चीन के मुकाबले भारतीय प्रोडक्ट 3-4 साल ज्यादा चलते है, फिर क्यों कम बिकते है?

चीन के मुकाबले भारतीय प्रोडक्ट 3-4 साल ज्यादा चलते है, फिर क्यों कम बिकते है?
चीन के प्रोडक्ट सस्ते क्यों होते है?

घरेलू प्रोडक्ट चीन (China Products) के मुकाबले 3-4 साल ज्यादा चलते है. लेकिन चीन के प्रोड्क्ट की डिमांड (China) बहुत ज्यादा है. इसकी वजह उनका सस्ता होना है? आइए जानें ऐसा क्यों है?

  • Share this:
नई दिल्ली. पंजाब के नरेश भारद्वाज (Naresh Bhardwaj,Director Nut & Bolt) नट बोल्ट मैन्युफैक्चरिंग का बिजनेस करते है. इन्होंने अच्छी क्ववालिटी का सामान बनाने के लिए नई टेक्नोलॉजी (New Technology) वाली मशीन लगाई है. साथ ही, लागत घटाने के लिए हर जरूरी कदम उठाते है. इसके बावजूद चीन (China) से आने वाले नट बोल्ट उनके प्रोडक्ट के मुकाबले काफी सस्ते है. नरेश परेशान है कि वो भारत में ही अपना सामान बना रहे है. जबकि, चीन मैन्युफैक्चरिंग (China Manufacturing) और ट्रांसपोर्टेशन (Transportation) के बावजूद भारत में 15-20 फीसदी तक सस्ता सामान बेच रहा है.

चीन कैसे भारत के मुकाबले सस्ता सामान बनाकर बेचता है?नरेश भारद्वाज बताते हैं कि वो घरेलू मार्केट से ही कच्चा माल लेते है. इनकी कीमतें रोज़ बदलती है. साथ ही, बिजली काफी महंगी है. इससे लागत बढ़ जाती है. इसके अलावा सरकार मशीनें खरीदने के लिए सब्सिडी देती है. नरेश भारद्वाज ने 2018-19 में दो मशीनें 50 लाख रुपये में खरीदी थी. लेकिन सरकार की ओर से सब्सिडी का पैसा अभी तक नहीं मिला है. ऊंची ब्याज दरें और समय पर सब्सिडी नहीं मिलने से लागत बढ़ना तय है.

ये भी पढ़ें-...कहीं अब नालियों में ना बहानी पड़े लाखों लीटर बीयर, ब्रीजा और रम? 



इस पर विशेषज्ञों का कहना है कि ज्यादा प्रोडक्शन बढ़ाने के लिए सरकार को कुछ साल तक इन्सेंटिव देना चाहिए. लेकिन लॉजिटिक्स कॉस्ट (परिवहन खर्च) को मौजूदा 14 फीसदी से कम करना चाहिए. क्योंकि चीन की  लॉजिटिक्स कॉस्ट (परिवहन खर्च) सिर्फ 8 फीसदी से भी कम है. जबकि, घरेलू प्रोडक्ट चीन के मुकाबले 3-4 साल ज्यादा चलते है. लेकिन चीन के प्रोड्क्ट की डिमांड बहुत ज्यादा है. इसकी वजह उनका सस्ता होना है.


लेकिन भारत में जब बड़ा बाजार मौजूद है और हमारे पास पर्याप्त क्षमता है. तो बेहतर नीतियां लाकर सामानों को सस्ता क्यों नहीं किया जा सकता है.  (प्रकाश प्रियदर्शी, CNBC आवाज़) 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading