टन मशरूम
    सोलन के विकास ने बताया कि उन्होंने स्मॉल स्केल पर यह बिजनेस शुरू किया था और हाल ही में नया बिजनेस फार्म शुरू किया है. यहां पर हम हर दिन 3 टन मशरूम रोज उगा रहे हैं. इस बिजनेस के लिए कोई खास ट्रेनिंग की जरूरत नहीं होती है.

    यह भी पढ़ें: अब सिर्फ 7 घंटे से पहुंचेगें दिल्ली से कटरा, जानिए क्या है सरकार का खास प्लान

    5 हजार रुपए में शुरू किया था बिजनेस
    सोलन के विकास ने साल 1990 में मशरूम फार्मिंग का बिजनेस शुरू किया था. इन्होंने सिर्फ 5 हजार रुपए के इन्वेस्टमेंट के साथ बिजनेस शुरू किया था और आज साल 2020 में यह हर महीने लाखों रुपए की कमाई कर रहा है.

    कमरे में शुरू कर सकते हैं ये बिजनेस
    इस बिजनेस को आप एक कमरे में भी शुरू कर सकते हैं. इसके लिए आपको कुछ क्लाइमेट कंडीशन को मेंन्टेन करना होता है जैसे- टैम्प्रेचर, ह्यूमिडिटी और कार्बन डाइ ऑक्साइड को जरूर मैनेज करना होता है.

    20 से 25 दिन में उग जाते हैं मशरूम
    आपको मार्केट में ये कम्पोजट आसानी से मिल जाएगा. इसके अलावा आप पैकेट वाले यानी पहले से तैयार कम्पोजट भी खरीद सकते हैं. इन पैकेट को अपको छाया में या फिर कमरे में रखना होता है. इसके बाद 20 से 25 दिनों के अंदर इसमें मशरूम उगना शुरू हो जाते हैं.

    कम्पोस्ट बनाने की विधि
    कम्पोस्ट को बनाने के लिए धान की पुआल को भिंगोना होता है और एक दिन बाद इसमें डीएपी, यूरिया, पोटाश, गेहूं का चोकर, जिप्सम और कार्बोफ्यूडोरन मिलाकर, इसे सड़ने के लिए छोड़ दिया जाता है. करीब डेढ़ महीने के बाद कम्पोस्ट तैयार होता है. अब गोबर की खाद और मिट्टी को बराबर मिलाकर करीब डेढ़ इंच मोटी परत बिछाकर, उस पर कम्पोस्ट की दो-तीन इंच मोटी परत चढ़ाई जाती है. इसमें नमी बरकरार रहे इसलिए स्प्रे से मशरूम पर दिन में दो से तीन बार छिड़काव किया जाता है. इसके ऊपर एक-दो इंच कम्पोस्ट की परत और चढ़ाई जाती है. और इस तरह मशरूम की पैदावार शुरू हो जाती है.

    यह भी पढ़ें: महाराष्‍ट्र में घर खरीदने वालों के लिए अच्‍छी खबर! स्‍टाम्‍प ड्यूटी का खर्च उठाएगा NAREDCO, सस्‍ता पड़ेगा मकान

    मशरूम की खेती की लें ट्रेनिंग
    सभी एकग्रीकल्चर यूनिवर्सिटीज और कृषि अनुसंधान केंद्रों में मशरूम की खेती की ट्रेनिंग दी जाती है. अगर आप इसे बड़े पैमाने पर खेती करने की योजना बना रहे हैं तो बेहतर होगा एक बार इसकी सही ढंग से ट्रेनिंग कर लें. अगर जगह की बात की जाए तो प्रति वर्ग मीटर में 10 किलोग्राम मशरूम आराम से पैदा किया जा सकता है. कम से कम 40x30 फुट की जगह में तीन-तीन फुट चौड़ी रैक बनाकर मशरूम उगाए जा सकते हैं.

    Tags: Business news in hindi, Earn money

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें