सरकार ने दिए संकेत! दीवाली से पहले कम हो सकती हैं GST की दरें

वाहन उद्योग के जीएसटी दर में कटौती की मांग के बीच उन्होंने यह बात कही है. वाहन और कल-पुर्जे बनाने वाली कंपनियां जीएसटी दर को 28 प्रतिशत से घटाकर 18 प्रतिशत पर लाने को कहा है ताकि क्षेत्र को सुस्ती से बाहर निकलने में मदद मिले.

भाषा
Updated: September 6, 2019, 3:18 PM IST
सरकार ने दिए संकेत! दीवाली से पहले कम हो सकती हैं GST की दरें
सरकार ने दिए संकेत! दीवाली से पहले कम हो सकती हैं GST की दरें
भाषा
Updated: September 6, 2019, 3:18 PM IST
वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने शुक्रवार को वाहन कंपनियों से माल एवं सेवा कर (जीएसटी) में कटौती का मुद्दा जीएसटी परिषद में शामिल राज्य के वित्त मंत्रियों के समक्ष भी उठाने को कहा. साथ ही उन्होंने केंद्र की तरफ से हर संभव सहायता का आश्वासन भी दिया. वाहन उद्योग के जीएसटी दर में कटौती की मांग के बीच उन्होंने यह बात कही है. वाहन और कल-पुर्जे बनाने वाली कंपनियां जीएसटी दर को 28 प्रतिशत से घटाकर 18 प्रतिशत पर लाने को कहा है ताकि क्षेत्र को सुस्ती से बाहर निकलने में मदद मिले.

वाहनों के कल-पुर्जे बनाने वालों के संगठन (आटोमोटिव कम्पोनेन्ट मैनुफैक्चरर्स एसोसिएशन) के सालाना सम्मेलन में ठाकुर ने कहा कि आपको पता है कि जीएसटी दर में किसी भी प्रकार की कटौती के लिये पहले फिटमेंट कमेटी (समायोजन समिति) से और उसके बाद जीएसटी परिषद से मंजूरी लेनी होती है. मैं आप सभी से जीएसटी परिषद में शामिल राज्यों के वित्त मंत्रियों से मिलने और उनके समक्ष अपनी बात रखने का आग्रह करता हूं.

ये भी पढ़ें: अब आपके घर पर भी लगेगा बिजली का स्मार्ट मीटर, जानिए इसके बारे में सबकुछ

उन्होंने कहा कि वित्त मंत्रालय को कार विनिर्माताओं, डीलरों और संबंधित पक्षों से जीएसटी दर में कटौती को लेकर कई ज्ञापन मिले हैं. उन्होंने बाद में संवाददाताओं से कहा, ‘‘कई मूल उपकरण विनिर्माता (ओईएम) देश के विभिन्न हिस्सों में काम कर रहे हैं. मुद्दा यह है कि क्या वे इस मामले को अपने वित्त मंत्रियों के समक्ष उठाते हैं या नहीं?’’

ठाकुर ने कहा कि राज्यों के वित्त मंत्रियों को ओईएम या वाहन निर्माताओं की चुनौतियों से अवगत होना चाहिए. उन्होंने कहा, ‘‘हमारा आग्रह है कि उन्हें भी इस बारे में अवगत करायें ताकि जब भी जीएसटी परिषद में इस मुद्दे पर चर्चा हो, हर किसी की इस पर अपनी राय होनी चाहिए.’’

ये भी पढ़ें: इस तरह के Aadhaar कार्ड नहीं हैं वैलिड, UIDAI ने बड़े नुकसान की दी चेतावनी

ठाकुर ने कार्यक्रम में कहा कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण पिछली बैठक में कह चुकी हैं कि केंद्र मामले पर विचार के लिये उसे जीएसटी परिषद में लेने जाने के लिये तैयार है. जीएसटी परिषद की अगली बैठक 20 सितंबर को गोवा में होगी. वित्त राज्य मंत्री ने कहा कि सरकार ने वाहन उद्योग की चुनौतियों के समाधान के लिये कई उपाय किये हैं. उन्होंने कहा, ‘‘हमारी सरकार इस उद्योग को प्राथमिकता दे रही है.’’

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 6, 2019, 3:18 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...