EY Awards: रिलायंस के सीएमडी मुकेश अंबानी ने कहा, भारतीय उद्यमियों के लिए दिख रही है अवसरों की सुनामी

RIL के सीएमडी मुकेश अंबानी ने ईवाई अवार्ड के दौरान कहा कि भारत वैश्विक स्‍तर पर तेजी से आगे बढ़ रहा है.

RIL के सीएमडी मुकेश अंबानी ने ईवाई अवार्ड के दौरान कहा कि भारत वैश्विक स्‍तर पर तेजी से आगे बढ़ रहा है.

रिलायंस इंडस्‍ट्रीज (RIL) के सीएमडी मुकेश अंबानी (CMD Mukesh Ambani) ने ईवाई अवार्ड (EY Awards) के दौरान कहा कि भारत आने वाले दशकों में दुनिया की शीर्ष तीन अर्थव्‍यवस्‍थाओं (Top 3 Economies) में शामिल हो सकता है. साथ ही कहा कि भारतीय उद्यमियों (Indian Entrepreneurs) के लिए वैश्विक बाजार पूरी तरह खुल चुके हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 25, 2021, 9:36 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. रिलायंस इंडस्‍ट्रीज लिमिटेड (RIL) के चेयरमैन व एमडी मुकेश अंबानी (CMD Mukesh Ambani) ने अर्नस्‍ट एंड यंग एंटरप्रन्‍योर ऑफ द ईयर अवार्ड (EY Awards) के दौरान कहा कि भारत में इस समय और भविष्‍य में मुझे उद्यमियों के लिए अवसरों की सुनामी दिखाई दे रही है. उन्‍होंने अपने इस भरोसे के दो अहम कारण बताए. उन्‍होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) भारत के भविष्‍य को संवारने में निजी क्षेत्र की बड़ी भूमिका की वकालत करते हैं. देश के सभी उद्यमियों को उनकी इस बात का स्‍वागत करना चाहिए. वहीं, हमारे पास आज देश की अर्थव्‍यवस्‍था (Indian Economy) को बदलने के लिए नई तकनीक की क्रांतिकारी ताकत उपलब्‍ध है.

'भारत दुनिया की तीन शीर्ष अर्थव्‍यवस्‍थाओं में बनाएगा जगह'

आरआईएल के सीएमडी मुकेश अंबानी ने कहा कि छोटे, मझोले और बड़े उद्यमों को 1.3 अरब लोगों की अच्‍छे जीवन की इच्‍छा पूरी करने का मौका कभी-कभी ही मिलता है. हम आने वाले दशकों में दुनिया की तीन शीर्ष अर्थव्‍यवस्‍थाओं में शामिल हो सकते हैं. हमारे पास इस मुकाम को हासिल करने की पूरी क्षमता मौजूद है. स्‍वच्‍छ ऊर्जा, शिक्षा, स्‍वास्‍थ्‍य क्षेत्र, लाइफसाइंसेस व बायोटेक्‍नोलॉजी और मौजूदा कृषि, उद्योग व सर्विस क्षेत्र में बदलाव के कारण हमारे सामने अप्रत्‍याशित अवसर उपलब्‍ध हैं. उन्‍होंने कहा कि भारतीय उद्यमी वैश्विक गुणवत्‍ता के साथ ज्‍यादा प्रतिस्‍पर्धी लागत पर स्‍थानीय बाजार की जरूरत पूरी करने में सक्षम हैं.

ये भी पढ़ें- ULIP में एक से दूसरे फंड में स्विच करने की सुविधा होगी बंद! इक्विटी म्‍यूचुअल फंड के बराबर लगेगा टैक्‍स भी
'भारतीय उद्यमियों के लिए खुल चुके हैं पूरी दुनिया के बाजार'

मुकेश अंबानी ने कहा कि प्रतिस्‍पर्धी लागत पर बेहतरीन गुणवत्‍ता वाले प्रोडक्‍ट्स तैयार करने की क्षमता के कारण पूरी दुनिया का बाजार भारतीय उद्यमियों के लिए खुल गया है. हमें पहले घरेलू बाजार की जरूरतों को पूरा करना चाहिए. इसके बाद वैश्विक बाजार का रुख करना चाहिए. उन्‍होंने कहा कि हमारा देश वैश्विक आर्थिक वृद्धि और बदलावों का केंद्र (Epicenter) बनने वाला है. भारत का वैश्विक स्‍तर पर आगे बढ़ना पहले ही शुरू हो चुका है. हम आर्थिक, लोकतांत्रिक, राजनयिक, रणनीतिक, सांस्‍कृतिक ताकत के तौर पर काफी आगे बढ़ चुके हैं. यही नहीं, भारत डिजिटल और टेक्‍नोलॉजी पावर के तौर पर भी तेजी से ऊपर उठ रहा है.

'कम संसाधनों में असीमित प्रतिबद्धता के साथ करना होगा काम'



रिलायंस इंडस्‍ट्रीज के चेयरमैन ने कहा कि भारत के तेजी से आगे बढ़ने में उद्यमियों की बड़ी भूमिका रहेगी. भारतीय उद्यमी अपने कारोबार का विस्‍तार करने और वैश्विक स्‍तर पर पहुंचाने की कोशिशों में जुटे हैं. हर दिन ऐसी नई चीजें बनाई जा रही हैं, जो भारत ही नहीं पूरी दुनिया की तस्‍वीर बदल देंगी. उन्‍होंने कहा कि आज के भारतीय उद्यमियों में सफलता की जबरदस्‍त भूख है. साथ ही कहा कि आप में से कई ने अभी-अभी अपना कारोबार शुरू किया है. अपने अनुभव के आधार पर मैं उनसे कहना चाहता हूं कि आपको कम से कम संसाधनों में असीमिति प्रतिबद्धता के साथ काम करने के लिए तैयार रहना होगा.

ये भी पढ़ें- Aadhaar को फटाफट कराएं PAN से लिंक वरना जुर्माने के अलावा भी होंगी कई दिक्‍कतें, जानें सबकुछ

'मेरी पीढ़ी के उद्यमियों से बड़ी सफलता की इबारत लिखेंगे युवा'

मुकेश अंबानी ने कहा कि असफल होने पर घबराइए मत, क्‍योंकि नाकामी के बाद ही सफलता आती है. मुझे बतौर उद्यमी भरोसा है कि आप सभी में सफलता का स्‍वाद चखने के लिए अथक प्रयास करने का साहस और प्रतिबद्धता है. इसलिए मैं पूरी तरह से आश्‍वस्‍त हूं कि आप सभी मेरी पीढ़ी के उद्यमियों के मुकाबले देश के लिए कहीं बड़ी सफलता की इबारत लिखेंगे. इस दौरान उन्‍होंने इस साल के ईवाई अवार्ड के विजेताओं को बधाई भी दी.

(डिस्केलमर- न्यूज18 हिंदी, रिलायंस इंडस्ट्रीज की कंपनी नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का हिस्सा है. नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का स्वामित्व रिलायंस इंडस्ट्रीज के पास ही है.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज