किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए सरकार उठाएगी बड़ा कदम! 3 सितंबर को सकता है फैसला

News18Hindi
Updated: August 31, 2019, 12:49 PM IST
किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए सरकार उठाएगी बड़ा कदम! 3 सितंबर को सकता है फैसला
किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए सरकार उठाएगी बड़ा कदम! 3 सितंबर को सकता है फैसला

किसानो की आय बढाने के लिए सरकार एसेंशियल कमोडिटी एक्ट में बदलाव की तैयारी कर रही है. CNBC आवाज़ को सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक इसका ड्राफ्ट तैयार हो चुका है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 31, 2019, 12:49 PM IST
  • Share this:
किसानो की आय बढाने के लिए सरकार एसेंशियल कमोडिटी एक्ट में बदलाव की तैयारी कर रही है. CNBC आवाज़ को सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक इसका ड्राफ्ट तैयार हो चुका है. कंज्यूमर ऑफेयर मंत्रालय 3 सिंतबर को राज्यों की साथ बैठक करके ड्राफ्ट पर सहमति बनाने की कोशिश करेगा. नए प्रवाधानों के लागू होने के बाद व्यापारियों के लिए किसानों से फसल खरीदना आसान हो जाएगा.

एसेंशियल कमोडिटी एक्ट में बदलाव करने की तैयारी लगभग पूरी हो चुकी है. कंज्यूमर ऑफेयर मंत्रालय ने इसका ड्राफ्ट नोट तैयार किया है.  3 सितंबर को सभी स्टेक होल्डर्स के साथ बैठक में इस पर फैसला हो सकता है. बैठक में राज्यों के फूड मंत्री भी शामिल होंगे.



अब क्या होगा- नए प्रावधानों के मुताबिक, सिर्फ अकाल और लड़ाई के वक्त ही एसेंशियल कमोडिटी एक्ट लागू होगा. इसके अलावा जरूरी वस्तुओं की कीमत 50% से ज्यादा बढ़ने पर भी इसे लागू किया जा सकेगा.

सरकार सजा के प्रवधानों में भी ढील देने की तैयारी में है. मौजूदा समय में  एसेंशियल कमोडिटी एक्ट के तहत दोषी पाए जाने पर 7 साल की सजा का प्रवधान है. कांट्रेक्ट फार्मिंग की उपज को भी सरकार ने एक्ट से बाहर किया है.

ये भी पढ़ें-Alert! 1 करोड़ से ज्यादा कैश विदड्रॉल पर देने होंगे दो लाख

इस एक्ट के कारण व्यापारी जरुरी वस्तुओं का स्टॉक नहीं कर पाते है. अभी यह एक्ट चीनी,चावल, बीज, वनस्ती ऑयल जैसी वस्तुओॆं पर लागू होता है. ऐसे में किसानों की उनकी उपज का सही दाम नहीं मिलता
Loading...

मुख्यमंत्रियों की कमेटी ने भी एक्ट में ढील देनी की सिफारिश की है.

(असीम मनचंदा, संवाददाता, सीएनबीसी आवाज़)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 31, 2019, 12:48 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...