लाइव टीवी

कोरोना ने सभी कारोबारियों को किया बर्बाद! FICCI ने बताया कितना हुआ भारतीय कंपनियों पर असर

News18Hindi
Updated: March 20, 2020, 6:04 PM IST
कोरोना ने सभी कारोबारियों को किया बर्बाद! FICCI ने बताया कितना हुआ भारतीय कंपनियों पर असर
FICCI ने बताया कितना हुआ भारतीय कंपनियों पर असर

एक रिसर्च के अनुसार कोरोनोवायरस के कहर की वजह से लगभग 50 फीसदी से अधिक भारतीय कंपनियों के काम करने के प्रोसेस पर फर्क पड़ा है. वहीं 80 फीसदी कंपनियों का कैश फ्लो में गिरावट देखी गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 20, 2020, 6:04 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. एक रिसर्च के अनुसार कोरोनोवायरस (Corona Virus) के कहर की वजह से लगभग 50 फीसदी से अधिक भारतीय कंपनियों के काम करने के प्रोसेस पर फर्क पड़ा है. वहीं 80 फीसदी कंपनियों का कैश फ्लो में गिरावट देखी गई है. फिक्की (FICCI) द्वारा की गई रिपोर्ट के अनुसार, महामारी ने देश की अर्थव्यवस्था के लिए नई चुनौतियां पेश की हैं, जो डिमांड और सप्लाई दोनों चीजों पर बुरा प्रभाव डालती है. देश पहले ही मंदी का सामना कर रहा है. चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में, अर्थव्यवस्था 4.7 फीसदी की दर से बढ़ी, जो छह साल में सबसे धीमी थी.

ये भी पढ़ें: कोरोना के कारण दुनिया के 2.5 करोड़ लोगों की नौकरियों पर मंडरा रहा है खतरा

फेडरेशन ऑफ इंडियन चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (फिक्की) ने कहा कि 53 फीसदी भारतीय कारोबार पर कोरोनोवायरस महामारी का प्रभाव पड़ा है. फिक्की ने कहा कि व्यवसायों और लोगों को संकट से निपटने में मदद करने के लिए मौद्रिक, राजकोषीय और वित्तीय बाजार उपायों को मिलाने की आवश्यकता है. इसके साथ ही भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) को इस नीति पर भारतीय उद्योग और अर्थव्यवस्था को समर्थन करने की जरूरत है.

ये भी पढ़ें: जल्द बदलेगा बैंकों के खुलने और बंद होने का समय, सरकार की तैयारी पूरी



कोरोना से लड़ने के लिए मोदी ने भी बनाई इकॉनमिक टास्क फोर्स
कोरोना वायरस से देश की अर्थव्यवस्था (Economic Response Task Force) को बचाने के लिए नई टास्क फोर्स का गठन किया जाएगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister of India) ने देश के नाम संबोधन में इसके बारे में बताया. उन्होंने कहा कोरोना महामारी से उत्पन्न हो रही आर्थिक चुनौतियों को ध्यान में रखते हुए, वित्त मंत्री के नेतृत्व में सरकार ने एक कोविड-19- इकोनॉमिक रिस्पॉन्स टास्क फोर्स (Economic Response Task Force) के गठन का फैसला लिया है. पीएम मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने कहा कि हाई इनकम वालों को अपने यहां काम करने वालों का ध्यान रखना चाहिए. अगर वो कोरोना वायरस के चलते काम पर नहीं आते हैं तो उनकी सैलरी नहीं काटें. उनको भी अपना घर चलाना होता है. इसलिए उनका खास ध्यान रखें. कोरोना से लड़ने में आप भी सहभागी बनें.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 20, 2020, 1:10 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर