वीडियोकॉन केस: ED का बड़ा एक्शन, चंदा कोचर और उनके पति के खिलाफ आरोप पत्र दायर

आईसीआईसीआई बैंक की पूर्व मुख्य कार्यकारी अधिकारी और प्रबंध निदेशक चंदा कोचर
आईसीआईसीआई बैंक की पूर्व मुख्य कार्यकारी अधिकारी और प्रबंध निदेशक चंदा कोचर

ईडी (ED) ने आईसीआईसीआई बैंक की पूर्व मुख्य कार्यकारी अधिकारी और प्रबंध निदेशक चंदा कोचर (Chanda Kochhar), उनके पति दीपक कोचर (Deepak Kochhar) और वीडियोकॉन समूह (Videocon Group) के प्रवर्तक वेणुगोपाल धूत (Venugopal Dhoot) के खिलाफ पहला चार्जशीट दायर किया है.

  • Share this:
मुंबई. आईसीआईसीआई बैंक-वीडियोकॉन मामले (ICICI Bank-Videocon Case) में प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) ने बड़ा कदम उठाया है. ईडी ने आईसीआईसीआई बैंक की पूर्व मुख्य कार्यकारी अधिकारी और प्रबंध निदेशक चंदा कोचर (Chanda Kochhar), उनके पति दीपक कोचर (Deepak Kochhar) और वीडियोकॉन समूह (Videocon Group) के प्रवर्तक वेणुगोपाल धूत (Venugopal Dhoot) के खिलाफ पहला चार्जशीट दायर किया है.

ICICI Bank-Videocon मनी लॉन्ड्रिंग केस में आरोप पत्र दायर
आधिकारिक सूत्रों ने बुधवार को कहा कि ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग रोकथाम कानून (Prevention of Money Laundering Act) की धाराओं के तहत यह आरोपपत्र दाखिल किया है. ईडी ने इसे मंगलवार को मुंबई में एक विशेष अदालत के समक्ष दाखिल किया और अदालत का अभी इस पर संज्ञान लेना बाकी है.

प्रवर्तन निदेशालय ने सितंबर में दीपक कोचर को किया था गिरफ्तार 
सीबीआई के कोचर, धूत और अन्य के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने के बाद ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग का आपराधिक मामला दायर किया था. इसके बाद ईडी ने सितंबर में दीपक कोचर को गिरफ्तार किया था. ईडी ने कोचर दंपत्ति और उनकी कारोबार इकाइयों पर वीडियोकॉन समूह की कंपनियों को 1,875 करोड़ रुपये का लोन गैरकानूनी तरीके से आवंटित करने और उसमें मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप दायर किए हैं.



ये भी पढ़ें- RBI ने सुप्रीम कोर्ट से कहा- NPA घोषणा पर प्रतिबंध के अंतरिम आदेश को हटाया जाए

ईडी ने कहा था कि चंदा कोचर की अध्यक्षता वाली समिति ने वीडियोकॉन इंटरनेशनल इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड को 300 करोड़ रुपये का ऋण आवंटित किया था. इस लोन के प्राप्त होने के अगले ही दिन आठ सितंबर 2009 को वीडियोकॉन इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने 64 करोड़ रुपये की राशि उनके पति की कंपनी न्यूपॉवर रिन्युएबल प्राइवेट लिमिटेड (एनआरपीएल) को स्थानांतरित किया था. एनआरपीएल को पहले न्यूपॉवर रिन्यूएबल लिमिटेड (एनआरएल) के नाम से जाना जाता था.

ये भी पढ़ें- Diwali 2020: दिवाली से पहले काजू-बादाम और किशमिश की कीमतों में भारी गिरावट, लेकिन जल्द बढ़ सकते हैं दाम
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज