जकरबर्ग की हो सकती है Facbook चेयरमैन पद से छुट्टी, निवेशकों ने बनाया दबाव

गार्डियन में शनिवार को छपी एक रिपोर्ट के अनुसार फेसबुक में बड़ी हिस्सेदारी रखने वाले जोनास क्रॉन ने कहा है कि रिपोर्ट के बाद जकरबर्ग का पद छोड़ना जरूरी है.

News18Hindi
Updated: November 17, 2018, 9:45 PM IST
जकरबर्ग की हो सकती है Facbook चेयरमैन पद से छुट्टी, निवेशकों ने बनाया दबाव
मार्क जकरबर्ग
News18Hindi
Updated: November 17, 2018, 9:45 PM IST
न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट के बाद से मुश्किल में फंसे फेसबुक के चेयरमैन एवं सीईओ मार्क जकरबर्ग की परेशानी बढ़ती दिख रही है. अब फेसबुक के निवेशकों ने उनपर पद छोड़ने का दबाव डाला है. न्यूयॉर्क टाइम्स ने हाल ही में अपनी रिपोर्ट में दावा किया था कि फेसबुक ने गूगल और एपल के खिलाफ आर्टिकल लिखने के लिए अमेरिकी पीआर फर्म डिफायनर्स पब्लिक अफेयर्स की मदद ली थी.

गार्डियन में शनिवार को छपी एक रिपोर्ट के अनुसार फेसबुक में बड़ी हिस्सेदारी रखने वाले जोनास क्रॉन ने कहा है कि रिपोर्ट के बाद जकरबर्ग का पद छोड़ना जरूरी है. जोनास क्रॉन ने कहा, "फेसबुक ऐसा व्यवहार कर रहा है जैसे वह खास है. ऐसा नहीं है. यह एक कंपनी है और एक कंपनी के तौर पर उसके चेयरमैन और सीईओ अलग-अलग होने जरूरी हैं."

एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में जकरबर्ग ने इस बात से इनकार किया कि उन्हें इस फर्म के बारे में पहले कोई जानकारी थी. उन्होंने कहा, "रिपोर्ट पढ़ने के बाद मेरी फोन पर अपनी टीम से बात हुई और अब हम इस फर्म के साथ काम नहीं कर रहे हैं."

गार्डियन की रिपोर्ट के अनुसार फेसबुक की एक अन्य निवेशक नताशा लैंब ने कहा कि चेयरमैन और सीईओ की संयुक्त भूमिका का अर्थ ये है कि फेसबुक कंपनी के अंदर समस्याओं के उचित समाधान को टाल सकता है.'

वेबसाइट टेकक्रंच के अनुसार डिफायनर्स सामान्य से आगे है, राजनीतिक रूप से तटस्थ कॉन्ट्रेक्टर. एक बयान में फेसबुक के सीओओ श्रेली सेंडबर्ग ने भी फर्म के बारे में कोई जानकारी होने से इनकार किया है.

फेसबुक ने कहा कि उसने 'फ्रींडम फ्रॉम फेसबुक' लकी फंडिंग देखने के लिए डिफायनर्स पब्लिक अफेयर्स का इस्तेमाल किया ताकि यह दिखाया जा सके कि यह सहज जमीनी अभियान नहीं था, जैसा कि हमारी कंपनी के प्रसिद्ध आलोचक उदार फाइनेंसर जॉर्ज सोरोस द्वारा दावा किया गया था.

कंपनी ने कहा कि जो आरोप उसपर लगाए हैं वे पूरी तरह गलत हैं. कंपनी ने इस बात से भी इनकार किया कि 2016 में उसी रूस की गतिविधियों के बारे में जानकारी थी और जांच में देरी की गई. बता दें कि विवादों के बीच फेसबुक के शेयर में भारी गिरावट आई है और यह 2017 के बाद के सबसे निचले स्तर पर पहुंच गए हैं.
Loading...

ये भी पढ़ें: नाराज जकरबर्ग ने Facebook एंप्लॉयीज से iPhone का इस्तेमाल बंद करने को कहा
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर