केंद्र सरकार सभी बेटियों के बैंक अकाउंट में हर महीने डाल रही है 2500 रुपये, जानें पूरा मामला

केंद्र सरकार की कन्‍या सम्‍मान योजना के बारे में जानें पूरा सच.
केंद्र सरकार की कन्‍या सम्‍मान योजना के बारे में जानें पूरा सच.

एक यू-ट्यूब वीडियो (Youtube Video) में दावा किया जा रहा है कि केंद्र सरकार कन्‍या सम्‍मान योजना (Kanya Samman Yojana) के तहत बेटियों के बैंक अकाउंट (Bank Account) में हर महीने 2,500 रुपये जमा कर रही है. आइए जानते हैं कि केंद्र की इस योजना के बारे में पूरा सच...

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 16, 2020, 7:32 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. केंद्र सरकार की योजनाओं (Central Government Scheme) की आड़ में काफी लोग फर्जीवाड़ा भी कर रहे हैं. फर्जीवाड़ा करने वाले पहले केंद्र की योजना के नाम पर फेक न्‍यूज या फेक वीडियो या फेक मैसेज वायरल (Fake Video/News/Message) करते हैं. इसके बाद आम लोगों को आवेदन करने और अपनी पर्सनल व बैंक डिटेल्‍स (Bank Details) शेयर करने को कहते हैं. इसके बाद उन्‍हें झांसा देकर आर्थिक नुकसान (Financial Loss) पहुंचाते हैं. कई बार लोगों के बैंक अकाउंट (Bank Account) तक खाली कर लिए जाते हैं. ऐसी ही एक फेक न्‍यूज को लेकर प्रेस इंफॉर्मेशन ब्‍यूरो (PIB) ने लोगों को अलर्ट किया है.

वीडियो में ये किया जा रहा है दावा
पीआईबी ने ट्वीट किया है, 'एक वायरल वीडियो (Viral Video) में बताया जा रहा है कि केंद्र सरकार हर बेटी के बैंक खाते में हर महीने 2,500 रुपये ट्रांसफर कर रही है. ये जानकारी पूरी तरह से फर्जी और भ्रामक है. केंद्र सरकार की ओर से ऐसी कोई योजना नहीं चलाई जा रही है. दरअसल, एक यू-ट्यूब (YouTube) वीडियो में दावा किया जा रहा है कि केंद्र बेटियों के बैंक खाते में 'कन्या सम्मान योजना' (Kanya Samman Yojana) के तहत प्रति माह 2,500 रुपये जमा कर रही है.


ये भी पढ़ें- 15वें वित्त आयोग ने पीएम नरेंद्र मोदी को सौंपी रिपोर्ट, जानें इसके बारे में सबकुछ



पीआईबी ने लोगों को दी ये सलाह
#PIBFactCheck में यह दावा फर्जी पाया गया है. पीआईबी ने लोगों को सलाह दी है कि ऐसी किसी भी योजना के लिए आवेदन करने से पहले अच्‍छी तरह पड़ताल करें. केंद्र सरकार की ओर से शुरू की जाने वाली हर योजना की जानकारी पहले ही संबंधित मंत्रालय की ओर से जारी की जाती है. इसलिए हर योजना से संबंधित मंत्रालय की वेबसाइट, पीआईबी और दूसरे भरोसेमंद माध्‍यमों से पड़ताल करने के बाद ही आवेदन करें. साथ ही कहा है कि किसी फर्जी खबर के झांसे में आने पर आपको फायदे के बजाय आर्थिक नुकसान झेलना पड़ सकता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज