लाइव टीवी

6 करोड़ मेंबर्स के लिए खुशखबरी! PF की ब्याज दरों पर हो सकता है ये फैसला

News18Hindi
Updated: February 18, 2019, 3:09 PM IST
6 करोड़ मेंबर्स के लिए खुशखबरी! PF की ब्याज दरों पर हो सकता है ये फैसला
ब्याज दरों में कमी के बावजूद सरकार PF की ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं कर सकती है और दरें 8.55% ही रह सकती हैं.

ब्याज दरों में कमी के बावजूद सरकार PF की ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं कर सकती है और दरें 8.55% ही रह सकती हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 18, 2019, 3:09 PM IST
  • Share this:
सरकार प्रोविडंट फंड (Provident Fund) मेंबर्स को तोहफा दे सकती है. ब्याज दरों में कमी के बावजूद सरकार PF की ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं कर सकती है और दरें 8.55% ही रह सकती हैं. यदि ऐसा होता है तो 6 करोड़ कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) मेंबर्स को इसका फायदा होगा. सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टी (CBT) की आगामी गुरुवार को एक बैठक होने जा रही है. इस बैठक में सब्सक्राइबर्स की न्यूनतम पेंशन (Pension) बढ़ाने पर चर्चा हो सकती है. माना जा रहा है कि न्यूनतम पेंशन बढ़ाकर दोगुनी की जा सकती है. यदि बैठक में इस बात पर सहमति बन जाती है तो इससे EPFO की पेंशन स्कीम के करीब 50 लाख सब्सक्राइबर्स को फायदा होगा. (ये भी पढ़ें: इस बैंक ने पेश किया बैटरी से चलने वाला पहला क्रेडिट कार्ड, जानें सारे फायदे...)

इकॉनोमिक टाइम्स में छपी खबर के मुताबिक, CBT के सदस्य प्रभाकर बानासुरे का कहना है कि गुरुवार को सीबीटी की बैठक से पहले FIAC (Fianace, investment and audit committee) की भी बैठक होनी है. इस बैठक में साफ हो जाएगा कि PF पर ब्याज दर कितनी रहेगी. हालांकि हमें उम्मीद है कि इनमें कोई बदलाव नहीं किया जाएगा और यह मौजूदा दर 8.55% ही रहेगी. बता दें कि सीबीटी एक त्रिपक्षीय निकाय है, जिसमें सरकार, कर्मचारी और श्रम मंत्रालय की ट्रेड यूनियनों के प्रमुख शामिल रहते हैं. EPFO में सभी अहम फैसले सीबीटी द्वारा ही लिए जाते हैं.

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान को इस हफ्ते बड़ा झटका देने के लिए भारत की तैयारी पूरी! फैसला होने पर चरमरा जाएगी अर्थव्यवस्था

फिलहाल PF पर ब्याज दर 8.55% है जो सभी सरकारी स्मॉल सेविंग स्कीम से ज्यादा है. रिजर्व बैंक ने भी बीती 7 फरवरी ब्याज दरों में कटौती की है. वहीं EPFO मेंबर्स को अभी 1000 रुपये न्यूनतम पेंशन मिलती है जिसे बढ़ाकर 2000 रुपये करने पर फैसला हो सकता है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 18, 2019, 1:01 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर