होम /न्यूज /व्यवसाय /

EPFO : क्या आपको पता है आपके PF का कितना पैसा शेयरों में होता है इन्वेस्ट? जानिए यहां

EPFO : क्या आपको पता है आपके PF का कितना पैसा शेयरों में होता है इन्वेस्ट? जानिए यहां

कर्मचारी को पीएफ अमाउंट पर इंटरेस्ट देने के लिए ईपीएफओ कई जगह पैसे को निवेश करती है.

कर्मचारी को पीएफ अमाउंट पर इंटरेस्ट देने के लिए ईपीएफओ कई जगह पैसे को निवेश करती है.

ईपीएफओ पूरी तरह रिस्क फ्री है और इसका इंटरेस्ट भी आमतौर पर दूसरी इन्वेस्टमेंट संस्थाओं से ज्यादा होता है. कर्मचारी को पीएफ अमाउंट पर इंटरेस्ट देने के लिए ईपीएफओ कई जगह पैसे को निवेश करती है.

हाइलाइट्स

जॉब करने वाले लोगों के पीएफ (PF) का प्रबंधन EPFO (Employee Provident Fund Organisation) करता है.
ईपीएफओ पूरी तरह रिस्क फ्री है, क्योंकि इसे सरकारी निर्देशों का पालन करना पड़ता है.
कर्मचारी को पीएफ अमाउंट पर इंटरेस्ट देने के लिए ईपीएफओ कई जगह उनके पैसे को निवेश करती है.

नई दिल्ली. आपको पता ही होगा कि नौकरी करने वाले लोगों की सैलरी का कुछ हिस्सा हर महीने ईपीएफ (EPF) यानी कि कर्मचारी भविष्य निधि में जमा होता है. प्राइवेट सेक्टर में जॉब करने वाले लोगों के पीएफ (PF) का प्रबंधन EPFO (Employee Provident Fund Organisation) करता है. ईपीएफओ पूरी तरह रिस्क फ्री है और इसका इंटरेस्ट भी आमतौर पर दूसरी इन्वेस्टमेंट संस्था से ज्यादा होता है. कर्मचारी को पीएफ अमाउंट पर इंटरेस्ट देने के लिए ईपीएफओ कई जगह इस पैसे को निवेश करती है. इसमें शेयर और शेयरों से जुड़े उत्पाद भी शामिल होते हैं.

8 अगस्त को श्रम और रोजगार मंत्रालय ने लोकसभा में यह बताया कि ईपीएफओ अपना कितना पैसा शेयरों में इन्वेस्ट करता है. श्रम और रोजगार राज्यमंत्री रामेश्वर तेली ने बताया कि EPFO अपना 85 फीसदी फंड डेट इंस्ट्रूमेंट में इन्वेस्ट करता है. 15 फीसदी फंड वह एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (ETF) में निवेश करता है. इस सबके लिए सरकार की तरफ से इन्वेस्टमेंट पैटर्न तय किया गया है. मंत्रालय ने यह जानकारी एक सवाल के जवाब में दी.

ये भी पढ़ें – सेविंग अकाउंट पर मिलने वाला टैक्स बेनिफिट! बहुत सारे लोगों को इसके बारे में नहीं पता

फाइनेंशियल ईयर 2021-22 में जून तक कुल 84,477.67 करोड़ का निवेश

आगे उन्होंने बताया कि फाइनेंशियल ईयर 2019-20 में ईपीएफओ ने कुल 2,20,236.47 करोड़ रुपये का निवेश किया, जिसमें से 31,501.09 करोड़ रुपये का निवेश ईटीएफ में किया गया. फाइनेंशियल ईयर 2020-21 में ईपीएफओ ने कुल 2,18,533.88 करोड़ रुपये का निवेश किया, जिसमें से 32,070.84 करोड़ रुपये का निवेश ईटीएफ में किया गया. 2021-22 में ईपीएफओ ने (जून 2022) तक कुल 84,477.67 करोड़ रुपये का निवेश किया, जिसमें से 12,199.26 करोड़ रुपये का निवेश ईटीएफ में किया गया.

सांसद रवि किशन और पूर्वी दिल्ली के सांसद मनोज तिवारी सहित सांसद के 10 सदस्यों ने श्रम एवं रोजगार मंत्रालय से ईपीएफओ के फंड के निवेश के बारे में सवाल पूछे थे. उन्होंने यह भी पूछा कि ईपीएफओ ने पिछले तीन फाइनेंशियल ईयर में अपना कितना पैसा कहां निवेश किया.

इन सवालों के जवाब में तेली ने सांसदों को बताया कि पोर्टफोलियो मैनेजर और ईटीएफ मैन्युफैक्चरर्स यह निवेश करते हैं. ईपीएफओ का सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टी (CBT) इस काम के लिए इनकी नियुक्ति करता है. उन्होंने यह भी बताया कि ईपीएफओ के फाइनेंशियल कंसल्टेंट्स और एक्सटर्नल कनकरेंट ऑडिटर सभी तरह के इन्वेस्टमेंट पर नजर रखते हैं. वे यह भी सुनिश्चित करते हैं कि निवेश सरकार की तरफ से जारी निर्देश के मुताबिक किया जा रहा है या नहीं. उन्होंने कहा कि ईपीएफओ की सीबीटी की तरफ से भी इन्वेस्टमेंट गाइडलाइंस जारी की जाती है.

Tags: Benefits of PF, Business news, Business news in hindi, Employees’ Provident Fund (EPF), EPFO account, EPFO for self employed, Provident Fund, Ravi Kishan

अगली ख़बर