• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • निकाल रहे हैं अपने PF खाते से पैसा तो जानें ये जरूरी नियम, वरना कट जाएगा टैक्स

निकाल रहे हैं अपने PF खाते से पैसा तो जानें ये जरूरी नियम, वरना कट जाएगा टैक्स

PF का पैसा निकालने पर लगेगा टैक्स

PF का पैसा निकालने पर लगेगा टैक्स

अगर आप जॉब में पांच साल से कम समय तक रहे और इस बीच PF अकाउंट से पैसे निकालते हैं तो इनकम टैक्स कानून के नियमों के हिसाब से आपको इस पर इनकम टैक्स चुकाना पड़ेगा.

  • Share this:
    नई दिल्ली. कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) में लोगों की आर्थिक मदद के लिए सरकार ने पीएफ से जुड़े नियमों में छूट देने का ऐलान किया है. EPFO (Employees Provident Fund Organisation) के नए नियम के मुताबिक कर्मचारी अब पीएफ खाते में से तीन महीने की बेसिक सैलरी और डीए या पीएफ में जमा रकम के 75 फीसदी में से जो कम हो, उतनी रकम निकाल सकते हैं. इस रकम को दोबारा इसमें जमा करने की जरूरत नहीं है.

    आपको बता दें कि अगर कोई कर्मचारी 5 साल की अवधि से पहले अपना पीएफ निकाल लेता है तो उसे ईपीएफ निकालते समय टैक्स भरना पड़ता है. नौकरी बदलने के केस में कर्मचारी की EPF दूसरे इम्प्लॉयर में ट्रांसफर हो जाएगा. ऐसे में कर्मचारी का कंटीनुअस पीरियड कैलकुलेट करते समय नए इम्पलॉयर का पीरियड भी जोड़ा जाएगा.

    अगर आप जॉब में पांच साल से कम समय तक रहे और इस बीच PF अकाउंट से पैसे निकालते हैं तो इनकम टैक्स कानून के नियमों के हिसाब से आपको इस पर इनकम टैक्स चुकाना पड़ेगा.

    इन मौकों पर PF से रकम निकालने पर नहीं देना होता टैक्स
    >> अगर इम्पलॉई की तबीयत खराब होने की वजह से नौकरी चली गयी हो.
    >> नियोक्ता (कंपनी) ने कारोबार समेट लिया हो.

    जॉब नहीं होने पर PF का पैसा निकालने का ये है रूल-EPF नियमों के मुताबिक, कोई सदस्य नौकरी के दौरान जमा किये गए कुल रकम का 75% जॉब छोड़ने के एक महीने बाद निकाल सकता है. अगर व्यक्ति दो महीने से ज्यादा बेरोजगार रहता है तो वह PF अकाउंट से पूरी रकम निकाल सकता है.

    ये भी पढ़ें: Akshaya Tritiya 2020: यहां बिकता है एक रुपये का सोना, घर बैठे खरीदें

    पांच साल से पहले EPF अकाउंट से पैसे निकालने पर लगेगा टैक्स?
    >> इनकम टैक्स कानून के मुताबिक पांच साल से पहले EPF अकाउंट से रकम निकालने पर टैक्स लगता है. आप पांच साल किसी एक नियोक्ता (कंपनी) के साथ काम करें या कई इम्पलॉयर के साथ. अगर आप पांच साल तक EPF में योगदान के बाद रकम निकालते हैं तो इस रकम पर कोई टैक्स नहीं चुकाना पड़ेगा.

    >> PF अकाउंट से पांच साल से पहले रकम निकालने पर इनकम टैक्स चुकाना पड़ता है. इस रकम पर इनकम टैक्स आपके मौजूदा स्लैब के हिसाब से ही चुकाना होता है.

    >> जिस साल में आपने PF अकाउंट में योगदान (रकम जमा कराई) किया है, उस साल आपकी कुल आमदनी पर लागू टैक्स स्लैब के हिसाब से टैक्स चुकाना होता है.

    ऐसे समझें- मान लीजिये कि आपने साल 2014-15 और 2016-17 में EPF में रकम जमा कराई. इसके बाद साल 2017-18 में आपने जॉब छोड़ दी और इसी साल आपने PF अकाउंट में जमा रकम निकालने का का फैसला किया.

    इस तरह आपके PF अकाउंट से रकम निकालने पर साल 2017-18 में टैक्स चुकाना पड़ेगा. इस साल में आपकी आमदनी पर साल 2014-15 और साल 2016-17 में जो टैक्स लगता था, उसी हिसाब से इस साल आपको रकम निकासी के बाद टैक्स चुकाना पड़ेगा.

    ये भी पढ़ें: सावधान! अगर DDA से आया है ये मेसेज तो लग सकता है आपको लाखों का चूना

    किन मौकों पर PF पर टैक्स देना जरूरी- PF में योगदान के चार कंपोनेंट हैं-इम्पलॉई का योगदान, नियोक्ता द्वारा जमा कराई गयी रकम और दोनों पर ब्याज. इन चार में से तीन पर आपको टैक्स चुकाना पड़ता है-नियोक्ता के योगदान, आपके योगदान पर ब्याज और नियोक्ता के योगदान पर ब्याज.

    >> पांच साल से पहले PF अकाउंट से रकम निकाली जाय तो उस पर आपको टैक्स चुकाना पड़ता है. इस हालत में आपको EPF के सभी चार कंपोनेंट पर टैक्स चुकाना पड़ेगा. इस रकम पर टैक्स की गणना हर उस साल के हिसाब से की जाएगी जिसमें आपने पीएफ अकाउंट में रकम जमा कराई है.

    >> आपके PF में निवेश पर टैक्स की गणना इस बात पर भी निर्भर होती है कि आपने उस साल में आईटीआर फाइल करते वक्त इनकम टैक्स कानून के सेक्शन 80C के तहत डिडक्शन का लाभ लिया है या नहीं.

    इनकम टैक्स कानून के हिसाब से अगर आप PF में रकम जमा करते हैं तो आपके योगदान पर इनकम टैक्स में छूट मिलती है. अगर इस समय आपकी आमदनी शून्य है, तब भी आपको PF अकाउंट से रकम निकालने पर इनकम टैक्स चुकाना पड़ेगा. इसकी वजह यह है कि जिस साल PF में योगदान किया गया उस साल आपकी और आपके नियोक्ता की टैक्स देनदारी घट गयी थी.

    ये भी पढ़ें: सोना देगा मालामाल बनने का मौका! 52,000 रुपये तक पहुंच सकता है 10 ग्राम का भाव

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज