Home /News /business /

Credit Card Debt: क्रेडिट कार्ड के कर्ज से हैं परेशान तो इन 3 तरीकों को अपनाकर आसानी से चुकाएं पैसे

Credit Card Debt: क्रेडिट कार्ड के कर्ज से हैं परेशान तो इन 3 तरीकों को अपनाकर आसानी से चुकाएं पैसे

प्रतीकात्मक तस्वीर

प्रतीकात्मक तस्वीर

अगर आप क्रेडिट कार्ड के ड्यूज (Credit Card Dues) नहीं चुकाएंगे, तो तकरीबन 40 फीसदी के हिसाब से सालाना चार्ज देना होता है. ये सिलसिला तब तक चलेगा जब तक आप पूरा हिसाब नहीं चुका देते. इसके अलावा आपका क्रेडिट स्कोर भी प्रभावित होता है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. भारत में डिजिटल पेमेंट (Digital Payment) के इस्तेमाल में इजाफा हुआ है. देश के बड़े शहरों के साथ-साथ छोटे शहरों में भी क्रेडिट कार्ड (Credit Card) का चलन बढ़ा है. क्रेडिट कार्ड काफी सुविधाजनक होने के साथ-साथ नुकसानदायक भी होते हैं. अगर आप समझदारी से इसका इस्तेमाल करते हैं तो यह लाभदाक होता है. एक क्रेडिट कार्ड यूजर्स को रिवॉर्ड प्वाइंट, डिस्काउंट, कैशबैक आदि के रूप में कई फायदे मिलते हैं. हालांकि क्रेडिट कार्ड का गैर-जिम्मेदाराना उपयोग जैसे लापरवाही से खर्च करना, आपके कार्ड के बिल का पेमेंट न करना या केवल मिनिमम अमाउंट का पेमेंट करने पर आप कर्ज के जाल में फंस सकते हैं.

    अगर आप क्रेडिट कार्ड के ड्यूज (Credit Card Dues) नहीं चुकाएंगे, तो तकरीबन 40 फीसदी के हिसाब से सालाना चार्ज देना होता है. ये सिलसिला तब तक चलेगा जब तक आप पूरा हिसाब नहीं चुका देते. इसके अलावा आपका क्रेडिट स्कोर भी प्रभावित होता है. अगर आप ऐसी स्थिति में फंस गए हैं, तो यहां तीन उपाय हैं जो आपको क्रेडिट कार्ड कर्ज के बोझ को कम करने में मदद कर सकते हैं.

    EMI में कंवर्ट करें ट्रांजैक्शन
    कई बार आप टाइम पर क्रेडिट कार्ड का बिल टाइम पर नहीं चुकाते हैं तो आपको भारी जुर्माना और ब्याज भरना पड़ता है. ऐसे में क्रेडिट कार्ड कंपनियां आपको ईएमआई का ऑप्शन देती हैं, जिसके जरिए आप अपने ट्रांजैक्शन को ईएमआई में कंवर्ट सकते हैं. इससे आप पर कर्ज का बोझ कम हो सकता है.

    ये भी पढ़ें- रियल एस्टेट कंपनियों ने मॉनेटरी पॉलिसी का किया स्वागत, कहा- Home Loan पर सस्ता कर्ज मिलना जारी रहेगा

    Balance Transfer: बैलेंस ट्रासंफर करवा सकते हैं 
    बैलेंस ट्रांसफर सुविधा आपको अपने मौजूदा क्रेडिट कार्ड देय राशि को किसी अन्य क्रेडिट कार्ड में ट्रांसफर करने की अनुमति देती है. अगर आपके मौजूदा क्रेडिट कार्ड पर ज्यादा कर्ज हो गया है और तो आप अपने इस क्रेडिट कार्ड की बकाया राशि को किसी दूसरे बैंक के क्रेडिट कार्ड पर ट्रांसफर करा सकते हैं. हालांकि बैलेंस ट्रांसफर से पहले नई क्रेडिट कार्ड कंपनी या बैंक के चार्ज को पता कर लेना चाहिए.

    ये भी पढ़ें- एक बार 50 हजार रुपये लगाकर शुरू करें ये कारोबार, 1 लाख से ज्यादा होगी कमाई, सरकार करेगी मदद

    पर्सनल लोन ले सकते हैं
    अगर आपके मौजूदा क्रेडिट कार्ड पर ज्यादा कर्ज हो गया है और तो ईएमआई और बैलेंस ट्रांसफर के अलावा आपके लिए पर्सनल लोन एक विकल्प हो सकता है. आमतौर पर पर्सनल लोन की ब्याज दरें आपके क्रेडिट कार्ड के कर्ज से काफी कम होती हैं. यह ऑप्शन उन लोगों के लिए विशेष रूप से सहायक हो सकता है जिनके क्रेडिट कार्ड कर्ज बड़ा है.

    Tags: Bank Loan, Bank news, Credit card, Credit card limit, Interest rate of banks

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर