Home /News /business /

ethos ipo will open tomorrow you should know these things about the issue rrmb

Ethos IPO : कल लॉन्‍च होगा लग्‍ज़री वॉच कंपनी का आईपीओ, क्‍या आपको लगाने चाहिए पैसे?

एथोस (Ethos) प्रीमियम और लग्जरी घड़ियां बेचती है.

एथोस (Ethos) प्रीमियम और लग्जरी घड़ियां बेचती है.

एथोस (Ethos) प्रीमियम और लग्ज़री घड़ियां बेचती है. भारत में इसके पोर्टफोलियो में 50 प्रीमियम और लग्जरी वॉच शामिल हैं. एथोस आईपीओ (Ethos IPO) के जरिए बाजार से 472 करोड़ रुपये जुटाना चाहती है. निवेशक 20 मई तक इस आईपीओ के लिए बोली लगा सकते हैं.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्‍ली. Ethos IPO : लग्जरी घड़ी बेचने वाली दिग्गज कंपनी एथोस (Ethos) का आईपीओ कल,  यानी 18 मई को सब्सक्रिप्शन के लिए खुलेगा. निवेशक इस आईपीओ के लिए 20 मई तक बोली लगा सकेंगे. कंपनी इस आईपीओ के ज़रिए 472 करोड़ रुपये जुटाना चाहती है. एथोस के पास भारत में प्रीमियम और लग्‍ज़री घड़ियों का सबसे बड़ा पोर्टफोलियो है. इनमें 50 प्रीमियम व लग्‍ज़री वॉच ब्रांड हैं.

इस आईपीओ के तहत, 375 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी किए जाएंगे. इसके साथ ही, 1,108,037 शेयरों की बिक्री ऑफर-फॉर-सेल (OFS) के तहत की जाएगी. आईपीओ के लिए एथोस ने प्रति शेयर 836-878 रुपये प्राइस बैंड तय किया है. आईपीओ से मिलने वाली पूंजी का इस्तेमाल कर्ज के भुगतान, वर्किंग कैपिटल जरूरतों को पूरा करने और नए स्टोर खोलने में किया जाएगा.

ये भी पढ़ें :  LIC Listing : बाजार में 9 फीसदी डिस्‍काउंट पर सूचीबद्ध हुई एलआईसी, निवेशकों को पहले दिन ही लगा झटका, अब क्‍या करें

एक लॉट में 17 शेयर

एथोस आईपीओ का 50 फीसदी हिस्‍सा क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स के लिए रिजर्व है. 35 फीसदी रिटेल इन्वेस्टर्स के लिए आरक्षित किया गया है तथा शेष 15 फीसदी हिस्सा नॉन-इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स के लिए आरक्षित होगा. इस आईपीओ के एक लॉट में 17 शेयर होंगे. इसका मतलब है कि निवेशक को कम से कम 17 इक्विटी शेयरों के लिए बोली लगानी होगी. एथोस के शेयर आवंटन की संभावित तिथि 25 मई 2022 है. आईपीओ 30 मई को बाजार में लिस्ट हो सकता है.

कंपनी प्रोफाइल

एथोस प्रीमियम और लग्ज़री घड़ियां बेचती है. भारत में इसके पोर्टफोलियो में 50 प्रीमियम और लग्ज़री वॉच शामिल हैं. इनमें ओमेगा, आईडब्ल्यूसी स्कॉफहाउसेन, जायगर ले कॉल्टर, पैनरी, बलगारी, एच मोजर एंड साय, राडो, लॉन्जाइन्स, बॉम एंड मर्शर, ऑरिस एसए, कोरम, कार्ल एफ बुकेरर, टिस्सॉट, रेमंड वाई, लुईस मोनेट, बालमेन शामिल है.

वित्त वर्ष 2021 में ऑपरेशन्स से कंपनी का राजस्व 386.57 करोड़ रुपये रहा. इसी अवधि में इसका नेट प्रॉफिट 5.78 करोड़ रुपये था. एथोस ब्रांड नाम से 2003 में चंडीगढ़ में कंपनी ने अपना पहला लक्ज़री रिटेल वॉच स्टोर खोला. भारत के 17 शहरों में कंपनी के 50 रिटेल स्टोर हैं. इसके अलावा एथोस अपने प्रोडक्ट्स अपनी वेबसाइट और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म में माध्‍यम से भी बेचती है.

ये भी पढ़ें :  Share Market Update: बाजार में बुल्स की जोरदार वापसी, सेंसेक्स 1344 अंक चढ़कर बंद हुआ

संभलकर करें निवेश

मिंट की एक रिपोर्ट के अनुसार, एनलिस्‍टेडएरेना डॉट कॉम के फाउंडर अभय दोषी का कहना है कि एथोस भारत का प्रमुख लग्‍जरी और प्रीमियम वॉच रिटेलर है. प्रीमियम और लग्‍जरी वॉच सेगमेंट में बिक्री में इसकी कुल हिस्‍सेदारी 13 फीसदी है, वहीं लग्‍जरी वॉच की टोटल रिटेल सेल्‍स में इसका हिस्‍सा 20 फीसदी है. ऑपरेशनल फ्रंट पर कंपनी लगातार अच्‍छे नतीजे दे रही है. नेट प्रॉफिट मार्जिन 2021 में 1.50 फीसदी रहा है. दोषी का कहना है कि इश्‍यू महंगा लग रहा है. इश्‍यू में निवेश करते समय मौजूदा बाजार‍ परिस्थितियों और वैल्‍यूएशन को निवेशकों को ध्‍यान में रखना चाहिए.

Tags: IPO, Stock market

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर