सफल उद्यमी इन बातों को ध्यान में रखकर शुरू सकते हैं अपना नया बिजनेस

  • Share this:
जो लोग कामयाब होने की इच्छा रखते हैं, वही बड़े मुकाम हासिल कर पाते हैं. सफलता और विफलता दोनों ही हमारे जीवन के पढ़ाव हैं, जिससे हम सबको एक न एक दिन गुजरना होता है. लेकिन सफलता पाना इतना आसान नहीं है, क्योंकि सफल होने के लिए व्यक्ति को कठिन परिस्थितियों से गुजरना पड़ता है.



हम आपको ऐसे ही तीन उद्यमियों के बिजनेस के बारे में बता रहे हैं, जो गिरके फिर उठ खड़े हुए हैं. यानी जिनका बिजनेस क़र्ज़ में चला गया था और उन्होंने बाद में अपनी मेहनत और लगन से फिर इसे खड़ा किया.



विफल होने के बाद बनाई नंबर वन कंपनी





तीन उभरते भारतीय उद्यमी अफगानिस्तान में एक इवेंट मैनेजमेंट कंपनी शुरू की, जिसका काम काबुल में होने वाले इवेंट में बॉलीवुड सितारों को आमंत्रित करना है. कंपनी शुरू करने के 3 महीने बाद उन्‍होंने एक कॉन्सर्ट किया, जो एक दुर्घटना के साथ समाप्त हुआ. इससे उनके ऊपर 200,000 अमेरिकी डॉलर का क़र्ज़ हो गया था. पहले तो कंपनी के फाउंडर ने अपना क़र्ज़ चुकाया. फिर उन्होंने काबुल में एक बड़ी कंपनी खोली और उसमें उन्होंने 600 लोगों को काम पर रखा और दस वर्षों में कंपनी को 300 मिलियन अमेेरिकी डॉलर के टर्नओवर की कंपनी बना दिया. अब यह काबुल की सबसे बड़ी बॉलीवुड इवेंट कराने वाली कंपनी है.
ये वो बातें हैं जिनको ध्यान में रखकर आप कर सकते हैं सफल बिजनेस की शुरुआत:



  1. विफल होने के बाद क्या करें: गलतियां इंसानों से ही होती हैं और कंपनी के विफल होने के कारण बिजनेस में कोई भी निष्कर्ष लेने से पहले हम 10 बार सोचते हैैं. लेकिन अपनी नाकामी से हताश ना होकर एक जिद्दी उद्यमी की तरह डटे रहिए और दूसरे बिज़नेस को शुरू करने की रणनीति बनाइए. कामयाबी पाने के लिए सबसे अहम हैै कभी हार ना मानना और प्रयत्‍न करते जाना.






  1. निष्ठा-एक बुनियादी विशेषता: अपना काम सच्‍चाई से करें. सच्‍चाई एक ऐसी चीज है, जो आपको हर सेक्टर में आगे बढ़ने में मदद करती है. हमें एक सैनिक की तरह अपने बिजनेस के लिए खड़े रहना चाहिए. किसी भी हालत से ना भागते हुए उसका जमकर सामना करे.






  1. नया उद्यम-नया अनुभव: अपने पहले बिजनेस में नाकाम होने के बाद जब आप अपना एक नया बिजनेस शुरू करते हैं तो आपका अनुभव आपको अच्छे कारोबार की शुरुआत करने में मदद करता है. हालांकि, आपका अनुभव आपको सभी जोखिमों और चुनौतियों के लिए तैयार नहीं कर सकता है, क्योंकि हर नई यात्रा में नए जोखिम और चुनौती होती है, जो आपको एक नया अनुभव देती है. रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने जिओ को "सबसे बड़ा स्टार्टअप" बताया, उन्होंने इसे कंपनी नहीं बताया. एक कामयाब उद्यमी वही है, जो अपनी गलतियों से सीखकर आगे बढ़ता है, और अपने दूसरे बिजनेस को कामयाब बनाता है.



अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज