Home /News /business /

fii selling continues in june rs 50203 crore removed indian equities highest after march 2022 rrmb

विदेशी निवेशकों की निकासी जारी, जून में FII ने ₹50,203 करोड़ शेयर बाजार से निकाले

एक्सपर्ट्स का कहना है कि विदेशी निवेशकों विदेशी निवेशकों की तरफ से जल्द बिकवाली रुकने वाली नहीं है.

एक्सपर्ट्स का कहना है कि विदेशी निवेशकों विदेशी निवेशकों की तरफ से जल्द बिकवाली रुकने वाली नहीं है.

बाजार के जानकारों का कहना है कि केंद्रीय बैंकों द्वारा अपनी मौद्रिक नीतियों को संख्‍त करने, भूराजनीतिक तनाव और वैश्विक अर्थव्‍यवस्‍था में मंदी की आशंकाओं के कारण विदेशी संस्‍थागत निवेशक (FII) भारतीय शेयर बाजारों (Stock Market) पैसा निकाल रहे हैं.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्‍ली. विदेशी निवेशकों का भारतीय शेयर बाजारों (Stock Markets) से पैसे निकालना जारी है. जून महीने में इस विदेशी संस्‍थागत निवेशकों (FII) ने शेयर बाजार से रिकॉर्ड 50,203 करोड़ रुपये निकाले हैं. विदेशी निवेशकों की तरफ से जून में शेयर बाजारों से निकाली गई यह अब तक की सबसे बड़ी राशि है. विदेशी निवेशकों की इस अंधाधुंध बिकवाली के चलते भारतीय शेयर बाजार अपने ऑल-टाइम हाई से करीब 15 फीसदी नीचे आ गए हैं. शुक्रवार एक जुलाई को सेंसेक्स में 111.01 अंकों गिरावट के साथ 52,907.93 के स्तर पर और निफ्टी 28.20 अंक टूटकर 15,752.05 के स्तर पर बंद हुआ है.

बाजार जानकारों का कहना है कि केंद्रीय बैंकों द्वारा अपनी मौद्रिक नीतियों को संख्‍त करने, भूराजनीतिक तनाव और वैश्विक अर्थव्‍यवस्‍था में मंदी की आशंकाओं के कारण विदेशी निवेशक भारतीय शेयर बाजारों पैसा निकाल रहे हैं. विदेशी निवेशकों ने भारतीय शेयर बाजार से मौजूदा वित्त वर्ष की पहली तिमाही यानी अप्रैल से जून में करीब 1.07 लाख करोड़ रुपये की बिकवाली की है.

ये भी पढ़ें-   Share Market: सेंसेक्स 111 अंक टूटा, 15,750 के करीब बंद हुआ निफ्टी

लगातार बिकवाली
मनीकंट्रोल डॉट कॉम की एक रिपोर्ट के अनुसार, मई में विदेशी निवेशकों ने 39,993 करोड़ रुपये और अप्रैल में 17,144 करोड़ रुपये इक्विटी मार्केट से निकाले थे. पहले विदेशी निवेशकों ने ब्याज दरों में बढ़ोतरी और अमेरिकी सेंट्रल बैंक की तरफ से लिक्विडिटी पर लगाम लगाने की आशंका से बिकवाली शुरू की. फिर रूस ने यूक्रेन पर आक्रमण कर दिया, जिससे ग्लोबल लेवल पर महंगाई सहित कई आर्थिक चुनौतियां शुरू हो गई. इस कारण विदेशी निवेशकों ने भारतीय बाजार से पैसा निकालना जारी रखा.

गिरते बाजार में भी भागा ITC का स्‍टॉक, आज रही 4% तेजी, जानिए ब्रोकरेज की राय

क्‍या बदलेगा ये ट्रेंड?
एक्सपर्ट्स का कहना है कि विदेशी निवेशकों विदेशी निवेशकों की तरफ से जल्द बिकवाली रुकने वाली नहीं है. ग्रीन पोर्टफोलियो के फाउंडर दिवाम शर्मा ने का कहना है कि तीसरी तिमाही से हमें विदेशी निवेशकों की बिकवाली थमने का अनुमान है. ऐसा इसलिए महंगाई अपने शिखर पर पहुंचना शुरू हो गई है.खाद्य पदार्थों और मेटल की कीमतों में हाल में गिरावट देखी गई है. चीन ने भी अपने यहां इंडस्ट्रीज और मैन्युफैक्चरिंग यूनिट्स को दोबारा काम शुरू करने की अनुमति दे दी है. ऐसे में आर्थिक गतिविधियां बढ़ने का अनुमान है.

Tags: Share market, Stock market

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर