Home /News /business /

₹50 हजार से शुरू करें ये खेती, एक बार लगाकर 3 साल तक मिलेगा ₹5 लाख सालाना कमाने का मौका, जानें सबकुछ

₹50 हजार से शुरू करें ये खेती, एक बार लगाकर 3 साल तक मिलेगा ₹5 लाख सालाना कमाने का मौका, जानें सबकुछ

औषधीय गुणों वाली इस फसल में एक बार पैसे लगाकर 3 साल तक कमाई की जा सकती है.

औषधीय गुणों वाली इस फसल में एक बार पैसे लगाकर 3 साल तक कमाई की जा सकती है.

ऐलोवेरा (Aloe Vera) की मांग इस समय भारत के साथ ही विदेश में भी काफी ज्यादा है. इस कारण ऐलोवेरा की खेती (Aloe Vera Cultivation) में बहुत मुनाफा है. इसका इस्‍तेमाल खाद्य पदार्थों में भी खूब किया जा रहा है. भारत में इस समय बड़े पैमाने पर ऐलोवेरा की खेती हो रही है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. कोरोना संकट के बीच अगर नौकरी छूट (Job Loss) गई है तो चिंता की जरूरत नहीं है. हम आपको सिर्फ 50 हजार रुपये लगाकर अगले 3 साल तक 5 लाख रुपये सालाना तक की कमाई कराने वाली खेती (Earn from Farming) के बारे में बता रहे हें. इसके लिए आपके पास कृषि भूमि (Agriculture Land) और शुरुआती लागत के लिए मामूली रकम होना जरूरी है. हम बात कर रहे हैं औष‍धीय गुणों वाले ऐलावेरा (Aloe Vera) की. ऐलोवेरा का इस्‍तेमाल आजकल दवाइयों और सौंदर्य उत्‍पादों (Medicines and Beauty Products) में जमकर किया जा रहा है. ऐसे में ऐलोवेरा की मांग भी काफी बढ़ गई है. लिहाजा इसकी खेती आपकी आर्थिक परेशानियों को खत्‍म कर सकती है.

    दो तरह से की जा सकती है ऐलोवेरा से कमाई
    ऐलोवेरा की मांग इस समय भारत के साथ ही विदेश में भी काफी ज्यादा है. इस कारण ऐलोवेरा की खेती में बहुत मुनाफा है. इसका इस्‍तेमाल खाद्य पदार्थों में भी खूब किया जा रहा है. भारत में इस समय बड़े पैमाने पर ऐलोवेरा की खेती हो रही है. कई कंपनियां इसके प्रोडक्ट बना रही हैं. देश के लघु उद्योगों से लेकर मल्‍टीनेशनल कंपनियां ऐलोवेरा प्रोडक्‍ट बेचकर करोड़ों कमा रही हैं. ऐसे में आप भी ऐलोवेरा की खेती कर हर साल लाखों की कमाई कर सकते हैं. ऐलोवेरा का बिजनेस दो तरह से कर सकते हैं. पहला, इसकी खेती करके और दूसरा इसके जूस या पाउडर के लिए प्‍लांट लगाकर. यहां हम आपको ऐलोवेरा की खेती और प्रोसेसिंग प्‍लांट की लागत समेत उससे जुड़ी कई जानकारियां दे रहे हैं.

    ये भी पढ़ें- Independence Day 2021: पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा- केंद्र की नई योजना से ग्रामीणों को आसानी से मिलेगा बैंक लोन, जानें कैसे

    कितनी आएगी लागत और कितनी होगी कमाई
    ऐलोवेरा की खेती के लिए प्रति हेक्‍टेयर 50 हजार रुपये की लागत आती है. इसे एक साल लगाने के बाद आप तीन साल तक फसल ले सकते हैं. हर साल इसकी लागत भी कम होती जाती है, जबकि कमाई बढ़ती जाती है. ऐलोवेरा की फसल तैयार होने पर आप इसे मैन्युफैक्‍चरिंग कंपनियों के साथ ही सीधे मंडियों में भी बेच सकते हैं. इसके अलावा अगर आप अपने बिजनेस को बढ़ाना चाहते हैं तो ऐलोवेरा की प्रोसेसिंग यूनिट लगाकर ज्‍यादा मुनाफा कमा सकते हैं. प्रोसेसिंग यूनिट से ऐलोवेरा जेल या जूस बेचकर आप मोटी कमाई कर सकते हैं. छोटे आकार की एक प्रोसेसिंग यूनिट लगाने पर करीब 5 लाख रुपये तक का खर्च आएगा.

    ये भी पढ़ें- IRCTC ने महिला ट्रेन यात्रियों को दिया रक्षाबंधन का तोहफा! आज से स्‍पेशल कैशबैक ऑफर शुरू, चेक करें डिटेल्‍स

    ऐलोवेरा की खेती-प्‍लांट में कितनी आएगी लागत
    ऐलोवेरा की खेती कम उपजाऊ जमीन पर होती है. साथ ही कम खाद में भी इसका बेहतर उत्पादन लिया जा सकता है. अच्छी उपज के लिए खेत को तैयार करते समय 10-15 टन सड़ी हूए गोबर की खाद प्रति हेक्टेयर इस्तेमाल करनी चाहिए. ऐलोवेरा से मोटी कमाई के लिए आपको पहले खेती की लगात और फिर प्लांट, लेबर, पैकेजिंग में खर्च करना होगा. कम लागत में हैंडवाश या ऐलोवेरा सोप का बिजनेस भी शुरू कर सकते है. कॉस्मेटिक, मेडिकल और फार्मास्यूटिकल्स के फील्ड में ऐलोवेरा की मांग काफी ज्यादा है. ग्राहकों के बीच ऐलोवेरा जूस, लोशन, क्रीम, जेल, शैम्पू सभी चीज की बड़ी मांग है. आयुर्वेदिक और यूनानी चिकित्सा में सालों से ऐलोवेरा का इस्तेमाल होता आया है.

    ये भी पढ़ें- केंद्र ने बदल दिए बाइक पर पीछे बैठने के नियम, जानें अब कैसे करनी होगी सवारी

    कैसी जमीन और मौसम में होती है ज्‍यादा पैदावार
    ऐलोवेरा की खेती शुष्क क्षेत्रों से लेकर सिंचित मैदानी क्षेत्रों में की जा सकती है. हालांकि, आजकल इसकी खेती देश के सभी भागों में की जा रही है. राजस्थान, गुजरात, मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र में इसका कमर्शियल लेवल पर उत्‍पादन हो रहा है. इसकी सबसे बड़ी विशेषता यह है कि इसे बहुत ही कम पानी और अर्द्ध शुष्क क्षेत्र में भी असानी से उगाया जा सकता है. ऐलोवेरा की बेहतर खेती के लिए सबसे उपयुक्त तापमान 20 से 22 डिग्री सेंटीग्रेड होता है. हालांकि, यह पौधा किसी भी तापमान पर अपने को बचाए रख सकता है. इसकी किस्‍मों में आईसी 111271, आईसी 111280, आईसी 111269 और आईसी 111273 का कमर्शियल उत्पादन किया जा सकता है. इनमें पाई जाने वाली एलोडीन की मात्रा 20 से 23 फीसदी तक होती है.

    Tags: Agriculture, Business news in hindi, Earn money, Farmers in India, How to earn money, India agriculture, New Business Idea

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर