भारत की फार्मा कंपनी FDC कोरोना के इलाज में कारगर दवा फेविपिराविर के 2 वैरिएंट लॉन्च किए

भारत की फार्मा कंपनी FDC कोरोना के इलाज में कारगर दवा फेविपिराविर के 2 वैरिएंट लॉन्च किए
एफडीसी लिमिटेड, ने कोविड-19 की दवा, फेविपिराविर, के दो वेरिएंट लॉन्च किए है.

देश की एक और फार्मा कंपनी ने फेविपिराविर (Favipiravir) को भारत में लॉन्च कर दिया है. एफडीसी लिमिटेड, ने कोविड-19 की दवा, फेविपिराविर, के दो वेरिएंट लॉन्च किए है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 25, 2020, 2:02 PM IST
  • Share this:
मुंबई. एफडीसी लिमिटेड (FDC), ने आज कोविड-19 की दवा, फेविपिराविर (Favipiravir), के दो वेरिएंट – पिफ्लू और फेवेन्ज़ाो- को लॉन्च करके कोविड-19 के खिलाफ चल रही लड़ाई में अपनी शुरुआत की घोषणा की. इन वैरिएंट का उपयोग भारत में कोविड-19 के हल्केे से लेकर मध्यम मामलों में किया जायेगा. कोविड के लगभग तीस लाख मामलों के साथ हम दुनिया के तीसरे सबसे बड़े देश बन गये हैं, और मामलों कीदैनिक वृद्धि दर बढ़ने के कारणभारतीय अर्थव्यवस्था और आबादी दोनों को पिछली दो तिमाहियों में बड़े झटके लगे हैं.

इस साल की शुरुआत में, ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने एक ऑफ-पेटेंट, ओरल एंटी-वायरल दवा फेविपिराविर को मंजूरी दे दी, जो हल्के से मध्यम लक्षणों वाले कोविड-19 रोगियों में क्लिनिकल रिकवरी को तेज करने में कामयाब रही है. यह एक व्यापक स्पेक्ट्रम वाला एंटी-वायरल एजेंट है, और खास तौर पर, इन्फ्लूएंजा और सारकोव-2 वायरस के आरएनए पोलीमरेज और वायरल रिप्लिीकेशन को रोकता है.





एफडीसी लिमिटेड के प्रवक्ता, मयंक टिक्खा ने कहा कि देश में अब कोविड-19 के 20 लाख 70 हजार से अधिक मामले सामने आ चुके हैं, इसलिए देश में स्वास्थ्य की देखभाल में लगे कर्मचारियों को इस बीमारी से लड़ने के लिए व्यावहारिक एवं किफायती विकल्प प्रदान करने का भी समय आ गया है.

रोग की जल्दीा पहचान और उपचार से रोगियों की बिगड़ती हालत को रोकने में मदद मिलेगी, तथा हम सरकार और स्वास्थ्य सेवा बिरादरी के साथ मिलकर देश भर में पिफ्लू और फेवेन्ज़ाय उपलब्ध कराएंगे.वर्तमान में एफडीसी का पिफ्लूऔर फेवेन्ज़ौ पूरे देश में उपलब्ध है.एफडीसी ने अपने संतुलित इलेक्ट्रोलाइट ड्रिंक के ब्रांड एनरज़ल और इलेक्ट्रालका उत्पादन और उसकी उपलब्धता बढ़ा दी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज