Home /News /business /

Budget 2021: आज संसद में पेश किया जाएगा इकोनॉमिक सर्वे, जानें क्या है बजट से इसका संबंध

Budget 2021: आज संसद में पेश किया जाएगा इकोनॉमिक सर्वे, जानें क्या है बजट से इसका संबंध

आने वाले बजट के रूपरंग का अंदाजा वित्तमंत्री के अलावा और किसे हो सकता है. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

आने वाले बजट के रूपरंग का अंदाजा वित्तमंत्री के अलावा और किसे हो सकता है. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

केंद्र सरकार अगले वित्‍त वर्ष के लिए संसद में बजट पेश करती है, जबकि इकोनॉमिक सर्वे (Economic Survey) मौजूदा फाइनेंशियल ईयर का लेखा-जोखा होता है. इसमें मौजूदा वित्‍त वर्ष के लिए देश के विकास का लेखा-जोखा रहता है. वहीं, वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण 1 फरवरी 2021 को संसद में बजट 2021-22 पेश करेंगी.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. केंद्रीय बजट (Budget 2021) से पहले फाइनेंशियल ईयर 2020-21 का इकोनॉमिक सर्वे या आर्थ‍िक सर्वेक्षण (Economic Survey) आज यानी 29 जनवरी 2021 को संसद में पेश किया जाएगा. इस सर्वे के पेश होने के साथ ही बजट सेशन की शुरुआत भी हो जाएगी. सरल भाषा में कहें तो इकोनॉमिक सर्वे में देश की आर्थिक सेहत का लेखा-जोखा होता है. इकोनॉमिक सर्वे 2020-21 के मुख्य वास्तुकार चीफ इकोनॉमिक एडवाइजर कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यन (Krishnamurthy Subramanian) हैं.

    आर्थ‍िक विकास का लेखा-जोखा होता है इकोनॉमिक सर्वे
    केंद्र सरकार अगले फाइनेंशियल ईयर के लिए बजट पेश करती है, जबकि इकोनॉमिक सर्वे मौजूदा फाइनेंशियल ईयर का लेखा-जोखा होता है. इस साल 1 फरवरी को फाइनेंशियल ईयर 2021-22 के लिए बजट पेश होगा, लेकिन आज जो इकोनॉमिक सर्वे पेश किया जाएगा, वह मौजूदा साल 2020-21 के लिए है. इसमें पूरे साल के आर्थ‍िक विकास का लेखा-जोखा होगा.

    ये भी पढ़ें- Budget 2021: विनिवेश का टार्गेट नहीं हो सकेगा पूरा, अगले साल के लिए 2 लाख करोड़ रुपये हो सकता है लक्ष्य

    इकोनॉमिक सर्वे का बजट से कैसे लेना-देना?
    इकोनॉमिक सर्वे एक महत्वपूर्ण इकोनॉमिक रिपोर्ट कार्ड है. इसका काम इकोनॉमी के सभी पहलुओं को देखते हुए विस्तार से स्टैटिस्टिकल डेटा मुहैया कराना है. नियम और कायदे के मुताबिक सरकार पर सर्वे पेश करने की बाध्यता नहीं है. ये प्रक्रिया का एक हिस्सा है. इसके अलावा सर्वे में जिन सुधारों की अनुशंसा की गई है. उन्हें भी सरकार मानने के लिए बाध्य नहीं है. इस सर्वे में देश की इकोनॉमी के दृष्टिकोण और चुनौतियों पर चर्चा की जाती है. इनमें सुधारों की सिफारिश की जाती है. जबकि बजट में कमाई और खर्च का एक अनुमान होता है. इसमें योजनाओं के लिए फंड का आवंटन होता है.

    ये भी पढ़ें- Budget 2021: आम आदमी को बड़ी राहत देने की तैयारी, टैक्स में मिल सकती है 80 हजार रुपये की छूट

    आज से शुरू हो जाएगा बजट सेशन भी
    संसद का बजट सेशन भी आज से ही शुरू हो जाएगा. सेशन के दौरान 1 फरवरी को संसद में फाइनेंशियल ईयर 2021-22 का आम बजट पेश किया जाएगा. लोकसभा सचिवालय के बयान के मुताबिक, दो हिस्सों में चलने वाला बजट सेशन 8 अप्रैल 2021 तक चलेगा. बजट सेशन का पहला चरण 29 जनवरी से 15 फरवरी 2021 तक चलेगा जबकि दूसरा चरण 8 मार्च से 8 अप्रैल 2021 तक चलेगा.

    Tags: Annual Economic Survey, Budget, Budget 2021

    अगली ख़बर