लाइव टीवी

नए साल का तोहफा: अगले 5 साल में 102 लाख करोड़ के इंफ्रा प्रोजेक्ट पूरे करेगी सरकार

News18Hindi
Updated: December 31, 2019, 5:29 PM IST

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि करीब एनआईपी के अंतर्गत करीब 25 लाख करोड़ रुपये के एनर्जी प्रोजेक्ट्स, करीब 20 लाख करोड़ रुपये के रोड और करीब 14 लाख करोड़ रुपये के रेलवे प्रोजेक्ट्स शामिल हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 31, 2019, 5:29 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. वित्त मंत्री (Finance Minister) निर्मला सीतारमण ने इस साल के आखिरी प्रेस कॉन्फ्रेंस में 102 लाख करोड़ रुपये के नेशनल इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट्स (NIP) की घोषणा की. वित्त मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने स्वतंत्रता दिवस पर दिये अपने भाषण में ढांचागत क्षेत्र की परियोजनाओं में 100 लाख करोड़ रुपये के निवेश के बारे में कहा था. इससे 2025 तक भारत को 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने में मदद मिलेगी.

वित्त मंत्री ने कहा कि नतीजे पर पहुंचने से पहले करीब 70  स्टेकहोल्डर्स के साथ से चर्चा की गई और इन प्रोजेक्ट्स को फाइनल किया गया है. बीते 4 महीनों में 70 बैठकें हुईं, जिनमें 105 लाख करोड़ रुपये के इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रॉजेक्ट्स पर चर्चा हुई.

6 साल में 51 लाख करोड़ रुपये हुए खर्च
निर्मला सीतारमण ने बताया कि पिछले 6 वर्षों में इंफ्रास्ट्रक्चर पर 51 लाख करोड़ रुपये खर्च हुए हैं जो जीडीपी का 5-6 फीसदी है. इसमें केंद्र सरकार और राज्य सरकार का योगदान है. यह भी पढ़ें: इस बैंक के ग्राहकों ने आज जमा नहीं किए ये पेपर तो 1 Jan को फ्रीज हो जाएगा खाता

nip

वित्त मंत्री के मुताबिक, NIP के तहत करीब 25 लाख करोड़ रुपये एनर्जी प्रोजेक्ट पर, 20 लाख करोड़ रुपये सड़क और करीब 14 लाख करोड़ रुपये रेलवे प्रोजेक्ट के लिए तय किए गए हैं. इसमें प्राइवेट सेक्टर का निवेश 22-25 फीसदी होगा. बाकी निवेश एनआईपी इन्वेस्टमेंट, केंद्र और राज्य सरकार करेगी. वित्त मंत्री ने कहा कि पावर, रेलवे, शहरी सिंचाई, मोबिलिटी, शिक्षा और सेहत पर खर्च होगा.

साल 2020 के मध्य में सरकार ग्लोबल इन्वेस्टर्स मीट का आयोजना करेगी. इससे कारोबारियों को वैश्विक माहौल में कारोबार करने की सहूलियत मिलेगी.


किस प्रोजेक्ट पर कितना होगा खर्च
सीतारमण ने कहा कि 2.5 लाख करोड़ रुपये पोर्ट और एयरपोर्ट प्रोजेक्ट्स पर, 3.2 लाख करोड़ रुपये आइटेंडिफाइड डिजिटल इफ्रा प्रोजेक्ट्स पर, 16 लाख करोड़ रुपये सिंचाई, ग्रामीण, एग्री व फूड प्रोसेसिंग प्रोजेक्ट्स और 16 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा इंफ्रा प्रोजेक्ट (इसमें मोबिलिटी प्रोजेक्ट शामिल हैं) पर खर्च होंगे.

ये भी पढ़ें:

1 जनवरी 2020 से बदल जाएंगे ये 10 नियम, आम आदमी पर होगा सीधा असर
आज ही सबसे पहले निपटाएं ये 4 काम, नहीं तो होगी बड़ी परेशानी, ये है वजह
SBI ने ग्राहकों को दिया नए साल का तोहफा, 1 जनवरी से 7.90% ब्याज दर पर मिलेगा होम लोन
PPF, सुकन्या, NSC में पैसा लगाने वालों के लिए बड़ी खबर! सरकार के इस फैसले से होगा मुनाफे पर असर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 31, 2019, 2:02 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर