पंजाब और हरियाणा के किसानों को मिली सौगात, पहली बार बैंक खाते में मिला MSP का पैसा

पीएम मोदी (फाइल फोटो)

पीएम मोदी (फाइल फोटो)

पंजाब में इससे पहले किसानों को उनकी फसल खरीद के लिए भुगतान एजेंटों के जरिए किया जाता रहा है.

  • Share this:

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने शुक्रवार को कहा कि एमएसपी (MSP) पर इस बार खाद्यान्न की रिकार्ड खरीदारी हुई है और पंजाब, हरियाणा के किसानों को उनकी फसल का भुगतान पहली बार सीधे उनके बैंक खाते में पहुंचने का लाभ मिला है.

प्रधानमंत्री किसान सम्‍मान निधि योजना (PM Kisan Samman Nidhi Yojana) के तहत देश के 9.5 करोड़ से अधिक किसानों को आर्थिक लाभ की आठवीं किस्‍त जारी करने के बाद अपने संबोधन में मोदी ने यह बात कही. आठवीं किस्‍त के तहत विश्‍व की सबसे बड़ी डीबीटी योजना के माध्‍यम से 20,000 करोड़ से अधिक की राशि सीधे लाभार्थी किसानों के खातों में भेजी गई है.

इस मौके पर मोदी ने कहा कि इस साल अब तक पिछले साल के मुकाबले 10 फीसदी अधिक गेहूं की खरीद हुई है और इस खरीद के भुगतान के तौर पर 58,000 करोड़ रुपये सीधे किसानों के बैंक खाते में पहुंचाए जा चुके हैं.

पंजाब के किसानों को अब तक 18,000 करोड़ रुपये का भुगतान 
इस समारोह में प्रधानमंत्री ने देश के विभिन्न हिस्सों में कृषि क्षेत्र में नए-नए कार्य कर रहे कुछ किसानों से सीधी बात भी की. मोदी ने कहा, ''किसान मंडियों में माल बेच रहा है और पैसा सीधे उनके बैंक खाते में पहुंच रहा है. पंजाब और हरियाणा के किसानों को पहली बार इस सुविधा का लाभ मिल रहा है. इस मार्केटिंग सत्र में पंजाब के किसानों को अब तक 18,000 करोड़ रुपये और हरियाणा के किसानों को 9,000 करोड़ रुपये का भुगतान सीधे उनके बैंक खातों में किया जा चुका है.''

ये भी पढ़ें- EPFO: अगर आप घर बैठे ट्रांसफर करना चाहते हैं अपना PF अकाउंट, तो इन स्टेप्स को करें फॉलो 

उल्लेखनीय है कि पंजाब में इससे पहले किसानों को उनकी फसल खरीद के लिए भुगतान एजेंटों के जरिए किया जाता रहा है. इस बार भुगतान प्रणाली में बदलाव कर सभी को सीधे बैंक खातों में ऑनलाइन भुगतान की सुविधा शुरू की गई है.



PM मोदी ने 9.5 करोड़ किसानों के खाते में भेजे 19,000 करोड़ रुपये

इससे पहले मोदी ने देश के 9.5 करोड़ किसानों को पीएम किसान निधि के तहत 19,000 करोड़ रुपये की 8वीं किस्त जारी की. इसके तहत लाभार्थी किसानों को प्रत्येक चार महीने में 2,000 रुपये की सम्मान निधि सरकार की तरफ से दी जाती है. साल में कुल 6,000 रुपये प्रत्येक लाभार्थी किसानों के खातों में पहुंचाए जाते हैं.

ये भी पढ़ें- Gold Price Today: अक्षय तृतीया पर सस्ता हुआ सोना! कीमतों में लगातार गिरावट, फटाफट चेक करें लेटेस्ट रेट्स

पहली बार बंगाल के किसानों के खाते में आए 2000 रुपये

कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए कहा कि योजना के तहत पश्चिम बंगाल के सात लाख से अधिक किसानों को पहली बार योजना का लाभ मिलना शुरू हुआ है. उन्होंने कहा कि सरकार का हर समय यह प्रयास रहा है कि देश के सभी किसानों को योजना का लाभ उपलब्ध कराया जाए. तोमर ने कहा कि योजना की शुरुआत से लेकर अब तक पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत 1.35 लाख करोड़ रुपये का भुगतान किया जा चुका है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज