वित्त मंत्री ने दिए संकेत, 15% तय हो सकता है GST का स्टैंडर्ड रेट

वित्त मंत्री के मुताबिक, आगे चलकर GST में दो के बजाए एक स्टैंडर्ड रेट तय हो सकता है. अभी दो स्टैंडर्ड रेट 12 फीसदी और 18 फीसदी हैं.

News18Hindi
Updated: December 24, 2018, 3:29 PM IST
News18Hindi
Updated: December 24, 2018, 3:29 PM IST
(लक्ष्मण रॉय)

गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स (GST) के 18 महीने पूरे होने पर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि 28% GST का दौर खत्म हो रहा है. भविष्य में जीएसटी के सिंगल स्टैंडर्ड रेट पर काम होगा. वित्त मंत्री के मुताबिक, आगे चलकर GST में दो के बजाए एक स्टैंडर्ड रेट तय हो सकता है. अभी दो स्टैंडर्ड रेट 12 फीसदी और 18 फीसदी हैं. बतौर वित्त मंत्री वह स्टैंडर्ड रेट 12 फीसदी और 18 फीसदी के बीच होगा. यानी 15 फीसदी GST का स्टैंडर्ड रेट तय हो सकता है.

अभी कई सामानों पर जहां 18 फीसदी GST लगता है, वह घटकर 15 फीसदी पर आ जाएगा. कुछ सामान जिसपर 12 फीसदी GST लगता है वह बढ़कर 15 फीसदी हो जाएगा. अभी कुल मिलाकर 178 आइटम्स हैं जिसपर 12 फीसदी जीएसटी लगता है और 517 आइटम्स हैं जहां पर 18 फीसदी जीएसटी लगता है.

ये भी पढ़ें: नए साल में सस्‍ते हो जाएंगे मकान के दाम, मोदी सरकार करने जा रही है बड़ा ऐलान

ये भी पढ़ें: नए साल में शॉपिंग से पहले देख लें ये लिस्ट, सस्ते हो गये प्रोडक्ट्स

वित्त मंत्री ने कहा कि आगे चलकर जीरो फीसदी, 5 फीसदी, स्टैंडर्ड रेट और लग्जरी गुड्स रहेंगे. मतलब जो जीएसटी के रेट के स्लैब हैं वो काफी कम हो जाएंगे. हालांकि विपक्ष की सिंगल रेट की मांग को वित्त मंत्री ने सिरे से खारिज किया है.

(पॉलिटिकल-इकोनॉमिक एडिटर- सीएनबीसी आवाज़)
First published: December 24, 2018, 3:15 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...