लाइव टीवी

1 जनवरी 2020 से बदल जाएगा PF का ये नियम, 50 लाख से ज्यादा लोगों को अब होगा फायदा

News18Hindi
Updated: November 4, 2019, 9:05 PM IST
1 जनवरी 2020 से बदल जाएगा PF का ये नियम, 50 लाख से ज्यादा लोगों को अब होगा फायदा
50 लाख अतिरिक्त कर्मचारियों को सोशल सिक्योरिटी देने का फैसला

एम्प्लॉई प्रोविडेंट फंड (EPF) के नियमों में जल्द बड़ा बदलाव होने जा रहा है. बता दें कि 1 जनवरी 2020 से एम्प्लॉई प्रोविडेंट फंड (Employee Provident Fund) के नए नियम लागू होने वाले हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 4, 2019, 9:05 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. एम्प्लॉई प्रोविडेंट फंड (EPF) के नियमों में जल्द बड़ा बदलाव होने जा रहा है. बता दें कि 1 जनवरी 2020 से एम्प्लॉई प्रोविडेंट फंड (Employee Provident Fund) के नए नियम लागू होने वाले हैं. केंद्र सरकार के श्रम मंत्रालय ने इसके लिए एक नोटिफिकेशन भी जारी कर दिया है. कर्मचारियों की सोशल सिक्योरिटी (सामाजिक सुरक्षा) को देखते हुए EPFO ने यह कदम उठाया है. मौजूदा 6 करोड़ सदस्यों के अलावा करीब 50 लाख अतिरिक्त कर्मचारियों को सोशल सिक्योरिटी देने का फैसला किया गया है. यह जम्मू-कश्मीर में कर्मचारियों के लिए होगा, जिनका अभी तक पीएफ नहीं कटता है.

श्रम एवं रोजगार मंत्रालय के नोटिफिकेशन में लिखा गया है, 'केंद्रीय सरकार, कर्मचारी भविष्य निधि संगठन और प्रकीर्ण उपबंध अधिनियम 1952, (1952 का 19) की धारा 1 की उपधार (3) के परंतुक द्वारा प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए, उक्त अधिनियम के उपबंधों का दम या अधिक व्यक्तियों को नियोजित करने वाले स्थापनों और जो तत्कालीन जम्मू-कश्मीर कर्मचारी भविष्य निधि और प्रकीर्ण उपबंध अधिनियम, 1961 (1961 का 15), जैसा कि वह जम्मू-कश्मीर पुनगर्ठन अधिनियम, 2019 (2019 का 34) द्वारा निरसन से पूर्व था, के उपबंधों के अधीन आने वाले स्थानों पर 1 जनवरी, 2020 के विस्तार करती है.

कहां लागू होता है EPF नियम?
नियमों के मुताबिक, प्रोविडेंट फंड वहां लागू होता है. जहां किसी भी संस्थान, फर्म, कार्यालय में 20 या उससे ज्यादा कर्मचारी होते हैं. EPF अधिनियम के तहत ऐसे संस्थानों को ही EPF की सदस्यता दी जाती है. अब केंद्र सरकार ने कर्मचारियों की सोशल सिक्योरिटी देने के मकसद से इसकी सीमा घटाकर 10 कर दी है. अब जिन संस्थानों में 10 या उससे ज्यादा कर्मचारी होंगे, वो संस्थान EPF के दायरे में आएगी.

 ये भी पढ़ें: SBI शुरू कर रहा नीलामी, आधी से भी कम कीमत पर खरीदें घर और दुकानें



EPF के दायरे में आने के लिए अभी थे ये रूल्स
Loading...

EPF के दायरे में आने वाले के लिए 10 या उससे ज्यादा कर्मचारियों वाले संस्थानों को एम्प्लॉई प्रोविडेंट फंड एंड मिसलेनियस प्रोविजन एक्ट (Employees’ Provident Fund and Miscellaneous Provisions Act) के तहत खुद को रजिस्टर कराना होगा. फिलहाल, सिर्फ वो ही संस्थान इस एक्ट के दायरे में आते हैं, जहां कर्मचारियों की संख्या 20 या उससे ज्यादा होती है.



ये भी पढ़ें: SBI खाताधारकों के लिए अलर्ट! 30 नवंबर तक नहीं जमा किया ये फॉर्म, तो अटक जाएगा पैसा 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 4, 2019, 3:11 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...