Home /News /business /

आत्मनिर्भर भारत: मनरेगा के लिए 40 हजार करोड़ रुपये का ऐलान, गांवों में प्रवासी मजदूरों को मिल सकेगा काम

आत्मनिर्भर भारत: मनरेगा के लिए 40 हजार करोड़ रुपये का ऐलान, गांवों में प्रवासी मजदूरों को मिल सकेगा काम

मनरेगा के प्रति अधिकारी ने मजदूरों को आकर्षित किया. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

मनरेगा के प्रति अधिकारी ने मजदूरों को आकर्षित किया. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

आर्थिक राहत पैकेज (Economic Package 2.0) के तहत सरकार ने आज मनरेगा के लिए अतिरिक्त 40 हजार करोड़ रुपये के आवंटन का ऐलान किया है. सरकार के इस कदम अपने घरों तक लौट रहे प्रवासी मजदूरों को काम मिल सकेगा.

    नई दिल्ली. कोविड-19 आर्थिक राहत पैकेज (Economic Package 2.0) के अंतिम किस्त में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (FM Nirmala Sitharaman) ने मनरेगा (MGNREGS) के लिए 40,000 करोड़ रुपये के अतिरिक्त आवंटन का ऐलान किया है. वित्त मंत्री ने रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि इससे ग्रामीण क्षेत्रों में वापस लौट रहे प्रवासी मजूदरों (Migrant Labours) को काम मिल सकेगा. साथ ही इससे ग्रामीण अर्थव्यवस्था (Rural Economy) को बूस्ट करने में मदद मिल सकेगी.

    बजट में 61 हजार करोड़ रुपये का प्रावधान
    वित्त मंत्री ने बताया कि 40 हजार करोड़ रुपये के इस आवंटन से 300 करोड़ व्यक्ति दिन काम मिल सकेगा. इसके पहले बजट (Budget 2020-21) में ही केंद्र सरकार ने मनरेगा के तहत 61 हजार करोड़ रुपये देने का प्रावधान किया था.



    यह भी पढ़ें: 65 लाख पेंशनधारकों को राहत, अब पेंशन जारी करने वाले बैंक नहीं करेंगे मनमानी

    आज ये 7 ऐलान किए गए
    20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज के पांचवें और अंतिम किस्त में वित्त मंत्री ने आज 7 कदम उठाने का ऐलान किया है. सरकार ने आज मनरेगा, ग्रामीश और शहरी क्षेत्रों में स्वास्थ्य सुविधा और शिक्षा सुविधा, कोविड-19 से प्रभावित होने वाले कारोबार, कंपनीज एक्ट का वैधीकरण, ईज़ ऑफ डूईंग बिजनेस और पब्लि​क सेक्टर एंटरप्राइज को लेकर ऐलान किया है.

    वित्त मंत्री ने बताया कि मार्च के अंतिम सप्ताह में लॉकडाउन के ऐलान के बाद सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत जो भी ऐलान किया था, उसे समय में रहते पूरा किया गया है. बता दें कि इस दौरान सरकार ने 1.7 लाख करोड़ रुपये के पैकेज का ऐलान किया था, जिसमें पब्लिक डिस्ट्रिब्युशन सिस्टम के तहत 5 किलोग्राम अनाज और 1 किलोग्राम दाल पहुंचाने की व्यवस्था की गई.

    यह भी पढ़ें: आर्थिक पैकेज: सस्ता होगा कैंसर और दूसरी खतरनाक बीमारियों का इलाज, जानिए कैस

    ऑनलाइन हुईं देश की 1000 मंडियां, वन नेशन वन मार्केट से किसानों को मिलेगा लाभ

    Tags: Business news in hindi, Economic Package, Economic Reform, Nirmala sitharaman

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर