अपना शहर चुनें

States

आप बेरोजगार हैं तो भत्‍ता लेना हुआ और भी आसान, योजना में हुए तीन बड़े बदलाव

भारत में बेरोजगार हुए लोगों को राहत देने के लिए श्रम मंत्रालय के अधीन अटल बीमित व्‍यक्ति कल्‍याण योजना शुरू की गई हैैै .
भारत में बेरोजगार हुए लोगों को राहत देने के लिए श्रम मंत्रालय के अधीन अटल बीमित व्‍यक्ति कल्‍याण योजना शुरू की गई हैैै .

ईएसआईसी की अटल बीमित व्‍यक्ति कल्‍याण योजना (Atal Beemit Vyakti Kalyan Yojana) में तीन बड़े बदलाव किए गए हैं. इसमें एक प्रमुख बदलाव यह हुआ है कि इस योजना का लाभ अब किश्‍तों में लिया जा सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 29, 2021, 5:33 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. कोरोना महामारी (Covid Pandemic) के दौरान नौकरी गंवाने वाले लोगों के लिए श्रम मंत्रालय की योजना में लगातार बदलाव किए जा रहे हैं. योजना में आवेदन के बाद पूरा लाभ उठाने में आ रही परेशानियों को देखते हुए अब राज्‍य कर्मचारी बीमा निगम (ESIC) की ओर से अटल बीमित व्‍यक्ति कल्‍याण योजना (Atal Beemit Vyakti Kalyan Yojana) में तीन बड़े बदलाव किए गए हैं. इन बदलावों के बाद अब बेरोजगार हुए लोगों को बेरोजगारी भत्‍ता (Unemployment Benefits) मिलने में और भी आसानी हो जाएगी. इसके साथ ही बीच में नौकरी (Job) लगने के बाद पूरा बेरोजगारी भत्‍ता न ले पाने वाले लोग भी अब इसका लाभ उठा सकेंगे.

ईएसआईसी की ओर से एबीवीकेवाई (ABVKY) योजना में पहला बदलाव इसमें आवेदन की अंतिम तारीख को लेकर किया गया है. इस योजना में आवेदन की अंतिम तारीख 30 जून 2021 कर दी गई है. इससे अब छह महीने बाद तक बेरोजगार हुए लोग इसमें आवेदन कर पाएंगे और वर्तमान सैलरी का 50 फीसदी हिस्‍सा तीन महीने तक भत्‍ते के रूप में ले पाएंगे.





वहीं दूसरा बदलाव नौकरी जाने के छह महीने बाद तक मेडिकल सुविधा मिलने को लेकर हुआ है. अगर किसी व्‍यक्ति की नौकरी छूट जाती है तो वह अगले छह महीनों तक भी अपने आश्रितों का इलाज ईएसआईसी से करा सकता है. उसका और उसके आश्रितों का इलाज ईएसआईसी की ओर से किया जाएगा.
तीसरा जो सबसे महत्‍वपूर्ण बदलाव है वह इस योजना का लाभ किश्‍तों में लेने को लेकर है. ईएसआईसी में कमिश्‍नर, रेवेन्‍यू एंड बेनिफिट एम के शर्मा का कहना है कि यह लाभ बहुत महत्‍वपूर्ण है. योजना शुरू होने के बाद देखा गया कि लोग इसका पूरा लाभ नहीं उठा पा रहे थे. कई बार ऐसा हुआ कि किसी व्‍यक्ति ने इस योजना में लाभ के लिए आवेदन किया और एक या दो महीने का भत्‍ता लेने के बाद उसकी नौकरी लग गई और उसका भत्‍ता बंद हो गया. लेकिन अगले ही महीने उसकी नौकरी दोबारा छूट गई. ऐसे में लगातार तीन महीने तक बेरोजगारी लाभ देने वाली इस योजना को बदला गया है.

एम के शर्मा कहते हैं कि अब इसे किश्‍तों में किया गया है. मसलन इस योजना का लाभ ले रहे किसी व्‍यक्ति की नौकरी लगने के बाद छूट गई है तो वह अपने बचे हुए महीनों का लाभ दोबारा ले सकता है. हालांकि इस दौरान एक बेरोजगार व्‍यक्ति को सिर्फ तीन महीने का ही भत्‍ता मिलेगा. फिर चाहे वह इसे टुकड़ों में ले ले या लगातार तीन महीने तक एक साथ ले ले.  हालांकि इसका काफी फायदा होने वाला है और ऐसे सैकड़ों आवेदन भी ईएसआईसी में आए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज