Home /News /business /

Economic Growth सितंबर 2021 तिमाही में रहेगी 7.7 फीसदी! ICRA ने कहा, आधे इंडीकेटर्स प्री-कोविड लेवल पर पहुंचे

Economic Growth सितंबर 2021 तिमाही में रहेगी 7.7 फीसदी! ICRA ने कहा, आधे इंडीकेटर्स प्री-कोविड लेवल पर पहुंचे

ICRA के मुताबिक, अर्थव्‍यवस्‍था के 14 में से आधे इंडीकेटर्स कोविड पूर्व के स्‍तर पर पहुंच गए हैं.

ICRA के मुताबिक, अर्थव्‍यवस्‍था के 14 में से आधे इंडीकेटर्स कोविड पूर्व के स्‍तर पर पहुंच गए हैं.

रेटिंग एजेंसी इक्रा (ICRA) ने कहा कि मांग में बढ़ोतरी और शेयर बाजारों में तेजी से भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था (Indian Economy) की रफ्तार बढ़ने का साफ संकेत मिल रहा है. वर्ल्ड बैंक (World Bank) ने वित्‍त वर्ष 2021-22 में आर्थिक वृद्धि के 8.3 फीसदी और और मूडीज (Moody's) ने 9.3 फीसदी रहने का अनुमान दिया है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्‍ली. रेटिंग एजेंसी इक्रा (ICRA) ने कहा है कि भारत की आर्थिक वृद्धि (Economic Growth) सितंबर 2021 तिमाही के दौरान 7.7 फीसदी रह सकती है. एजेंसी ने कहा कि अर्थव्‍यवस्‍था के 14 संकेतकों में से आधे कोरोना वायरस महामारी से पहले के स्‍तर पर पहुंच चुके हैं. ऐसे में देश की अर्थव्‍यवस्‍था (Indian Economy) में तेजी आने की संभावना है. अप्रैल-जून 2021 के दौरान अर्थव्‍यवस्‍था में 20.1 फीसदी की रिकॉर्ड वृद्धि हुई थी. इक्रा की मुख्‍य अर्थशास्‍त्री अदिति नायर ने कहा कि कोरोना वायरस की दूसरी लहर के कारण पैदा से हुई मुश्किलों के कम होने से मौजूदा वित्‍त वर्ष की दूसरी तिमाही में आर्थिक वृद्धि की रफ्तार बढ़ी है.

    ‘भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था में तेजी के मिल रहे हैं संकेत’
    अदिति नायर ने बताया कि भारतीय शेयर बाजारों (Indian Share Markets) में लगाजार जारी तेजी, प्रत्‍यक्ष कर संग्रह (Direct Tax Collection) में मजबूत बढ़ोतरी और कारोबार की धारणा में सुधार से देश की अर्थव्‍यवस्‍था में तेजी के संकेत मिल रहे हैं. इससे पहले विश्‍व बैंक (World Bank) ने वित्‍त वर्ष 2021-22 में आर्थिक वृद्धि 8.3 फीसदी और रेटिंग एजेंसी मूडीज (Moody’s) ने 9.3 फीसदी रहने का अनुमान जताया था. वहीं, रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने यह आंकड़ा 9.5 फीसदी रहने की उम्‍मीद जताई है. इक्रा ने बताया कि दूसरी तिमाही में आपूर्ति को लेकर रुकावटें और ज्‍यादा बारिश के कारण आर्थिक वृद्धि पर सालाना आधार पर असर पड़ा है.

    ये भी पढ़ें- Gold Price Today: सोना रिकॉर्ड हाई से मिल रहा 9697 रुपये सस्‍ता, देखें 10 ग्राम गोल्‍ड के लेटेस्‍ट रेट्स

    ‘पेट्रोल बिक्री कोविड से पहले के स्‍तर पर पहुंची’
    इक्रा की मुख्‍य अर्थशास्‍त्री नायर ने कहा कि कोरोना वैक्सीन की लगाई गई पहली डोज की संख्या के आधार पर इस साल के आखिर तक देश के व्यस्कों में से 60-65 फीसदी के पूरी तरह वैक्सीनेट होने का अनुमान है. यह दर अभी लगभग 30 फीसदी की है. इस महीने के पहले पखवाड़े में सरकारी पेट्रोलियम रिफाइनरी कंपनियों की पेट्रोल बिक्री कोरोना से पहले के स्‍तर से ज्‍यादा रही है. हालांकि, डीजल की बिक्री में कमी आई है. हालांकि, दोनों ही प्रमुख ईंधनों की कीमतों में पिछले कुछ समय से जबरदस्‍त तेजी दर्ज की गई है.

    ये भी पढ़ें- Asian Paints का मुनाफा 29 फीसदी घटा, फिर भी शेयरधारकों के लिए किया अंतरिम लाभांश का ऐलान

    FM सीतारमण ने दोहरे अंक में ग्रोथ का किया दावा
    केंद्रीय वित्‍त मंत्री निर्मला सीतामरण (FM Nirmala Sitharaman) ने कुछ समय पहले कहा था कि देश मौजूदा वित्‍त वर्ष के दौरान दोहरे अंक के करीब जीडीपी बढ़ोतरी (Double Digit Growth) की दिशा में बढ़ रहा है. उन्‍होंने कहा कि वित्‍त वर्ष 2022 में देश की आर्थिक वृद्धि 8.5 फीसदी तक रहेगी. उन्‍होंने जोर देकर कहा कि ये आर्थिक वृद्धि दर अगले दशक तक कायम रहेगी. हालांकि, उन्‍होंने बताया कि वित्‍त मंत्रालय ने आर्थिक वृद्धि के आंकड़ों (Growth Numbers) को लेकर अभी कोई आकलन नहीं किया है.

    Tags: Economic growth, GDP growth, India's GDP, Indian economy, Rating, RBI, Reserve bank of india

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर