देश का निर्यात लगातार दूसरे महीने बढ़ा, व्यापार घाटा कम होकर 14.75 अरब डॉलर हुआ

दिसंबर 2020 में भी देश के माल के निर्यात में 0.14 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई थी.

दिसंबर 2020 में भी देश के माल के निर्यात में 0.14 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई थी.

देश का निर्यात (Exports) जनवरी 2021 में सालाना आधार पर 5.37 फीसदी बढ़कर 27.24 अरब डॉलर पर पहुंच गया है.

  • Share this:

नई दिल्ली. देश का निर्यात (Exports) जनवरी 2021 में 5.37 फीसदी बढ़कर 27.24 अरब डॉलर हो गया. इसमें मुख्य रूप से दवा (Pharmaceuticals) और इंजीनियरिंग (Engineering) क्षेत्र का योगदान रहा. वाणिज्य मंत्रालय के अस्थायी आंकड़ों में सोमवार को इसकी जानकारी दी गई. दिसंबर 2020 में भी देश के माल के निर्यात में 0.14 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई थी.

व्यापार घाटे में गिरावट

आंकड़ों के मुताबिक, इस दौरान आयात दो फीसदी बढ़कर 42 अरब डॉलर हो गया. इस तरह समीक्षाधीन माह में देश का व्यापार घाटा 14.75 अरब डॉलर पर आ गया. यह जनवरी 2020 में 15.3 अरब डॉलर और दिसंबर 2020 में 15.44 अरब डॉलर रहा था. इस दौरान दवा और इंजीनियरिंग क्षेत्र का निर्यात क्रमशः 16.4 फीसदी और 19 फीसदी बढ़ा.

ये भी पढ़ें- फ्रैंकलिन टेंपलटन के यूनिटहोल्‍डर्स के लिए अच्‍छी खबर, सुप्रीम कोर्ट ने 20 दिन में पैसे वापस करने का दिया आदेश, जानें पूरा मामला
वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने एक ट्वीट में कहा, ''आत्मनिर्भर भारत वैश्विक हुआ. वस्तुओं का निर्यात जनवरी में बढ़कर 27.24 अरब डॉलर हो गया, जो सालाना 5.37 फीसदी की वृद्धि है. निर्यात केंद्रित उद्योगों को सरकार के प्रोत्साहन के साथ नए साल में मेक इन इंडिया दुनिया की जरूरतें पूरा कर रहा है.''


आंकड़ों के अनुसार, दवा और इंजीनियरिंग के अलावा जिन अन्य क्षेत्रों में अच्छी वृद्धि दर्ज की गई, उनमें तिलहन खली (253 फीसदी), लौह अयस्क (108.66 फीसदी), तम्बाकू (26.18 फीसदी), चावल (25.86 फीसदी), फल एवं सब्जियां (24 फीसदी), कालीन (23.69 फीसदी), हस्तशिल्प (21.92 फीसदी), मसाले (20.35 फीसदी), सिरेमिक उत्पाद व कांच के बने पदार्थ (19 फीसदी), चाय (13.35 फीसदी), काजू (11.82 फीसदी), प्लास्टिक (10.42 फीसदी) और रसायन (2.54 फीसदी) शामिल हैं. जिन क्षेत्रों में गिरावट दर्ज की गई, उनमें पेट्रोलियम उत्पाद (-37.34 फीसदी), तैयार वस्त्र (- 10.73 फीसदी) और चमड़ा (- 18.6 फीसदी) शामिल हैं.



ये भी पढ़ें- दुनिया के दूसरे सबसे अमीर आदमी छोड़ेंगे अपना पद, एंडी जेसी लेंगे उनकी जगह

इस साल जनवरी में सोने का आयात लगभग 155 प्रतिशत बढ़कर 2.45 अरब डॉलर हो गया. इनके अलावा दालें, मोती, कीमती व अर्ध-कीमती पत्थर, कच्चा कपास, वनस्पति तेल, रसायन और मशीन टूल्स में गिरावट दर्ज की गई.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज