होम /न्यूज /व्यवसाय /फेसबुक का दोहरा रवैया: आम लोगों पर सख्ती, पर पावरफुल, सेलेब्रिटी व नेताओं को नियम तोड़ने की छूट

फेसबुक का दोहरा रवैया: आम लोगों पर सख्ती, पर पावरफुल, सेलेब्रिटी व नेताओं को नियम तोड़ने की छूट

 फेसबुक के नियम आम लोगों के लिए अलग हैं और पावरफुल लोगों के लिए अलग है.

फेसबुक के नियम आम लोगों के लिए अलग हैं और पावरफुल लोगों के लिए अलग है.

वाल स्ट्रीट जर्नल की एक रिपोर्ट के मुताबिक फेसबुक के नियम आम लोगों के लिए अलग हैं और पावरफुल लोगों के लिए अलग है. कंपनी ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

    सोशल मीडिया दिग्गज फेसबुक (Facebook) पर डाटा चोरी के बाद अपने यूजर के साथ दोहरा रवैया अपनाने का आरोप लगा है. फेसबुक के नियम आम लोगों के लिए अलग हैं और पावरफुल लोगों के लिए अलग है. कंपनी आम लोगों के साथ सख्ती बरतती है लेकिन सेलेब्रिटी, नेता व बड़े लोगों को नियम तोड़ने की इजाजत देती है.

    कंपनी से नियम तोड़ने वाली ये विशेष सुविधा 58 लाख से ज्यादा लोगों को मिली हुई है. इनमें सेलेब्रिटी, राजनेता और हाई प्रोफाइल यूजर्स शामिल हैं. इन्हें कंपनी बिना निगरानी के किसी भी तरह की पोस्ट करने की छूट देती है. वहीं आम लोगों पर सख्ती की जाती है. ये खुलासा वाल स्ट्रीट जर्नल की
    रिपोर्ट में किया गया है.

    यह भी पढ़ें –  फाइनेंशियल फ्रॉड के हो जाएंगे शिकार, अगर करेंगे इस तरह की गलतियां, जानिए कैसे बचें?

    एक्सचेक
    कंपनी ने इन यूजर्स को बचाने के लिए क्वालिटी कंट्रोल मैकेनिज्म के तहत क्रॉस चेक कार्यक्रम शुरु किया है. इसे एक्सचेक के नाम से जाना जाता है. इस रिपोर्ट के मुताबिक इस प्रोग्राम के तहत लाखों यूजर वाइट लिस्ट में रखे गए हैं. उन्हें कार्रवाई से सुरक्षा दी गई है. दूसरी तरफ इस से के मामलों में विवादास्पद कंटेंट की समीक्षा ही नहीं की जाती.

    वाइट लिस्ट
    वाइट लिस्ट में रखे गए खातों से ऐसी सूचनाएं साझा की गई थीं, जैसे हिलेरी क्लिंटन बाल यौन शोषण का गिरोह चलाती हैं या फिर तत्कालिन अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने अमेरिका में शरण चाहने वाले लोगों को जानवर कहा था. रिपोर्ट में कुछ चर्चित लोगों द्वारा शेयर की गई पोस्ट का हवाला भी दिया है.

    यह भी पढ़ें- 11 रुपये वाला ये ‘रिचार्ज’ मत करना, कहीं हैक न हो जाए आपका फोन!

    वीआईपी कंटेंट हटाने के लिए जकरबर्ग से मंजूरी 
    इनमें फुटबॉल खिलाड़ी नेमार की एक पोस्ट है. इस पोस्ट में उन्होंने एख महिला की आपत्तिजनक तस्वीरें शेयर की थीं. इस महिला ने नेमार पर दुष्कर्म का आरोप लगाया था. फेसबुक ने नेमार को बचाने के लिए यह पोस्ट हटा दी थी. फेसबुक कर्म चारियों के हवाले से बताया गया है कि कई बार वीआईपी कंटेंट हटाने के लिए कंपनी के सीईओ मार्क जकरबर्ग और सीओओ शेरिल सैंडबर्ग से मंजूरी लेनी पड़ती है.

    Tags: Facebook, Facebook Data Leak, Facebook making money, Facebook Post, Facebook security, Facebook Tips, Fake Facebook, Whatsapp, Whatsapp update

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें