अच्छी खबर! एम्प्लॉयमेंट के आंकड़ों में भारी इजाफा, जनवरी 2021 में 1.20 करोड़ लोगों को मिला रोजगार

जनवरी में रोजगार के अवसर बढ़ने से बेरोजगरों की संख्या औसत 3.3 करोड़ से कम होकर 2.79 करोड़ पर आ गया है.

Employment Data: CMIE ने जनवरी 2021 के लिए रोजगार के आंकड़े जारी कर दिया है. पिछले महीने 1.20 करोड़ लोगों को रोजगार मिला है. दिसंबर 2020 तक देश में रोजगार करने वाले लोगों की कुल संख्या 38.88 करोड़ था. जनवरी 2021 में यह बढ़कर 40.07 करोड़ पर पहुंच गया.

  • Share this:
    नई दिल्ली. जनवरी के महीने में देश में रोजगार के आंकड़े में इजाफा हुआ है. पिछले एक महीने में करीब 1.20 करोड़ लोगों को रोजगार मिला है. इस प्रकार बेरोजगारी दर दिसंबर के 9.1 फीसदी से कम होकर 6.5 फीसदी पर आ गई है. सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी (CMIE) के आंकड़ों से इस बारे में जानकारी मिलती है. CMIE के मुताबिक, किसी भी एक महीने के दौरान रोजगार के आंकड़ों में यह सबसे बड़ा इजाफा है. लॉकडाउन से पहले प्रति महीने का यह आंकड़ा करीब 5 लाख रोजगार का था. इस प्रकार जनवरी 2021 के दौरान इसमें दोगुना से ज्यादा का इजाफा हुआ है.

    दिसंबर 2020 तक देश में रोजगार करने वाले लोगों की कुल संख्या 38.88 करोड़ था. जनवरी 2021 में यह बढ़कर 40.07 करोड़ पर पहुंच गया. मार्च 2020 में लॉकडाउन के बाद से यह उच्चतम आंकड़ा है. इस प्रकार देश में रोजगार दर दिसंबर के 36.9 फीसदी से बढ़कर 37.9 फीसदी पर पहुंच गया है.

    CMIE ने अपनी रिपोर्ट में कहा, 'भारत में अभी भी रोजगार की संख्या लॉकडाउन के पहले से कम है. लेकिन अब ऐसे लोगों की संख्या भी कम हो गई है जो रोजगार करना चाहते हैं. रिकवरी अभी भी अधूरी है लेकिन हमने जनवरी 2021 में बेहतर किया है.'

    यह भी पढ़ें: आपके सेविंग्स अकाउंट पर फिक्स्ड डिपॉजिट से ज्यादा ब्याज मिलेगा, आज ही बैंक जाकर करें ये काम

    रोजगार खोजने वालों की संख्या कम हुई
    ​इस रिपोर्ट के मुताबिक, जनवरी में रोजगार के अवसर बढ़ने से बेरोजगरों की संख्या औसत 3.3 करोड़ से कम होकर 2.79 करोड़ पर आ गया है. वास्तव में यह वित्त वर्ष 2019-20 की तुलना में उन लोगों की बेरोजगार लोगों की संख्या में कमी है जो रोजगार करना चाहते हैं और इसकी तलाश में है. जनवरी के दौरान ऐसे लोगों की संख्या कम रही जो रोजगार तो करना चाहते हैं लेकिन उन्हें मौके नहीं मिले हैं. यह बीते दो साल में सबसे कम 4 करोड़ पर रहा है.

    पिछले 6 महीने में औसत बेरोजगारी दर 7.4 फीसदी रही
    सीएमआईई के मुताबिक, पिछले 6 महीने के दौरान बेरोज़गारी दर के आंकड़े में काफी उतार-चढ़ाव देखने को मिला है. नवंबर में यह न्यूनतम 6.5 फीसदी पर और दिसंबर में 9.1 फीसदी पर था. पिछले छह महीने में बेरोजगारी की औसत दर 7.4 फीसदी रही है.

    यह भी पढ़ें: वैश्विक कर्ज बढ़कर 281 ट्रिलियन डॉलर के पार, 2021 में भी होगा इजाफा: रिपोर्ट

    रिपोर्ट में कहा गया, 'सामान्य समय में बेरोजगारी दर के आंकड़े में उतार-चढ़ाव से अनौपचारिक रोजगार के बढ़ते अनुपात के बारे में पता चलता है. भारत में रोजगार करने वाले अधिकतर लोगों के पास नौकरी नहीं है. किसी भी समय में उनकी नौकरी देश की अर्थव्यवस्था की स्थिति, लोकल स्तर की स्थिति, बिज़नेस के हालात और कुछ हद तक उनके किस्म​त तक पर ​​निर्भर करती है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.