• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • देश से इन 75 उत्‍पादों का बढ़े एक्‍सपोर्ट तो 2027 तक हासिल हो जाएगा 750 अरब डॉलर का निर्यात लक्ष्‍य: PHDCCI

देश से इन 75 उत्‍पादों का बढ़े एक्‍सपोर्ट तो 2027 तक हासिल हो जाएगा 750 अरब डॉलर का निर्यात लक्ष्‍य: PHDCCI

PHDCCI ने भारत का निर्यात लक्ष्‍य हासिल करने के लिए संभावित बाजारों की पहचान की है.

PHDCCI ने भारत का निर्यात लक्ष्‍य हासिल करने के लिए संभावित बाजारों की पहचान की है.

पीएचडी चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्‍ट्री (PHDCCI) ने निर्यात लक्ष्‍य (Export Target) हासिल करने के लिए 75 प्रोडक्‍ट्स की सूची बनाने के साथ ही पड़ोसी देशों के अलावा रूस, ब्राजील और जर्मनी समेत कई बाजारों की पहचान भी की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    नई दिल्ली. उद्योग मंडल पीएचडी चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्‍ट्री (PHD Chamber of Commerce and Industry) ने 9 सेक्‍टर्स के 75 उत्पादों की पहचान की है. उद्योग मंडल का मानना है कि इन उत्‍पादों का एक्‍सपोर्ट बढ़ाने से भारत साल 2027 तक 750 अरब डॉलर का निर्यात लक्ष्य (Export Target) हासिल कर सकता है. इन क्षेत्रों में कृषि और खनिज (Agriculture and Mining Products) भी शामिल हैं. यही नहीं, पीएचडीसीसीआई ने इन 75 उत्पादों के लिए अमेरिका और यूरोप समेत कई बाजारों की पहचान भी कर ली है.

    लक्ष्‍य हासिल करने के लिए किन देशों को बढ़ाना होगा निर्यात
    पीएचडी चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्‍ट्री के अध्यक्ष संजय अग्रवाल ने कहा कि साल 2027 तक 750 अरब डॉलर मूल्‍य की वस्तुओं के निर्यात लक्ष्य को हासिल करने के लिए अमेरिका (US), कनाडा (Canada), जर्मनी, फ्रांस, ब्रिटेन, जापान, संयुक्त अरब अमीरात (UAE), चीन (China), मेक्सिको और ऑस्ट्रेलिया जैसे बाजारों पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है. उद्योग मंडल की ओर से चिह्नित किए 75 बाजारों में रूस (Russia), बांग्लादेश (Bangladesh), वियतनाम, नेपाल (Nepal), ब्राजील, पोलैंड, इटली और थाइलैंड भी शामिल हैं.

    ये भी पढ़ें- किसानों के लिए अच्‍छी खबर! केंद्र ने गेहूं का न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य 40 रुपये तो सरसों का 400 रुपये बढ़ाया

    PHDCCI ने किन उत्‍पादों का निर्यात बढ़ाने पर दिया जोर
    उद्योग मंडल की रिपोर्ट के मुताबिक, 75 संभावित उत्पादों में मछली, कपास (Cotton), अयस्क, खनिज ईंधन, रसायन, रबड़, कपड़ा (Textile), जूते-चप्पल, लौह व इस्पात, बॉयलर, इलेक्ट्रिक मशीनरी, वाहन, विमान, फर्नीचर, खिलौने और खेल का सामान शामिल है. फिलहाल इन 75 संभावित उत्पादों का देश के निर्यात (Indian Export) में योगदान 127 अरब डॉलर का है. यह कुल निर्यात का करीब 46 फीसदी है. हालांकि, वैश्विक स्तर पर इन 75 उत्पादों का कुल वैश्विक निर्यात (Global Export) में 75 फीसदी हिस्सा है. वहीं, भारत की इन 75 उत्पादों में हिस्सेदारी महज 3.6 फीसदी ही है. ऐसे में इन उत्‍पादों का निर्यात बढ़ाने की बड़ी संभावनाएं मौजूद हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज