EPFO : नौकरी बदलने का है प्लान तो अब खुद अपडेट करें एग्जिट डेट, नहीं अटकेगा PF का पैसा

EPFO

EPFO ने अपने ट्वीट में लिखा है कि अब कर्मचारी भी अपनी नौकरी छोड़ने की तिथि को अपडेट कर सकते हैं. ईपीएफओ ने अपने कर्मचारियों को इसकी जानकारी हिंदी और अंग्रेजी दोनों में दी है.

  • Share this:
    नई दिल्ली: अगर आप भी नौकरी बदलने वाले हैं तो यह आपके लिए जरूरी खबर है. अब कर्मचारी अपनी नौकरी छोड़ने की तारीख अपने आप अपडेट कर सकते हैं. इसके लिए आपको किसी ऑफिस के चक्कर लगाने की जरूरत नहीं है. EPFO इस काम को बहुत ही आसान बना दिया है.

    EPFO ने अपने ट्वीट में लिखा है कि अब कर्मचारी भी अपनी नौकरी छोड़ने की तिथि को अपडेट कर सकते हैं. इसको आप अपने आप घर पर बैठ कर अपडेट कर सकते हैं. इसके लिए आपको कुछ स्टेप्स को फॉलो करना होता है. ईपीएफओ ने अपने कर्मचारियों को इसकी जानकारी हिंदी और अंग्रेजी दोनों में दी है.


    फॉलो करें ये प्रोसेस
    >> ईपीएफओ के मुताबिक, कर्मचारी यूनिफाइड सदस्य पोर्टल पर जाकर यूएएन और पासवर्ड के साथ लॉन-इन कर सकते हैं.
    >> इसके बाद Manage पर जाना है और वहां Mark Exit पर क्लिक करना है.
    >> अब कर्मचारी को ड्रॉप डाउन देखना है जहां Select Employment से PF Account Number को चुनना है.
    >> इसके बाद Date of Exit और Reason of Exit दर्ज करना है.
    >> अगले कदम के अंतर्गत Request OTP पर क्लिक करें और आधार से लिंक्ड मोबाइल नंबर पर प्राप्त ओटीपी दर्ज करें. यहां आपको चेक बॉक्स सेलेक्ट करना होगा.
    >> आगे कर्मचारी को Update पर क्लिक करना है.
    >> अंत में OK पर क्लिक करें और इसी के साथ डेट ऑफ एग्जिट यानी कि नौकरी छोड़ने की तारीख सफलतापूर्वक अपडेट हो जाती है.

    मिस्ड कॉल के जरिए इस तरह चेक करें बैलेंस
    आप अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से 011-22901406 पर मिस्ड कॉल दें. इसके बाद ईपीएफओ से एक संदेश मिलेगा जिसमें आपके पीएफ खाते की डीटेल आपको मिल जाएगी. बता दें इसके लिए जरूरी है कि यूएएन से बैंक अकाउंट, पैन और आधार लिंक्ड हो. इस सर्विस के लिए कोई चार्ज नहीं वसूले जाते हैं.

    यह भी पढ़ें: Axis Bank ने एफडी रेट्स में किया संशोधन, फटाफट चेक कर लें नई दरें, अब कितना मिलेगा फायदा?

    EPFO से फरवरी में 12.37 लाख नए सब्सक्राइब जुड़े
    हाल ही में जारी राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (National Statistical Office) की रिपोर्ट के अनुसार शुद्ध रूप से ईपीएफओ से फरवरी में 12.37 लाख नए सब्सक्राइब जुड़े. यह जनवरी 2021 के 11.95 लाख से ज्यादा है. इसमें कहा गया है कि सितंबर 2017 से फरवरी 2021 के दौरान करीब 4.11 करोड़ (सकल) नए सब्सक्राइबर ईपीएफओ योजना से जुड़े.