होम /न्यूज /व्यवसाय /नौकरी करने वालों के लिए खुशखबरी! अब PF पर इतना ज्यादा मिलेगा ब्याज

नौकरी करने वालों के लिए खुशखबरी! अब PF पर इतना ज्यादा मिलेगा ब्याज

प्रतीकात्मक तस्वीर

प्रतीकात्मक तस्वीर

वित्त मंत्रालय ने कर्मचारी भविष्य निधि (ईपीएफ) के लिए 8.65 फीसदी की ब्याज दर को मंजूरी दे दी है. ईपीएफओ के 6 करोड़ सदस् ...अधिक पढ़ें

    वित्त मंत्रालय ने कर्मचारी भविष्य निधि (ईपीएफ) के लिए 8.65 फीसदी की ब्याज दर को मंजूरी दे दी है. ईपीएफओ के 6 करोड़ सदस्‍यों को इसका फायदा मिलेगा. न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, वित्‍त मंत्रालय के तहत आने वाले वित्‍तीय सेवा विभाग (डीएफएस) ने ईपीएफओ के 2018-19 के लिए अपने सदस्‍यों को ईपीएफ पर 8.65 फीसदी ब्‍याज देने के निर्णय पर अपनी सहमति दे दी है. वित्‍तीय सेवा विभाग ने रिटायरमेंट फंड के पर्याप्‍त प्रबंधन से संबंधित कुछ शर्तों को पूरा करने के आधार पर ईपीएफओ के प्रस्‍ताव को अपनी मंजूरी दे दी है.

    फरवरी में हुआ था ये फैसला- इससे पहले फरवरी में, ईपीएफओ की निर्णय लेने वाली संस्‍था सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्‍टीज, जिसके अध्‍यक्ष श्रम मंत्री संतोष गंगवार हैं, ने 2018-19 के लिए ईपीएफ पर ब्‍याज दर बढ़ाकर 8.65 फीसदी करने का निर्णय लिया था.

    तीन साल बाद बढ़ी दरें- ईपीएफ की ब्‍याज दर में तीन साल बाद यह वृद्धि की गई है. 2017-18 में ईपीएफ पर ब्‍याज की दर 8.55 फीसदी थी. ईपीएफओ ने 2016-17 में ब्‍याज दर को घटाकर 8.65 फीसदी किया था जो कि 2015-16 में 8.8 फीसदी थी.(ये भी पढ़ें-कुछ ही घंटों में सीधे बैंक खाते में पहुंचेगा आपके PF का पैसा! जानें EPFO का नया प्लान)

    ईपीएफओ के अनुमान के अनुसार ब्याज दर बढ़ाने के बाद करबी 151.67 करोड़ रुपए का अतिरिक्त भार पड़ेगा. वहीं यदि इसको 8.7 फीसदी किया जाता है तो यह 158 करोड़ रुपए का घाटा होगा. इसी के चतले इसको 8.65 फीसदी निर्धारित किया गया है.

    Tags: Employees’ Provident Fund (EPF), Epfo, EPFO account, EPFO proposal, EPFO website, Finance ministry, Trending new

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें