Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    केंद्र ने अब पुराने वाहनों के लिए बदला ये नियम, FASTag लगाना किया अनिवार्य, जानें कहां से खरीदें फास्‍टैग

    सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्रालय ने आदेश जारी कर पुराने वाहनों के लिए भी फास्‍टैग अनिवार्य कर दिया है.
    सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्रालय ने आदेश जारी कर पुराने वाहनों के लिए भी फास्‍टैग अनिवार्य कर दिया है.

    केंद्र सरकार (Central Government) ने अब 1 जनवरी 2021 से पहले के वाहनों (Old Vehicles) के लिए भी फास्‍टैग (FasTag) लगाना अनिवार्य कर दिया है. इसके लिए केंद्र सरकार ने सेंट्रल मोटर व्‍हीकल रूल्‍स, 1989 (CMVR, 1989) में बदलाव कर दिया है.

    • News18Hindi
    • Last Updated: November 7, 2020, 8:49 PM IST
    • Share this:
    नई दिल्‍ली. देशभर के टोल प्लाजा (Toll Plaza) पर डिजिटल और आईटी आधारित पेमेंट सिस्टम (Digital Payment) को बढ़ावा देने के लिए सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय (MoRTH) ने एक और बड़ा कदम उठाया है. मंत्रालय ने नोटिफिकेशन जारी कर स्पष्ट आदेश दिया है कि अब 1 जनवरी 2021 से पुरानी गाड़ियों पर भी फास्टैग लगाना अनिवार्य कर दिया गया है. आदेश के मुताबिक, 1 दिसंबर 2017 से पहले बिकी एम और एन कैटेगरी के वाहनों पर फास्टैग लगाना अनिवार्य होगा. केंद्र ने इसके लिए सेंट्रल मोटर व्‍हीकल रूल्‍स, 1989 (CMVR, 1989) में बदलाव कर दिया है.

    क्या कहता है सेंट्रल मोटर व्हीकल्स रूल 1989
    नियम के मुताबिक, 1 जनवरी 2017 के बाद बिके वाहनों में फास्टैग लगाना अनिवार्य होगा. सभी नए चार पहिया वाहनों के रजिस्‍ट्रेशन के लिए यह अनिवार्य किया गया था. यही नहीं इसमें व्यवस्था की गई थी कि ट्रांसपोर्ट व्हीकल के लिए फास्टैग लगाने के बाद ही फिटनेस सर्टिफिकेट रिन्यू किया जाएगा. यही नहीं, 1 अक्टूबर 2020 से अनिवार्य किया गया था कि वाहनों के नेशनल परमिट के लिए फास्टैग लगाना होगा. इसके अलावा वाहनों का फॉर्म-51 के जरिये नया थर्ड पार्टी इंश्‍योरेंस कराने के लिए भी 1 अप्रैल 2021 के बाद फास्टैग लगाना अनिवार्य होगा. फॉर्म में फास्टैग आईडी दर्ज करनी होगी.

    ये भी पढ़ें- कोरोना संकट के बीच जुलाई से अब तक 1 करोड़ लोगों को मिला रोजगार, 4 महीने में 11 लाख MSMEs का हुआ रजिस्‍ट्रेशन
    फास्टैग से वाहन चालकों को होगा ये फायदा


    वाहनों में फास्टैग लगाने से टोल प्लाजा पर समय की बचत होगी. आप बिना इंतजार किए आसानी से टोल क्रॉस कर पाएंगे. इससे लंबी लाइनों में लगने के कारण बेवजह खर्च होने वाले ईंधन की बचत होगी. ईंधन कम खर्च होने से आम जनता का धन भी बचेगा. केंद्र सरकार भी टोल प्लाजा पर इलेक्ट्रॉनिक मोड़ से 100 फीसदी टैक्स लेने की दिशा में आगे बढ़ रही है. फास्टैग आज ऑनलाइन के साथ ही कई स्थानों पर ऑफलाइन भी उपलब्ध है. अपने वाहनों में फास्टैग लगाने के लिए लोगों के पास करीब 2 महीने का समय बचा हुआ है.

    फास्टटैग कैसे खरीदें?
    राष्ट्रीय राजमार्ग टोल प्लाजा और 22 विभिन्न बैंक से फास्टटैग स्टिकर खरीदे जा सकते हैं. यह पेटीएम, अमेजन और फ्लिपकार्ट जैसे ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर भी उपलब्ध हैं. इसके अलावा Fino Payments Bank और Paytm Payments Bank भी फास्टटैग जारी करते हैं.

    ये भी पढ़ें- Good News: कारोबारी गतिविधियों में सुधार के साथ कंपनियां वापस ले रहीं वेतन कटौती, अब इन कंपनियों ने दिया बोनस

    फास्टटैग रिचार्ज कैसे करें?
    >>  यदि फास्टटैग NHAI प्रीपेड वॉलेट से जुड़ा है, तो इसे चेक के माध्यम से या यूपीआई/डेबिट कार्ड/क्रेडिट कार्ड/NEFT/नेट बैंकिंग आदि के माध्यम से रिचार्ज किया जा सकता है.
    >>  अगर बैंक खाते को फास्टटैग से लिंक होता है, तो पैसे सीधे खाते से काट लिया जाता है.
    >>  अगर Paytm वॉलेट को फास्टटैग से लिंक होता है, तो पैसे सीधे वॉलेट से काट लिया जाता है.

    क्या हम एक फास्टटैग का उपयोग दो या अधिक वाहनों के साथ कर सकते हैं?
    नहीं, दो वाहनों के लिए दो अलग फास्टटैग खरीदना होगा.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज