देश के इन 16 राज्यों में खपाए जा रहे हैं करोड़ों रुपये के नकली नोट, यह राज्य है पहले नंबर पर

नकली नोटों की यह खेप मुम्बई में पकड़ी गई थी. (फाइल फोटो)

नकली नोटों की यह खेप मुम्बई में पकड़ी गई थी. (फाइल फोटो)

यह नोट 2000, 500 और 200 रुपये के नोट की शक्ल में भारत (India) भेजे जा रहे हैं. हालांकि देश की अलग-अलग एजेंसियां हर साल बड़ी संख्या में नकली नोट (Fake Currency) पकड़ रही हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 16, 2020, 2:23 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पाकिस्तान (Pakistan) भारत में सिर्फ आतंकवादी ही नहीं भेजता है, वो भारत की अर्थव्यवस्था (Economy) को खराब करने के लिए नकली नोट भी भेज रहा है. अभी तक वो बांग्लादेश (Bangladesh) के रास्ते पश्चिम बंगाल में ही नकली नोट भेजता था, लेकिन अब उसके भेजे गए नकली नोट (Fake Currency) देश के अलग-अलग 16 राज्यों में पकड़े गए हैं.

नकली नोट इतनी तादाद में आ रहे हैं कि पश्चिम बंगाल (West Bengal) अब पीछे छूट गया है. यह नोट 2000, 500 और 200 रुपये के नोट की शक्ल में भारत (India) भेजे जा रहे हैं. हालांकि देश की अलग-अलग एजेंसियां हर साल बड़ी संख्या में नकली नोट पकड़ रही हैं.

नकली नोट मामले में गुजरात, बंगाल और पंजाब हैं टॉप पर

हाल ही में गृह मंत्रालय ने नकली नोटों से जुड़े कुछ आंकड़े जारी किए हैं. यह आंकड़े बीते चार साल के हैं. 2016 से लेकर 2019 तक के आंकड़े जारी किए गए हैं. आंकड़ों में बताया गया है कि कब और कहां कितने नकली नोट पकड़े गए. पाकिस्तान 2000, 500 और 200 रुपये के नोट की शक्ल में नकली नोट भेज रहा है.
fake Indian currency, pakistan, gujarat, BSF, west bengal, home ministry, lok sabha, नकली भारतीय मुद्रा, पाकिस्तान, गुजरात, बीएसएफ, पश्चिम बंगाल, गृह मंत्रालय, लोक सभा
यह है 2 हजार रुपये के नकली नोट का आंकड़ा.


इसे भी पढ़ें: देश के इस राज्य में डूब गए 500 हाथी, गैंडे और हिरन, यह थी वजह

Youtube Video




खास बात यह है कि तीनों ही तरह के नोटों की बरामदगी के मामले में गुजरात पहले नंबर पर है. गुजरात में 12 करोड़ रुपये से ज़्यादा की कीमत के नकली नोट पकड़े जा चुके हैं. वहीं पश्चिम बंगाल में 10 करोड़ और पंजाब में 50 लाख रुपये के. परेशान करने वाली बात यह भी है कि नकली नोट के कारोबारियों ने यूपी में भी अपने पैर पसार लिए हैं.

fake Indian currency, pakistan, gujarat, BSF, west bengal, home ministry, lok sabha, नकली भारतीय मुद्रा, पाकिस्तान, गुजरात, बीएसएफ, पश्चिम बंगाल, गृह मंत्रालय, लोक सभा
यह है 500 रुपये के नकली नोट पकड़े जाने का आंकड़ा.


इसे भी पढ़ें: एक खास तरीके से चोरी करने इन शहरों में जाता है बच्‍चों और महिलाओं का यह गिरोह, जानें पूरी कहानी

और भी चौंकाने वाले हैं बीएसएफ के आंकड़े

नकली नोटों के बारे में बीएसएफ ने जनवरी 2020 में खुलासा करते हुए बताया था कि बांग्लादेश बॉर्डर पर लगातार उसकी चौकसी रहती है. यही वजह है कि मौका लगते ही वो नकली नोटों के तस्करों को दबोचती है. इसी के चलते बीएसएफ ने 2018 में करीब 53 करोड़ के नकली नोट पकड़े थे. वहीं 2019 में 51 करोड़ के नोट जब्त किए थे. जनवरी, 2020 में ही यह रिपोर्ट तैयार किए जाते वक्त 3 करोड़ से ज़्यादा के नोट पकड़े जा चुके थे.

fake Indian currency, pakistan, gujarat, BSF, west bengal, home ministry, lok sabha, नकली भारतीय मुद्रा, पाकिस्तान, गुजरात, बीएसएफ, पश्चिम बंगाल, गृह मंत्रालय, लोक सभा
200 रुपये के नकली नोट जब्त किए जाने का आंकड़ा.


बंगाल के मालदा से सप्लाई होते हैं नकली नोट

देश में 8 नवंबर, 2016 को नोटबंदी का फैसला लागू होने के बाद 500 और 2000 रुपये के नए नोट बाजार में आ गए. उस वक्त यह कारोबार ज़रूर कुछ महीने बंद रहा था. लेकिन फिर दोबारा नए नोट के साथ शुरू हो गया. सूत्रों की मानें तो नकली नोटों के बाज़ार मालदा में 100 रुपये के नोट की डिमांड कम है. लेकिन ऐसा नहीं है कि मिलेगा नहीं. 100 रुपये का नोट यहां 45 रुपये में, 2 हज़ार का एक हज़ार और 500 का नोट 200 रुपये में मिलता है. सूत्रों का तो यह भी कहना है कि देश के ज़्यादातर हिस्सों में मालदा से ही नकली नोट सप्लाई होते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज