• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • यहां 15 फरवरी से मुफ्त में मिलेंगे FASTag, जानें कब तक है ऑफर!

यहां 15 फरवरी से मुफ्त में मिलेंगे FASTag, जानें कब तक है ऑफर!

टोल ऑपरेटर्स को मुआवजा देने की तैयारी कर रही है

टोल ऑपरेटर्स को मुआवजा देने की तैयारी कर रही है

नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (NHAI) के टोल प्लाजा (Toll Plaza) पर अगले 15 दिनों तक फास्टैग मुफ्त में मिलेंगे. 15 फरवरी से 29 फरवरी के बीच NHAI टोल प्लाजा में FASTag लेने पर कोई शुल्क नहीं लगेगा.

  • Share this:
    नई दिल्ली. अगर आपने अभी तक अपनी गाड़ी पर फास्टैग (FASTag) नहीं लगवाया है तो आपके पास मुफ्त में पाने का मौका है. नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (NHAI) के टोल प्लाजा (Toll Plaza) पर अगले 15 दिनों तक फास्टैग मुफ्त में मिलेंगे. 15 फरवरी से 29 फरवरी के बीच NHAI टोल प्लाजा में FASTag लेने पर कोई शुल्क नहीं लगेगा. इससे पहले एनएचएआई में 22 नवंबर से 15 दिसंबर 2019 को भी मुफ्त में फास्टैग उपलब्ध कराया था. बता दें कि नेशनल हाईवे (National Highway) के टोल प्लाजा (Toll Plaza) से गुजरने वाले चार पहिया वाहन पर FASTag लगाना अनिवार्य हो गया है. केंद्र सरकार इस तकनीक का इस्तेमाल डिजिटल पेमेंट (Digital Payment) को बढ़ावा देने के साथ-साथ प्रदूषण कम करने और लंबी लाइनों से निजात दिलाने के लिए कर रही है.

    यहां मिलेंगे फास्टैग
    NHAI ने फास्टैग की कीमत 100 रुपये नहीं लेने का निर्णय लिया है. NHAI के फास्टैग NHAI के टोल प्लाजा, आरटीओ, कॉमन सर्विस सेंटर, ट्रांसपोर्ट हब और पेट्रोल पंप पर मिलेंगे. एनएचएआई के नजदीकी फास्‍टैग बिक्री केंद्र का पता लगाने के लिए माईफास्‍टैग ऐप (MyFASTag App), www.ihmcl.com पर या फिर NH हेल्‍पलाइन नंबर 1033 पर संपर्क किया जा सकता है. हालांकि फास्‍टैग के लिए निर्धारित सुरक्षा जमा राशि और वैलेट में न्‍यूनतम शेष राशि यथावत बनी रहेगी इसमें कोई बदलाव नहीं किया गया है.  फास्टैग लेने के लिए ग्राहकों को गाड़ी का रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट यानी आरसी की कॉपी साथ रखना होगी.

    ये भी पढ़ें: 16 मार्च से बदल जाएंगे SBI, ICICI और HDFC बैंक के ATM से पैसे निकालने के नियम, यहां जानिए सबकुछ



    क्या है फास्टैग?
    यह एक तरह की इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन तकनीक (Electronic Toll Collection) है जो नेशनल हाईवे के टोल प्लाजा पर उपलब्ध है. यह तकनीक रेडिया ​फ्रिक्वेंसी आइडेन्टिफिकेशन (RFID) के प्रिंसिपल पर काम करती है. इस टैग को वाहन के विंडस्क्रीन पर लगाया जाता है ताकि टोल प्लाजा पर मौजूद सेंसर इसे रीड कर सके. जब कोई वाहन टोल प्लाजा पर फास्टैग लेन से गुजरता है तो ऑटोमैटिक रूप से टोल चार्ज कट जाता है. इसके लिए वाहनों को रुकना नहीं पड़ता है. एक बार जारी किया गया फास्टैग 5 साल के लिए एक्टिवेट रहता है. इसे बस समय पर रिचार्ज करना पड़ता है.

    ये भी पढ़ें: EPFO ने आसान किए खाते से पैसा निकालने और ट्रांसफर करने के नियम, अब घर बैठे भर सकेंगे 'Date of Exit'

    कैसे इस्तेमाल करें फास्टैग?
    सबसे पहले तो फास्टैग के लिए आपको प्लास्टिक कवरिंग उतारकर इसे वाहन के विंड स्क्रीन पर लगाना होगा. पहली बार इस्तेमाल कर रहे यूजर्स को इसे अपने ऑनलाइन वॉलेट से लिंक करना होगा. इसके लिए उन्हें उस बैंक की वेबसाइट पर जाना होगा जिनसे फास्टैग खरीदा गया है. उसके बाद दिए गए स्टेप को फॉलो करने के बाद इस्तेमाल किया जा सकता है. इस वॉलेट को ऑनलाइन रिचार्ज किया जा सकता है. फास्टैग अकाउंट से हर बार पैसे कटने के बाद इसका एक एसएमएस अलर्ट भी आएगा.

    क्या हैं फास्टैग के फायदे? 
    फास्टैग इस्तेमाल करने का सबसे बड़ा फायदा ये है टोल प्लाजा पर लंबी लाइने नहीं लगानी पड़ती है. साथ ही पेमेंट की सहूलियत की वजह से किसी को नकदी साथ में रखने की जरूरत नहीं होती. टोल प्लाजा पर पेपर का इस्तेमाल भी कम होता है. लेन में वाहनों की लंबी लाइने कम होने की वजह से प्रदूषण भी कम होता है. फास्टैग के इस्तेमाल पर कई तरह का कैशबैक व अन्य ऑफर भी मिलता है.

    ये भी पढ़ें: LPG Cylinder Price: रसोई गैस सिलेंडर के दाम 149 रुपये बढ़े, यहां चेक करें अपने शहर के नए दाम

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज