• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • 1.37 लाख लोगों के खाते में पहुंचे 280 करोड़ रुपये, EPFO ने 10 दिन में प्रोसेस किये क्लेम्स

1.37 लाख लोगों के खाते में पहुंचे 280 करोड़ रुपये, EPFO ने 10 दिन में प्रोसेस किये क्लेम्स

ईपीएफओ ने 10 दिन में 1.37 लाख क्लेम को प्रोसेस कर दिया है.

ईपीएफओ ने 10 दिन में 1.37 लाख क्लेम को प्रोसेस कर दिया है.

श्रम मंत्रालय (Ministry of Labour) ने शुक्रवार को जानकारी दी है कि केंद्र सरकार द्वारा ऐलान के बाद EPFO ने बीते 10 दिन में 1.37 लाख लोगों के क्लेम को प्रोसेस किया जा चुका है. यह रकम कुल 279.65 करोड़ रुपये की है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) ने शुक्रवार को जानकारी दी कि उसने 1.37 लाख प्रोविडेंट फंड्र विड्रॉल क्लेम के तहत 280 करोड़ रुपये प्रोसेस कर दिया है. लॉकडाउन के इस दौर में EPF सब्सक्राइबर्स ने अपने पीएफ खातों (PF Accounts) से कुछ राशि निकालने के लिए यह क्ले​म किया था. श्रम मंत्रालय ने शुक्रवार को कहा, 'EPFO ने 1.37 लाख क्लेम को प्रोसेस कर दिया है, जिसमें 279.65 करोड़ रुपये जारी किये जा चुके हैं.'

    72 घंटों के अदंर प्रोसेस हो रहा क्लेम
    श्रम मंत्रालय (Ministry of Labour) के मुताबिक, भुगतान जारी करने की प्रक्रिया शुरू की जा चुकी है. EPFO ने इन क्लेम्स को बीते 10 दिन मे ही सेटल किया है. फिलहाल फुल KYC अनुपालन वाले अकाउंट्स को 72 घंटों के लिए अंदर एप्लीकेशन को प्रोसेस करने का काम चल रहा है.

    यह भी पढ़ें: बैंकों ने ग्राहकों को किया सावधान, EMI ठगी से बचने का बताया ये तरीका

    अन्य क्लेम के बाद भी कर सकते हैं नया क्लेम
    मंत्रालय ने कहा कि अगर किसी मेंबर ने किसी अन्य कैटेगरी के तहत भी क्लेम किया है तो उनके पास भी KYC शर्तों के आधार पर कोविड-19 महामारी (COVID-19 Pandemic) के तहत क्लेम करने का विकल्प दिया जा रहा है. सभी क्लेम को समय रहते सेटल करने के लिए हर स्तर पर प्रयास किये जा रह हैं.

    बता दें कि कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए 28 मार्च को केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री जन कल्याण योजना (PMGKY) के तहत ऐलान किया था कि EPF सब्सक्राइबर्स अपने PF अकांउट से एक तय एडवांस रकम निकाल सकते हैं. इसके लिए EPF स्कीम में संशोधन भी किया गया.

    यह भी पढ़ें: दुनिया की अर्थव्यवस्था पर अब तक का सबसे बड़ा संकट आने वाला है- IMF

    सरकारी दे रही एडवांस निकालने की सुविधा
    मंत्रालय ने कहा कि COVID-19 महमारी की वजह से लोगों के हाथ में कैश की कमी आई है. इसी को ध्यान में रखते हुए सरकार ने पीएफ अकाउंट से एडवांस निकासी का विकल्प दिया है. इस व्यवस्था के तहत, सब्सक्राइर्बस 3 महीने की बेसिक सैलरी और महंगाई भत्ता या फिर 75 फीसदी तक रकम की निकासी कर सकते हैं.

    यह भी पढ़ें: Covid-19 लॉकडाउन में किसानों को फलों-सब्जियों का सही दाम दिलाएगी यह स्कीम

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज