लाइव टीवी

सरकार द्वारा उठाये गए कदमों के कारण अर्थव्यवस्था आगे बढ़ रही है- वित्त मंत्री

भाषा
Updated: February 11, 2020, 5:45 PM IST
सरकार द्वारा उठाये गए कदमों के कारण अर्थव्यवस्था आगे बढ़ रही है- वित्त मंत्री
आर्थिक क्षेत्र में शुरुआती उछाल दिखाई दे रहा

लोकसभा में 2020-2021 के केंद्रीय बजट (Union Budget) पर हुई चर्चा का जवाब देते हुए सीतारमण ने कहा, 'मुद्रास्फीति औसतन 4.8 प्रतिशत रही है, फैक्टरी उत्पादन बढ़ा है, एफडीआई और विदेशी मुद्रा भंडार बढ़ा है, जीएसटी राजस्व संग्रह बढ़ा है और यह पिछली तिमाही में हर महीने एक लाख करोड़ रुपये से अधिक ही रहा है.'

  • Share this:
नई दिल्ली. वित्त मंत्री (Finance Minister) निर्मला सीतारमण ने अर्थव्यवस्था (Economy) के संकट में होने के विपक्ष के आरोपों को सिरे से खारिज किया है. निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को लोकसभा (Lok Sabha) में कहा कि सरकार द्वारा उठाये गए स्पष्ट कदमों के कारण अर्थव्यवस्था आगे बढ़ रही है और आर्थिक क्षेत्र में शुरुआती उछाल दिखाई दे रहा है. लोकसभा में 2020-2021 के केंद्रीय बजट पर हुई चर्चा का जवाब देते हुए सीतारमण ने कहा, 'मुद्रास्फीति औसतन 4.8 प्रतिशत रही है, फैक्टरी उत्पादन बढ़ा है, प्रत्यक्ष विदेशी निवेश और विदेशी मुद्रा भंडार बढ़ा है, जीएसटी राजस्व संग्रह बढ़ा है और यह पिछली तिमाही में हर महीने एक लाख करोड़ रुपये से अधिक ही रहा है. आर्थिक क्षेत्र के हर मानदंडों पर अर्थव्यवस्था आगे बढ़ रही है.'

प्रबंधन कुशल डाक्टरों के हाथ में
वित्त मंत्री ने कहा, 'अर्थव्यवस्था संकट में नहीं है. सरकार द्वारा उठाये गए स्पष्ट कदमों के कारण अर्थव्यवस्था आगे बढ़ रही है और आर्थिक क्षेत्र में शुरुआती उछाल दिखाई दे रहा है. लेकिन विपक्ष इसे स्वीकार करने को तैयार नहीं है.' उन्होंने कहा कि सरकार ने आर्थिक क्षेत्र को गति प्रदान करने के लिए चार इंजनों पर काम को आगे बढ़ाया है जिसमें निजी उपभोग को बढ़ाना, सार्वजनिक एवं निजी निवेश बढ़ाना तथा निर्यात बढ़ाना शामिल है. सीतारमण ने कहा, 'अर्थव्यवस्था का प्रबंधन काफी सक्षम डॉक्टरों की देख-रेख में हो रहा है.'

ये भी पढ़ें: 14 करोड़ किसानों के लिए बड़ी खबर! 6000 रु वाली पीएम-किसान के साथ अब मिलेंगे लाखों रुपये के तीन फायदे



सरकार 1 लाख करोड़ रुपये करेगी निवेश
बजट चर्चा का जवाब दे रहीं वित्त मंत्री ने राष्ट्रीय आधारभूत पाइपलाइन परियोजना का जिक्र करते हुए कहा कि सरकार आधारभूत ढांचे के विकास के लिए 2024-25 तक एक लाख करोड़ रुपये से अधिक राशि निवेश करेगी. उन्होंने कहा कि सरकार ने सार्वजनिक एवं निजी निवेश को बढ़ावा देने के लिए पर्याप्त कदम उठाए हैं, साथ ही उपभोग बढ़ाने की दिशा में भी पहल की है. उन्होंने कहा कि कारोबारियों और एमएसएमई क्षेत्र सहित सभी पक्षकारों से चर्चा चल रही है और सभी आवश्यक कदम उठाए जा रहे हैं ताकि हर सेक्टर पर पर्याप्त ध्यान दिया जा सके.ये भी पढ़ें: ATM मशीन में अटक गया है डेबिट कार्ड, वापस पाने का है ये आसान तरीका



सीतारमण ने कहा कि उपभोग बढ़ाने के लिए 2019-20 में सभी निर्धारित रबी और खरीफ फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य (Minimum Support Price) बढ़ाया गया है. रोजगार वृद्धि की दिशा में सरकार के कदमों का जिक्र करते हुए वित्त मंत्री ने प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना, प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना, दीनदयाल अंत्योदय योजना, दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना के तहत रोजगार के आंकड़ों का उल्लेख किया.

ये भी पढ़ें:-

1 अप्रैल से बदलेगा इन 3 बैंकों का नाम, जानिए आपके खाते और पैसे का क्या होगा?
इन बैंकों में FD कराने पर सबसे फास्ट होगा आपका पैसा डबल, 9% ब्याज पाने का मौका

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 11, 2020, 5:20 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर