Home /News /business /

Covid-19 के बाद ट्रैवल से पाबंदी हटने का EaseMyTrip को मिलेगा फायदा, बड़े मुनाफे की उम्मीद

Covid-19 के बाद ट्रैवल से पाबंदी हटने का EaseMyTrip को मिलेगा फायदा, बड़े मुनाफे की उम्मीद

EaseMyTrip ने अपने कारोबार को विस्तार देने के लिए योजनाएं तैयार की है.

EaseMyTrip ने अपने कारोबार को विस्तार देने के लिए योजनाएं तैयार की है.

EaseMyTrip अपने ग्राहकों को एयर टिकट बुकिंग पर शानदार डिस्काउंट ऑफर कर रहा है. इजी माय ट्रिप पर एयर टिकट बुकिंग के दौरान आपको EMTFIRST प्रोमोकोड का इस्तेमाल करना होगा.

    EaseMyTrip News: भारत का दूसरा सबसे बड़ा ट्रैवल पोर्टल EaseMyTrip (EMT) ने अपने कारोबार को विस्तार देने के लिए योजनाएं तैयार की हैं. आने वाले कुछ समय में इजी माय ट्रिप (EaseMyTrip Portal) अपने ग्राहकों को हॉस्पिटैलिटी सेक्टर यानी आतिथ्य क्षेत्र अधिक सुविधाएं मुहैया कराएगी. कंपनी का दावा है कि वह अपने ग्राहकों को सबसे सस्ती और सबसे बेहतर यात्रा सुविधाएं मुहैया कराएगी.

    हॉस्पिटैलिटी सेक्टर दिन-रात तरक्की कर रहा है. इस समय हवाई-टिकट का बाजार लगभग 80,000 करोड़ रुपये का उद्योग बनकर तेजी से उभर रहा है. देश में नए-नए हवाई अड्डे खुल रहे हैं. अनुमान है कि यह उद्योग अगले 4-5 सालों में 15 फीसदी सालाना की दर से आने बढ़ेगा.

    हवाई टिकट पर बड़ा डिस्काउंट
    EaseMyTrip अपने ग्राहकों को एयर टिकट बुकिंग पर शानदार डिस्काउंट ऑफर कर रहा है. इजी माय ट्रिप पर एयर टिकट बुकिंग के दौरान आपको EMTFIRST प्रोमोकोड का इस्तेमाल करना होगा. इस प्रोमोकोड के इस्तेमाल से आपको टिकट पर 12 प्रतिशत तक की छूट मिलेगी.

    हवाई उद्योग के बढ़ने का सीधा असर भारत के ऑनलाइन ट्रैवल मार्केट (Online travel market) पर दिखाई देगा. जानकार बताते हैं कि अगले पांच सालों में ऑनलाइन ट्रैवल उद्योग दोगुना होकर वर्ष 2025 तक 32 विलियन डॉलर तक पहुंचने की उम्मीद है. यह उद्योग 14 फीसदी चक्रवृद्धि वार्षिक वृद्धि दर (CAGR) से बढ़ रहा है.

    कोविड के बाद से अर्थव्यवस्था में सुधार तेजी से देखने को मिल रहा है और इस कड़ी में इजी माय ट्रिप में भी एक बड़ा सुधार और वृद्धि देखने को मिलेगी.

    Policybazaar IPO सब्‍सक्रिप्‍शन के लिए 1 नवंबर को खुलेगा, जानें इश्‍यू का प्राइस बैंड

    शेयर बाजार (stock market) में भी लगातार उछाल देखने को मिल रहा है. ये तेजी से तरक्की करती हुई एक मजबूत अर्थव्यवस्था के संकेत हैं. पिछले दो वर्षों में, भारतीय शेयर बाजार ने बड़ी संख्या में प्रौद्योगिकी संचालित कंपनियों को सूचकांकों में सूचीबद्ध होते देखा है. EaseMyTrip भी बाजार में लिस्ट हुई थी और इसके स्टॉक को अच्छा रिस्पॉन्स देखने को मिला.

    EaseMyTrip दुनिया का एक ऐसा ई-कॉमर्स पोर्टल है जिसने फर्श से लेकर अर्श तक की यात्रा की है. एक बूटस्ट्रैप (bootstrapped) ने आईपीओ तक की यात्रा की है और यह यात्रा आगे भी जारी है.

    ईएमटी प्रबंधन रिपोर्ट के अनुसार, अस्तित्व में आने के बाद से अपने 13 वर्षों की यात्रा में ईजी माय ट्रिप ने कभी भी किसी बाहरी स्रोत से पूंजी नहीं जुटाई. कंपनी अपने मुनाफे और खुद के स्रोतों से बाजार में हिस्सेदारी बढ़ाती रही. स्टॉक मार्केट में लिस्टिंग से पहले कंपनी ने अपनी सर्विस की बदौलत हमेशा प्रोफिट ही कमाया है. कंपनी अपने पूरे अस्तित्व में साल-दर-साल आधार पर लाभदायक रही है.

    EMT अपने कुशल लागत स्ट्रक्चर के कारण इस मुकाम पर आने में सफल रही है. इजी माय ट्रिप अपने ग्राहकों को सस्ती दरों पर हवाई टिकट और अन्य यात्रा सुविधा मुहैया कराती है. कंपनी के ग्राहक इसकी सेवाओं से संतुष्ट होकर खुद ही इसका प्रचार-प्रसार करते हैं. ग्राहकों की संतुष्टि की बदौलत ही आज इजी माय ट्रिप भारत ही नहीं दुनिया का टॉप कंपनियों में अपनी पहचान बनाने में कामयाब हुई है.

    वर्ष 2021-22 की पहली तिमाही में कोरोना की दूसरी लहर के बाद भी इजी माय ट्रिप ने 20.8 करोड़ रुपये का कर से पूर्व लाभ (profit before tax-PBT) अर्जित किया था.

    इजी माय ट्रिप बिना किसी कर्ज के 242 करोड़ रुपये के नकदी वाला सबसे अधिक लाभदायक यात्रा-पोर्टल है. इस यात्रा पोर्टल के कारोबार में विस्तार के लिए कंपनी को न्यूनतम पूंजीगत व्यय की आवश्यकता है. EMT की क्षमता 10.85 लाख एयर-सेगमेंट बेचने की थी, जबकि कंपनी ने 24.66 लाख एयर-सेगमेंट की बिक्री की.

    व्यापार के ईएमटी मोड में वृद्धि के लिए न्यूनतम पूंजीगत व्यय की आवश्यकता होती है. एयर सेगमेंट के बड़े बाजार में इजी माय ट्रिप की पकड़ है और इसमें विस्तार जारी है. वित्त वर्ष 2019 में कंपनी का एयर सेगमेंट कारोबार 5.6 गुना बड़ा था. वर्ष 2020 में बढ़कर यह 4.2 गुना हो गया. और वर्ष 2021 में इसने 2.7 गुना वृद्धि दर्ज की है.

    इजी माय ट्रिप की प्रतिस्पर्धी कंपनी IXIGO का आईपीओ भी आना वाला है. यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि IXIGO का शुद्ध लाभ 2.5 करोड़ रुपये था जबकि इसी अवधि में इजी माय ट्रिप लाभ 84 करोड़ रुपये था. हालांकि, IXIGO को पहले ही 6,000 करोड़ रुपये के वैल्यूएशन पर प्री-आईपीओ प्लेसमेंट मिल चुका है, अब वह 7400 करोड़ रुपये की लिस्टिंग करना चाहता है.

    मार्केट एक्सपर्ट बताते हैं कि ट्रैवेल पोर्टल इजी माय ट्रिप का फ्यूचर सुनहरा है. लंबे समय की घरों की कैद के बाद लोग अब धूमने-फिरने का प्लान बना रहे हैं. आने वाले दिनों में हॉस्पिटैलिटी उद्योग में उछाल देखने के मिलेगा जिसका सीधा-सीधा फायदा इजी माय ट्रिप जैसी ट्रैवल पोर्टल को मिलेगा.

    इजी माय ट्रिप जैसे ऑनलाइन पोर्टल आने से लोग घर बैठे ही अपनी पूरी यात्रा प्लान और बुक करा सकते हैं. इस तकनीकी ने लोगों की यात्रा को बहुत आसान बना दिया है.

    Tags: Air Tickets, Air Travel

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर