चंदा कोचर और वीडियोकॉन के मालिक के घर और दफ्तर पर ED का छापा

प्रवर्तन निदेशाल ने आईसीआईसीआई बैंक की पूर्व एमडी व सीईओ चंदा कोचर और वीडियोकॉन के मालिक के घर ओर दफ्तरों पर छापेमारी की है.

News18Hindi
Updated: March 1, 2019, 10:53 AM IST
चंदा कोचर और वीडियोकॉन के मालिक के घर और दफ्तर पर ED का छापा
आईसीआईसीआई बैंक की पूर्व एमडी व सीईओ चंदा कोचर
News18Hindi
Updated: March 1, 2019, 10:53 AM IST
प्रवर्तन निदेशाल ने आईसीआईसीआई बैंक की पूर्व एमडी व सीईओ चंदा कोचर और वीडियोकॉन के मालिक के घर ओर दफ्तरों पर छापेमारी की है. बताया जा रहा है कि ये छापेमारी मुंबई और औरंगाबाद में की जा रही है. अभी तक की जानकारी के मुताबिक प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारी एक साथ 15-16 जगहों पर छापेमारी की कार्रवाई को अंजाम दे रहे हैं.

चंदा कोचर पर मार्च 2018 में अपने पति को आर्थिक फ़ायदा पहुंचाने के लिए अपने पद के दुरुपयोग का आरोप लगा था. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, आईसीआईसीआई बैंक ने वीडियोकोन समूह को 3,250 करोड़ रुपये का लोन दिया था. वीडियोकॉन ग्रुप ने इस लोन में से 86 फीसदी (करीब 2810 करोड़ रुपये) नहीं चुकाए. 2017 में इस लोन को एनपीए (नॉन परफॉर्मिंग असेट्स) में डाल दिया गया.

इसे भी पढ़ें :- चंदा कोचर को ICICI बैंक के चुकाने होंगे 350 करोड़ रुपये, जानिए क्या है पूरा मामला

लेकिन तभी एक खबर के जरिए पता चला कि वीडियोकॉन समूह के चेयरमैन वेणुगोपाल धूत के कोचर के पति दीपक कोचर के साथ बिजनेस संबंध है. वीडियोकॉन ग्रुप की मदद से बनी एक कंपनी बाद में चंदा कोचर के पति दीपक कोचर की अगुवाई वाली पिनैकल एनर्जी ट्रस्ट के नाम कर दी गई. यह आरोप लगाया गया कि धूत ने दीपक कोचर की सह स्वामित्व वाली इसी कंपनी के ज़रिए लोन का एक बड़ा हिस्सा स्थानांतरित किया था. आरोप है कि 94.99 फ़ीसदी होल्डिंग वाले ये शेयर्स महज 9 लाख रुपये में ट्रांसफ़र कर दिए गए.

चंदा कोचर को देना पड़ा इस्तीफा
जून में, चंदा कोचर ने छुट्टी पर जाने का निर्णय लिया था. उसके बाद संदीप बख्शी को 19 जून को बैंक का सीओओ बनाया गया था. इसके बाद वो काम पर नहीं लौटी और अपना इस्तीफा दे दिया.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स
First published: March 1, 2019, 10:45 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...