त्‍योहारी सीजन में त्रिपुरा को केंद्र का तोहफा! एकसाथ 9 नेशनल हाइवे प्रोजेक्‍ट्स होंगे शुरू

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी कल त्रिपुरा में एकसाथ नौ हाइवे प्रोजेक्‍ट्स की आधारशिला रखेंगे.
केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी कल त्रिपुरा में एकसाथ नौ हाइवे प्रोजेक्‍ट्स की आधारशिला रखेंगे.

केंद्रीय सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी (MoRTH Nitin Gadkari) कल पूर्वोत्‍तर राज्‍य त्रिपुरा (Tripura) में सड़क परियोजनाओं की आधारशिला रखेंगे. इस परियोजना पर करीब 2,800 करोड़ रुपये की लगात आएगी. परियोजना पूरी होने पर त्रिपुरा से बांग्‍लादेश (Bangladesh) के लिए आवाजाही ज्‍यादा आसान हो जाएगी. वहीं, देश के अन्‍य राज्‍यों से सड़क संपर्क बेहतर हो जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 26, 2020, 6:11 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. केंद्र में पहली बार यानी 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की सरकार आते ही पूर्वोत्तर राज्यों (Northeast) के विकास पर विशेष ध्यान दिया जाने लगा. पूर्वोत्तर भारत के 8 राज्यों में इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट (Infrastructure Development) और रोजगार (Employment) को लेकर काम में तेजी लाई जा रही है. इसी कड़ी में त्रिपुरा (Tripura) में एकसाथ 9 नेशनल हाइवे प्रोजेक्‍ट्स (NH Projects) की शुरुआत की जा रही है. केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गड़करी (MoRTH Nitin Gadkari) कल यानी 27 अक्‍टूबर 2020 को इन 262 किमी लंबी सड़क परियोजनाओं की आधारशिला रखेंगे. करीब 2,800 करोड़ रुपये की लागत से बन रही इन सडक परियोजनाओं के जरिये त्रिपुरा का सड़क संपर्क देश-दुनिया के साथ काफी बेहतर हो जाएगा.

बांग्लादेश से सड़क संपर्क होगा बेहतर
सड़क परियोजनाओं के पूरा होने से त्रिपुरा का देश के अन्य राज्यों से सड़क संपर्क पहले से बेहतर, निर्बाध और तेज होगा. यहीं नहीं बांग्लादेश के लिए भी आवाजाही ज्‍यादा आसान हो जाएगी. इससे सामान की ढुलाई ज्‍यादा तेजी से हो पाएगी. इसके अलावा त्रिपुरा आने वाले पर्यटकों के लिए आसानी होगी. पर्यटक आसानी से त्रिपुरा के पर्यटन स्थलों, ऐतिहासिक स्थलों और धार्मिक स्थलों तक पहुंच पाएंगे. सड़कों का नेटवर्क मजबूत होने से रोजगार और स्वरोजगार के अवसर भी बढ़ने की उम्मीद है. स्किल्ड,अनस्किल्ड और सेमिस्किल्ड मैनपावर को काम मिल पाएगा.

ये भी पढ़ें- सरकारी कंपनियों से नाराज है PMO! दिया बड़ा आदेश, इकोनॉमी को मिलेगी रफ्तार
त्रिपुरा के लोगों को मिलेंगे ये फायदे


सड़कों का जाल बिछाए जाने से स्‍थानीय लोगों का यात्रा समय और वाहनों की रखरखाव लागत में कमी होगी. इसके अलावा वाहनों के ईंधन में बचत होने से लोगों की जेब पर कम भार पड़ेगा. प्रदेश के कृषि उपज को बड़ा बाजार मिल पाएगा. किसानों की आमदनी भी बढ़गी. यहीं नहीं, स्वास्थ्य क्षेत्र के लिहाज से भी यह काफी उपयोगी साबित होगा. आपात सेवा या रोगियों को कम समय में अस्पतालों तक पहुंचाया जा सकेगा. त्रिपुरा की जीडीपी में भी परियोजनाओं का खासा योगदान होगा. गड़करी के अलावा आधारशिला कार्यक्रम में त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब, केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह, जनरल (सेवानिवृत्‍त) डॉ. वीके सिंह भी शामिल होंगे.

ये भी पढ़ें- किसानों को धोखा देने वालों की खैर नहीं! पीएम कुसुम योजना के नाम पर ठगी कर रही फर्जी वेबसाइटों पर केंद्र ने की सख्‍त कार्रवाई

ये है त्रिपुरा की 9 सड़क परियोजनाएं
एनएच मार्ग                    किमी        खर्च (करोड़ रुपये में)
जलाईबरी-बेलोनिया         21.4        201.99
कैलाशहर-कुमारघाट       18.90      277.50
खयेरपुर-अमताली           12.90      147.00
अगरतला-खोवई             38.80      480.19
कैलाशहर-कुर्ती              36.46      473.49
मनु-सिमलंग                  36.54      595.12
गोमती-मुहुरी नदी पुल    ----             83.06
चुराईबरी-अगरतला        74.85      257.96
चुराईबरी-अगरतला        21.789    236.18
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज