KIIFB मामले में ईडी को मिली कई जानकारी, जल्द शुरू होगी पूछताछ, जानें क्या है पूरा मामला

KIIFB मामले में ईडी को मिली कई जानकारी

KIIFB मामले में ईडी को मिली कई जानकारी

ईडी की टीम को केरल इंफ्रास्ट्रक्चर इन्वेस्टमेंट फण्ड बोर्ड से जुड़े निवेश मसले पर कई नए इनपुट्स मिले हैं. इसी के आधार पर आने वाले वक्त में इस संस्था के सीईओ सहित कई अधिकारियों से पूछताछ होगी. इसके साथ ही संस्था के बैंकिंग पार्टनर एक्सिस बैंक से भी कई और दस्तावेज मांगे जा रहे हैं.

  • Share this:

नई दिल्ली: केंद्रीय जांच एजेंसी ईडी (ED ) द्वारा KIIFB संस्था के खिलाफ चल रहे मामले में तफ्तीश के दौरान कई नए इनपुट्स मिले हैं. इसके साथ ही आने वाले दो सप्ताह के दौरान कई लोगों से पूछताछ की जाएगी. ईडी मुख्यालय के वरिष्ठ सूत्र ने इस मामले की पुष्टी भी कर दी है .दरअसल, ये मामला फेमा कानून (FEMA) के उल्लंघन से संबंधित दर्ज हुआ था. लिहाजा इस मामले में कार्रवाई को अंजाम देते हुए ईडी ने कुछ दिनों पहले KIIFB के CEO के. एम. अब्राहम और डिप्टी CEO को इस मामले में एक नोटिस भेजकर पूछताछ में शामिल होने के लिए बुलाया है.

ईडी के सूत्रों के मुताबिक, ये मामला बॉन्ड (Masala Bonds) से जुडा हुआ है, जिसके तहत इस वित्तीय संस्था द्वारा विदेश में रहने वाले लोगों से इस बॉन्ड के मार्फत निवेश करवाया गया और पैसे अर्जित किए गए, लेकिन इस मामले की जानकारी केन्द्र सरकार या संबंधित जांच एजेंसियों को जानकारी नहीं दी गई. इसी मामले की तफ्तीश के लिए पूछताछ को लेकर ईडी के द्वारा नोटिस भेजा गया है. हालांकि अभी तक पूछताछ के लिए वक्त निर्धारित नहीं किया गया है.

यह भी पढ़ें: नौकरी करने वालों के लिए बड़ी खबर, 1 अप्रैल से 5 घंटे करना होगा काम और बढ़ेगा पीएफ, जानें सरकार का प्लान

नोटिस में सिर्फ ये लिखा गया है कि एक सप्ताह के अंदर आपको पूछताछ की प्रकिया में शामिल होना है. मसाला बॉन्ड के नाम पर इस संस्था द्वारा अर्जित पैसे और लेनदेन जांच के राडार पर है. ईडी सूत्रों के मुताबिक, इसी मामले में आने वाले वक्त में एक्सिस बैंक (Axis Bank) के अधिकारियों से तमाम पूछताछ की जा सकती है क्योंकि इस संस्था के साथ एक करार के मुताबिक, बैंकिंग पार्टनर के तौर पर एक्सिस बैंक कार्य कर रही है .
केरल इंफ्रास्ट्रक्चर इन्वेस्टमेंट फण्ड बोर्ड पहले भी आया था जांच के राडार पर

केआईआईएफबी (KIIFB) संस्था का नाम पिछले साल 2020 में हुई एक तफ्तीश के दौरान सामने आया था. दरअसल, ईडी की मुंबई ब्रांच द्वारा यस बैंक घोटाला मामले की तफ्तीश के दौरान केरल इंफ्रास्ट्रक्चर इन्वेस्टमेंट फण्ड बोर्ड (KIIFB) का नाम सामने आया था. बता दें इस संस्था द्वारा यस बैंक (YES BANK) में करीब 250 करोड़ रूपये का निवेश किया था.

इस मामले में केन्द्रीय वित्त राज्य मंत्री (Union minister of state finance) अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) ने सितंबर 2020 में राज्यसभा में सांसद जावेद अली खान द्वारा पूछे गए एक सवाल के दौरान भी इस बात को स्वीकार किया था कि-हमारे मंत्रालय को इस मसले पर शिकायत मिली है. लिहाजा जांच एजेंसी द्वारा इस मामले की तफ्तीश करवाई जा रही है. बुधवार तीन मार्च 2021 को ईडी मुख्यालय के वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, उसी तफ्तीश के दौरान ये पता करने की कोशिश की जा रही थी की ये करीब 250 करोड़ रूपये किस तरह से संस्था में आए और किन-किन लोगों ने ये निवेश किया था, लेकिन अबतक हुई जांच के दौरान कई अन्य महत्वपूर्ण जानकारियां जांच एजेंसी के सामने आ चुकी है.



यह भी पढ़ें: BoB ग्राहकों के लिए अच्छी खबर, अब बैंकिग कामकाज के लिए सेव कर लें ये नंबर, मिलेगा बड़ा फायदा

क्या है केरल इंफ्रास्ट्रक्चर इन्वेस्टमेंट फण्ड बोर्ड?

केरल इंफ्रास्ट्रक्चर इन्वेस्टमेंट फंड बोर्ड साल 1999 में केरल राज्य सरकार द्वारा बनाया गया एक वित्तीय संस्था है, जिसका मुख्यालय त्रिवनंतपुरम (Thiruvananthapuram ) में है, जो राज्य के विकास के लिए देश के बाहर से भी फंड इकट्ठा करने के लिए बनाया गया था.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज