अब SMS के जरिये फाइल करें Nil ​GST Return, CBIC ने बताया पूरा प्रोसेस

अब SMS के जरिये फाइल करें Nil ​GST Return, CBIC ने बताया पूरा प्रोसेस
निल जीएसटी एसएमएस के जरिये भी फाइल किया जा सकता है.

केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर बोर्ड एवं सीमा शुल्क बोर्ड (CBIC) ने शनिवार को जानकारी दी कि 'निल' रिटर्न (NIL GST Return) दाखिल करने के लिए SMS की सुविधा ली जा सकेगी. केंद्र सरकार इसे जुलाई के पहले सप्ताह से शुरू कर देगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 27, 2020, 10:57 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. माल एवं सेवा कर GST) का ‘निल’ रिटर्न (NIL GST Return) दायर करने वाले करदाता जुलाई के पहले सप्ताह से SMS के माध्यम से बिक्री का मासिक व तिमाही विवरण GSTR-1’ भेज सकेंगे. केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर व सीमा शुल्क बोर्ड (CBIC) ने इसकी जानकारी दी. सीबीआईसी ने एक बयान में बताया कि इस कदम से 12 लाख से अधिक पंजीकृत करदाताओं के लिये जीएसटी अनुपालन (GST Compliance) सरल हो जायेगा.

क्या है मौजूदा सिस्टम?
अभी इन करदाताओं को हर महीने या हर तिमाही में साझा पोर्टल पर अपने खाते में लॉग इन करना पड़ता है और इसके बाद बिक्री विवरण फॉर्म ‘जीएसटी रिटर्न-1’ दायर करना पड़ता है. सीबीआईसी ने कहा कि जीएसटीआर-1 दायर करने को इच्छुक करदाताओं को एसएमएस सुविधा शुरू करने के लिये 14409 पर एसएमएस भेजना होगा.


CBIC ने कहा कि इस तरीके से दायर किये गये विवरण को उनके पंजीकृत मोबाइल नंबर पर ‘वन टाइम पासवर्ड (ओटीपी)’ भेजकर सत्यापित किया जा सकेगा. बता दें कि 8 जून 2020 से ही निल GSTR 3-B दाखिल करने की सुविधा दी गई है. ऐसे में जिन टैक्सपेयर्स को निल जीएसटी फॉर्म भरना है, वो एसएमएस सुविधा का लाभ ले सकेंगे.



यह भी पढ़ें: महंगाई की मार पड़नी शुरू, डीज़ल के बढ़ते दाम ने फल और सब्जी के भाव में लगाई आग

क्या है एसएमएस भेजने की प्रक्रिया?
अगर आप एसएमएस के जरिए निल टैक्स रिटर्न दाखिल करना चाहते हैं तो आपको NIL<space>R1<space>GSTN Number<space>Tax Period (MMYYYY) टाइप कर 14409 पर भेजना होगा. उदाहरण के तौर पर NIL R1 09XXXXXXXXXXXXZC 042020 टाइप कर इसे 14409 पर भेजना होगा. इसमें 042020 अप्रैल 2020 महीने की रिटर्न का दर्शाता है.

इसके बाद 30 मिनट की वैलिडिटी के साथ रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर एक OTP भेजा जाएगा. निल स्टेटमेंट फाइल करने के लिए आपको CNF<space>R1<space>CODE को ​14409 पर भेजना होगा. इस कोड के सत्यापन के बाद टैक्सपेयर को रिटर्न फाइल होने की जानकारी दी जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज